अब बनास में आएगा उफान : बीसलपुर बांध को लेकर बड़ा अपडेट, आखिर छलक गया बांध, खोले गए गेट

बीसलपुर बांध में पानी की आवक के साथ ही बांध का गेज शुक्रवार सुबह 315.50 आरएल मीटर पहुंच गया। जिसके बाद प्रशासन ने बांध के गेट खोल दिए और पानी की निकासी शुरू कर दी।

बीसलपुर बांध को लेकर बड़ा अपडेट, आखिर छलक गया बांध, खोले गए गेट

जयपुर | Bisalpur Dam Gates Opened today: राजस्थान में मानसून की दस्तक के साथ ही हो रही लगातार झमाझम बारिश को देखते हुए इस बार तीन जिलों को पानी पिलाने वाले बीसलपुर बांध के पूरी तरह से भरने की संभावनाएं भी जाग उठी थी। जिसका काफी दिनों से सभी को इंतजार था और ये इंतजार आज खत्म हो गया है। मानसून की मेहरबानी के चलते बीसलपुर बांध पूर्ण रूप से लबालब हो गया है और इसके गेट खोल दिए गए है। इसके पानी का निकास अब बनास नदी में किया जा रहा है।

गेट खोलने से पूर्व पूजा-अर्चना की गई
जानकारी के मुताबिक, बीसलपुर बांध में पानी की आवक के साथ ही बांध का गेज शुक्रवार सुबह 315.50 आरएल मीटर पहुंच गया। जिसके बाद प्रशासन ने बांध के गेट खोल दिए और पानी की निकासी शुरू कर दी। इससे पहले जिला कलक्टर चिन्मयी गोपाल एवं अन्य अधिकारी मौके पर पहुंचे और गेट खोलने से पूर्व पूजा-अर्चना की गई।

ये भी पढ़ें:- राजस्थान - छात्र आज चुन रहे अपनी सरकार, मतदान शुरू, विद्यार्थी मतदाताओं को लाने-ले जाने के लिए लगाए गए ई रिक्शा

अबतक छः बार खोले जा चुके हैं बांध के गेट
आपको बता दें कि, पिछले कई दिनों से बीसलपुर बांध के कैचमेंट एरिया में हो रही लागातार भारी बारिश की बदौलत बांध में पानी की आवक बनी हुई थी। ये छटवां मौका है जब बीसलपुर बांध के गेट खोले गए हैं। इससे पहले बीसलपुर बांध बनने के बाद पांच बार 2004, 2006, 2014, 2016 व 2019 में पूर्ण जलभराव होने पर इसके गेट खोले गए थे और बनास नदी में पानी की निकासी की गई थी। गौरतलब है कि, बीसलपुर बांध वर्तमान में राजस्थान की करीब एक करोड़ की आबादी को अपना पानी पिला रहा है। बांध से हर रोज जयपुर, अजमेर और टोंक जिले के लोगों पीने के पानी की जलापूर्ति होती है। 

ऐसा रहा बीसलपुर बांध से जयपुर तक पानी पहुंचने का सफर
आपको बता दें कि, राजस्थान में बने बीसलपुर बांध का निर्माण 1990 के दशक में राजस्थान राज्य सरकार द्वारा किया गया था। इसके निर्माण के बाद अक्टूबर 1999 में, अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने बीसलपुर बांध के पानी को राजधानी जयपुर में लाने के लिए एक परियोजना को मंजूरी दी थी, लेकिन वित्तीय कारणों के चलते परियोजना को लागू नहीं किया जा सका। इसके बाद 2004 में वसुंधरा राजे के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार ने बीसलपुर बांध के पानी को जयपुर लाने के लिए एक पाइपलाइन का निर्माण शुरू किया। इस परियोजना को एशियाई विकास बैंक और जापान अंतर्राष्ट्रीय सहयोग एजेंसी द्वारा सह-वित्तपोषित किया गया था। जिसके बाद किसानों के भारी विरोध और आंदोलनों के बावजूद बीसलपुर का पानी साल 2009 में जयपुर पहुंच ही गया। 

ये भी पढ़ें:- Bank Holiday List: सितंबर में बैंकों में रहेगा 13 दिन का अवकाश, बैंक जाने से पहले जरूर जान लें छुट्टियों की लिस्ट

Must Read: गहलोत सरकार ने 3 पार्षदों को किया बर्खास्त, 6 साल तक चुनाव लड़ने पर प्रतिबंध

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :