गरीब बच्चों में भरी पाॅजिटिविटी और खुशी: अर्चना बनी धारावी के छत्रपति शिवाजी विद्यालय के 200 ग़रीब बच्चों की हेल्पिंग हैण्ड

बच्चों के बीच इस तरह स्कूल में आकर बचपन की यादें ताज़ा हो गई। यहां हम लोगों की थोड़ी सी कोशिश की वजह से मासूमों के चेहरे पर मुस्कान खिल गई, तो दिल को एक राहत का एहसास हुआ।

अर्चना बनी धारावी के छत्रपति शिवाजी विद्यालय के 200 ग़रीब बच्चों की हेल्पिंग हैण्ड

सिरोही। अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार दिवस हर साल पूरी दुनिया में 10 दिसंबर को मनाया जाता है। इस स्पेशल अवसर पर फ्लोरियन फाउंडेशन की अर्चना जैन ने मुम्बई के धारावी स्थित छत्रपति शिवाजी विद्यालय के 200 से अधिक ग़रीब बच्चों को स्कूल किट वितरित किए। यह किट्स पाकर बच्चों के चेहरे पर प्यारी सी मुस्कान खिल उठी। इस मौके पर एक्ट्रेस और इंफ्लुएंसर निहारिका रायज़ादा, एकता जैन, सायन पुलिस स्टेशन के सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर मनोज हिर्लेकर, राबिया पटेल मौजूद थे। सभी के हाथों बच्चों को स्कूल किट्स बांटे गए। नज़ारा टेक्नोलॉजी लिमिटेड के विकास मित्रसेन ने भी अर्चना जैन की इस पहल को सपोर्ट किया।

निहारिका रायज़ादा ने यहां बच्चों के साथ काफी समय बिताया, बच्चों ने उनकी बातों को बेहद ध्यान से सुना, उनके साथ तस्वीरें खिंचवाई। निहारिका ने कहा कि बच्चों के बीच आना उन्हें हमेशा सुकून देने वाला लम्हा लगता है। वह इतने मासूम होते हैं, उनकी बातें इतनी प्यारी होती हैं कि दिल खुश हो जाता है। अर्चना जैन जिस तरह फ्लोरियन फाउंडेशन के जरिए बच्चों की मदद कर रही हैं, वे उनकी इस पहल से इम्प्रेस है। उन्हें यहां आकर अपने बचपन के दिन याद आ गए जब वे कानपुर में थी। निहारिका ने बताया कि इस तरह के और लोगों को आगे आना चाहिए और ज़रूरतमंदों की मदद करनी चाहिए। समाज सेवा और चैरिटी हमारे जीवन का बहुत ही महत्वपूर्ण फैक्टर है।

अर्चना जैन ने बताया कि छत्रपति शिवाजी विद्यालय के लिए इस तरह के प्रोजेक्ट्स हम काफी समय से करते आ रहे है। इनके प्रिंसिपल ने बताया कि स्कूल खुल गए हैं और 600 बच्चों के किट्स की ज़रूरत है। हमने कोशिश की और 200 स्कूली बच्चों के लिए किट्स वितरित किए। आगे और भी करेंगे। पाॅजिटिविटी और खुशी बांटने के लिए हमने स्कूल स्टेशनरी किट्स डोनेट किए। इस प्रोजेक्ट में हमारा सपोर्ट निहारिका रायज़ादा, एकता जैन, विकास मित्रसेन ने किया। वे यहां बच्चों के बीच आकर, उनकी हंसी सुनकर बेहद खुश है। अर्चना जैन ने कहा कि जहां चाह होती है वहां राह निकल जाती है। जीवन में आप जो चाहें पा सकते हैं केवल आपकी दिशा क्लियर होनी चाहिए और अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए दिल और नियत का साफ होना ज़रूरी है। उनकी दूसरी किताब अनबॉक्सिंग ब्यूटी को बहुत ही शानदार रेस्पॉन्स मिल रहा है।

एक्ट्रेस और समाजसेविका एकता जैन ने कहा कि बच्चों के बीच इस तरह स्कूल में आकर बचपन की यादें ताज़ा हो गई। यहां हम लोगों की थोड़ी सी कोशिश की वजह से मासूमों के चेहरे पर मुस्कान खिल गई, तो दिल को एक राहत का एहसास हुआ।

Must Read: चंद रुपयों के लालच में खतरे में डाली जा रही कुंभलगढ़ की जैव विविधता

पढें राज्य खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :