उत्तर पश्चिम रेलवे: अजमेर रेलवे मंडल का मेवाड़ हॉस्पीटल उदयपुर व महावीर हॉस्पिटल आबू रोड से अनुबंध 

इस अनुबंध के अनुसार उदयपुर, मावली, डूंगरपुर, आबूरोड़, सिरोही, अजमेर व भीलवाड़ा के रेल कर्मचारियों अधिकारियों और उनके अश्रितों को मेवाड़ हॉस्पीटल में उत्कृष्ट चिकित्सा सुविधाए मिल सकेंगी।

अजमेर रेलवे मंडल का मेवाड़ हॉस्पीटल उदयपुर व महावीर हॉस्पिटल आबू रोड से अनुबंध 

Aburoad | रेलवे कर्मचारियों और अधिकारियों को सर्वोत्तम चिकित्सा सुविधाएं उपलब्ध कराने हेतु उत्तर पश्चिम रेलवे, अजमेर मंडल ने मेवाड़ हॉस्पीटल , उदयपुर व महावीर हॉस्पिटल आबूरोड़  से अनुबंध किया है। दो अन्य हॉस्पिटल-  रामस्नेही हॉस्पिटल भीलवाड़ा व पारस जे के हॉस्पिटल उदयपुर से भी अनुबंध  शीघ्र ही हो जाएगा।

शनिवार को मुख्य चिकित्सा अधीक्षक अजमेर मंडल डॉ पी.सी. मीणा एवं मेवाड़ हॉस्पीटल के वरिष्ठ प्रबंधक राम किशन जी द्वारा एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए । इस अनुबंध के अनुसार उदयपुर, मावली, डूंगरपुर, आबूरोड़, सिरोही, अजमेर व भीलवाड़ा के रेल कर्मचारियों अधिकारियों और उनके अश्रितों को मेवाड़ हॉस्पीटल में उत्कृष्ट चिकित्सा सुविधाए मिल सकेंगी।

यहां तक कि सेवानिवृत अधिकारी, स्टाफ और उनका परिवार भी सुविधाओं का लाभ ले सकेंगे। यह अनुबंध दो साल तक के लिये किया गया है जिससे रेल कर्मचारियों को कैशलेस इलाज मिलेगा। इस एमओयू के तहत रेलवे कर्मचारियों को सुपर स्पेशलिटी सेवाएं उपलब्ध कराई जांएगी। टोमा केयर ऑर्थोपेडिक सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, स्पाईन सर्जरी, मेडिकल मेनेजमेंन्ट, जनरल सर्जरी, आईसीयू सुविधाएं, आपातकाल सर्जरी एवं उपचार सेवाएं तथा एम. आर.आई, सिटी स्केन  जैसी सुविधाएं मुख्य तौर पर शामिल है।

इसी प्रकार का एमओयू महावीर हॉस्पिटल आबूरोड के लिए भी शनिवार को किया गया है।

उल्लेखनीय है कि मंडल रेल प्रबंधक श्री नवीन कुमार परसुरामका द्वारा अजमेर के सेवारत व सेवानिवृत्त रेल कर्मचारियों व अधिकारियों और उनके परिजनों की चिकित्सा सुविधा को ध्यान में  रखते हुए मंडल क्षेत्र के 4 हॉस्पिटल - मेवाड़ हॉस्पिटल उदयपुर, महावीर हॉस्पिटल आबू रोड, रामस्नेही हॉस्पिटल भीलवाड़ा तथा पारस जे के हॉस्पिटल उदयपुर  हेतु स्वीकृति प्रदान की ।

मेवाड़ व महावीर हॉस्पिटल के एम ओ यू के पश्चात अब शीघ्र ही रामस्नेही हॉस्पिटल भीलवाड़ा और पारस जे के हॉस्पिटल  उदयपुर के साथ भी एम ओ यू (अनुबंध) होने की संभावना है।

Must Read: सिरोही में चाकूबाजी के 15 दिन बाद इलाज के दौरान घायल ने तोड़ा दम, पुलिस का दावा 5 दिन में गिरफ्तार कर लेंगे आरोपी, सवाल: 15 दिन में क्यों नहीं हुई गिरफ्तारी

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :