India ओमिक्रॉन से 2 संक्रमितों की मौत: Maharashtra के बाद अब Rajasthan के उदयपुर में ओमिक्रॉन से संक्रमित व्यक्ति की मौत, 7 दिन पहले कोरोना नेगेटिव आ चुकी थी रिपोर्ट

महाराष्ट्र के बाद अब राजस्थान में भी ओमिक्रॉन संक्रमित व्यक्ति की मौत हो गई। चिकित्सा विभाग के मुताबिक उदयपुर में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित 73 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई।

Maharashtra के बाद अब  Rajasthan के उदयपुर में ओमिक्रॉन से संक्रमित व्यक्ति की मौत, 7 दिन पहले कोरोना नेगेटिव आ चुकी थी रिपोर्ट


नई दिल्ली, एजेंसी। 
देश में कोरोना लगातार बढ़ता जा रहा है। अब हालात चिंताजनक हो रहे है। महाराष्ट्र के बाद अब राजस्थान में भी ओमिक्रॉन संक्रमित व्यक्ति की मौत हो गई। 
चिकित्सा विभाग के मुताबिक उदयपुर में कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन से संक्रमित 73 साल के बुजुर्ग की मौत हो गई।
 ऐसा बताया जा रहा है कि संभवत: देश की यह दूसरी ओमिक्रॉन संक्रमित व्यक्ति की मौत है। 
उदयपुर सीएमएचओ डॉ. दिनेश खराड़ी के मुताबिक मौत पोस्ट कोविड निमोनिया से हुई है। 
बुजुर्ग व्यक्ति की कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं मिली थी। इसके साथ ही वह व्यक्ति 21 और 22 दिसंबर को जांच में नेगेटिव आया था, लेकिन 25 दिसंबर को उनकी रिपोर्ट में ओमिक्रॉन संक्रमण की पुष्टि हो गई।
सीएमएचओ के मुताबिक बुजुर्ग व्यक्ति को डायबिटीज, हायपरटेंशन और हाइपोथॉइरोडिज्म था। 
इस लिए वायरस का प्रभाव ज्यादा रहा। अमूमन देखा गया कि डायबिटीज जैसी बीमारी है तो उनका रिस्क काफी बढ़ सा गया। स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक ओमिक्रॉन के राजस्थान में अब तक 69 मरीज सामने आ चुके हैं। 
ऐसे में राजस्थान देश में पांचवें नंबर पर है। उदयपुर में ओमिक्रॉन संक्र​मण के 4 केस सामने आए थे। 27 दिसंबर को ही उदयपुर में तीन केस  ओमिक्रॉन के आए थे।


चिकित्सकों के  मुताबिक बुजुर्ग व्यक्ति 15 दिसंबर से उदयपुर के एमबी अस्पताल में भीर्ती था। यहां उनका डायबिटीज, हायपरटेंशन और हाइपोथॉइरोडिज्म का इलाज चल रहा था।  
मृतक बुजुर्ग एमबी अस्पताल में ही कंपाउंडर रहे चुके थे। आपको बता दें कि इससे पहले गुरुवार को महाराष्ट्र में देश की पहले ओमिक्रॉन संक्रमित व्यक्ति की मौत हो गई थी। 
52 वर्षीय वह व्यक्ति दो सप्ताह पहले ही नाइजीरिया से लौटा था। उसका कोविड टेस्ट भी करवाया गया था, जो नेगेटिव आया था। 
28 दिसंबर को इन्हें हार्ट अटैक आया, तो अस्पताल में भर्ती किया गया। इस दौरान जांच में जीनोम सी​क्वेंसिंग सैंपल लिए गए तो वह ओमिक्रॉन पॉजिटिव आ गया था। 

Must Read: रालसा ने जेल, विमंदित बाल गृहों, बाल गृहों, नारी निकेतन, वन स्टॉप सेन्टर, रैन बसेरों के नियमित निरीक्षण के दिए निर्देश

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :