सिरोही ​मेडिकल कॉलेज के कार्यादेश 30 तक: राज्य सरकार ने सिरोही मेडिकल कॉलेज के निर्माण कार्य जल्द शुरू करने के दिए निर्देश, 30 अप्रेल तक जारी हो सकता है कार्यादेश

राजस्थान देश के उन अग्रणी राज्यों में शामिल होने जा रहा है जहां लगभग प्रत्येक जिला मुख्यालय पर मेडिकल कॉलेज होगा। राज्य में सिरोही सहित 14 नए मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कार्य जल्द शुरू हो जाएगा।

राज्य सरकार ने सिरोही मेडिकल कॉलेज के निर्माण कार्य जल्द शुरू करने के दिए निर्देश, 30 अप्रेल तक जारी हो सकता है कार्यादेश

जयपुर।
राजस्थान देश के उन अग्रणी राज्यों में शामिल होने जा रहा है जहां लगभग प्रत्येक जिला मुख्यालय पर मेडिकल कॉलेज होगा। राज्य में सिरोही सहित 14 नए मेडिकल कॉलेजों का निर्माण कार्य जल्द शुरू हो जाएगा। चिकित्सा शिक्षा सचिव वैभव गालरिया ने बताया कि कोविड महामारी के कारण उपजी कठिनाइयों के बावजूद राज्य सरकार का लक्ष्य सभी नए मेडिकल कॉलेजों का निर्माण जल्द से जल्द पूरा कराने का है ताकि वर्ष 2022-23 से इन्हे प्रारंभ किया जा सके।
चिकित्सा शिक्षा सचिव गालरिया के मुताबिक प्रयास किए जा रहे हैं कि श्रीगंगानगर और चित्तौड़गढ़ में बनने वाले मेडिकल कॉलेज के कार्यादेश आगामी 20 अप्रेल को जारी कर दिए जाएं। वहीं सिरोही और धौलपुर मेडिकल कॉलेजों के कार्यादेश 30 अप्रेल तथा दौसा, बूंदी और झुंझुनूं मेडिकल कॉलेजों के कार्यादेश 15 मई को जारी कर दिए जाने की संभावना है। जबकि हनुमानगढ़, बांसवाड़ा, नागौर और सवाई माधोपुर मेडिकल कॉलेजों के कार्यादेश मई के आखिरी सप्ताह में जारी किए जाने के प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि टोंक, करौली और जैसलमेर मेडिकल कॉलेजों के निर्माण के लिए कार्यादेश जून माह में जारी करने का लक्ष्य रखा गया है।
फरवरी—मार्च में जारी किए जा चुके टेंडर
प्रदेश में नए मेडिकल कॉलेजों की घोषणा की गई है, उनमें श्रीगंगानगर और चित्तौड़गढ़ के टेंडर फरवरी में जारी कर खोले जा चुके हैं। दौसा, बूंदी, झुंझुनूं, सिरोही और धौलपुर मेडिकल कॉलेजों के टेंडर मार्च में जारी कर दिए गए थे। अब हनुमानगढ़ और बांसवाड़ा मेडिकल कॉलेजों के निर्माण के टेंडर भी इसी हफ्ते 5 अप्रेल को जारी किए जा चुके हैं।