प्रेम प्रसंग का मामला: गला दबाकर बरकत खां की हत्या की, शव जलाया और अवशेष कुंए में डाल दिए, पति पत्नी गिरफ्तार

गलबाराम की पत्नी हरीयादेवी का बरकत खां के साथ लम्बे समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था, जिसका पता हरियादेवी के पति गलबाराम को चल गया। जिस पर गलबाराम ने हरियादेवी के साथ मिलकर बरकत खां को जान से मारने की योजना बनाई। 

गला दबाकर बरकत खां की हत्या की, शव जलाया और अवशेष कुंए में डाल दिए, पति पत्नी गिरफ्तार
भीनमाल पुलिस की गिरफ्त में बरकत खां की हत्या के आरोपी पति पत्नी।

मनीष दवे. भीनमाल

16 जुलाई 2021 को सुबह रज्जाक खां पुत्र गफुर खां जाति मोयला मुसलमान निवासी मणधर हाल भीनमाल ने थाने में रिपोर्ट देकर बताया कि उसके चाचा बरकत खां पुत्र साकू खां निवासी मणधर हाल भीनमाल जो दिनांक 15 जुलाई को सुबह करीब 10 बजे घर से अपना टैम्पों लेकर रिपेयर करने का बोलकर निकले थे, जो दोपहर 03 बजे तक घर नहीं लौटे। घर वालों ने मोबाईल पर संपर्क किया तो कोई जवाब नहीं मिला। तब भीनमाल में आसपास के इलाकों में तलाश करते हुए नरता गांव के रोड पर बरकत खां का टैम्पों लावारिस हालत में पड़ा हुआ मिला, परन्तु बरकत खां का पता नहीं चला। साथ ही ग्रामीणों से हमें जानकारी मिली कि बरकत खां का किसी ने अपहरण कर लिया है। पुलिस ने मामले को लेकर मामला दर्ज कर अनुसंधान शुरू किया।

प्रकरण का खुलासा करते हुए बुधवार को पुलिस अधीक्षक श्याम सिंह ने बताया कि अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनुकृति उज्जैनिया व शंकरलाल पुलिस उप अधीक्षक वृत भीनमाल के सुपरविजन में वारदात का खुलासा करने के लिए भीनमाल थानाधिकारी दुलीचंद व रामसीन थानाधिकारी अरविन्द कुमार के नेतृत्व में टीमों का गठन किया गया। इन टीमों ने खोज व अनुसंधान कर सीसटीवी फुटेज, अपहर्त बरकत खां की सीडीआर, तकनीकी सहायता, गुप्त जानकारी प्राप्त की गई। जिसमें सीसीटीवी फुटेज व सीडीआर एवं तकनीकी सहायता से बरकत खां द्वारा 15 जुलाई  को 11 बजे के आसपास अपनी टैक्सी में एक महिला व महिला के साथ छोटे बच्चे के साथ जाना ज्ञात हुआ।

CCTV Footage

जिस पर पुलिस टीम द्वारा सीसीटीवी फुटेज में दिख रही महिला व बच्चे की पहचान करने का प्रयास किया गया। गोपनीय जानकारी से पता चला कि सीसीटीवी में दिख रही महिला गलबा राम की पत्नी है। गलबाराम व उसकी पत्नी की तलाश करवाई गई तो ज्ञात हुआ कि घटना मय पुलिस टीम अहमदाबाद भिजवाकर संदिग्ध गलबाराम चौधरी व उसकी पत्नी हरियादेवी को दस्तयाब कर भीनमाल थाना लाया गया। 

प्रेम प्रसंग का पता चलने पर बनाई योजना

पूछताछ से खुलासा हुआ कि गलबाराम की पत्नी हरीयादेवी का बरकत खां के साथ लम्बे समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था, जिसका पता हरियादेवी के पति गलबाराम को चल गया। जिस पर गलबाराम ने हरियादेवी के साथ मिलकर बरकत खां को जान से मारने की योजना बनाई। 

हत्या करने के बाद पति पत्नी चले गए अहमदाबाद

तय योजना के तहत दिनांक 15 जुलाई को आरोपी गलबाराम भीनमाल आया व बरकत खां की रैकी की। 10 बजे के करीब जैसे ही गलबाराम ने बरकत खां को अपने टैम्पों को गैरेज पर ठीक करवाते देखा तो गलबाराम ने फोन से अपनी पत्नी हरियादेवी को भीनमाल बुलाया, आरोपी की पत्नी हरियादेवी भीनमाल आने पर गलबाराम द्वारा समझाकर बरकत खां के पास टैम्पों पर भेजा। हरियादेवी बरकत खां के पास जाकर अपने टैम्पों से अपने घर खानपुर छोड़ने के लिए कहा तो करीब 11 बजे के आसपास बरकत खां टैम्पों से गलबाराम की पत्नी व छोटे बच्चे को खानपुर बेरे पर छोड़ने के लिए गया। पीछे-पीछे गलबाराम भी मोटरसाईकिल पर चल दिया। आरोपी ने बरकत खां के अपने घर पहुंचते ही बरकत खां को अपने घर खानपुर में पीछे से पकड़ लिया व गला दबाकर हत्या कर दी, इसके बाद गलबाराम ने टैम्पों लेकर सरहद नरता में आया व टैम्पों नरता सरहद में खड़ा कर बरकत खां का मोबाईल पास के खेतों में फेंक दिया। स्वयं भीनमाल से होते हुए अपने घर खानपुर बेरे पर चला गया। उसके बाद आरोपी ने अपनी पत्नी के साथ मिलकर खेत में ही लकड़ियों से लाश को जला दिया, जली लाश के अवशेष राख आदि अगले दिन स्वयं के कुंए में फेंक दिए और अहमदाबाद चले गये। बाद पूछताछ गलबाराम व श्रीमती हरीयादेवी को गिरफ्तार किया गया। दोनों आरोपियों की पूछताछ व इतलानुसार कुंए से लाश के अवशेष, खेत से लाश के अवशेष तथा नरता के खेतों में से मृतक बरकत खां का मोबाईल बरामद किया गया।

हरीयादेवी और बरकत के बीच था प्रेम प्रसंग

पूछताछ से मृतक श्री बरकत खां के मौजा पावली में आटा चक्की थी एवं श्रीमती हरियादेवी का पीहर भी मौजा पावली में था, उसी समय से हरिया देवी व बरकत खां के आपस में जान पहचान व प्रेम प्रसंग था। प्रकरण में मुलजिम गलबाराम व हरीयादेवी को गिरफ्तार कर पूछताछ जारी है।

खुलासा करने में शामिल पुलिस टीम

शंकरलाल पुलिस उप अधीक्षक वृत भीनमाल, दुलीचंद निरीक्षक पुलिस थानाधिकारी भीनमाल, अरविन्द कुमार निरीक्षक पुलिस थानाधिकारी पुलिस थाना रामसीन, पुलिस थाना बागोडा, पुलिस लाईन जालोर का जाब्ता एवं तकनीकी शाखा एसपीओ जालौर व पुलिस थाना भीनमाल का जाब्ता रहा।