Jaipur खाद्य, नागरिक आपूर्ति की बैठक: Food Minister Pratap Singh Khachariyawas ने जरूरतमंद को सही मात्रा और सही समय पर राशन देने के दिए निर्देश

प्रदेश के खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने आज सभी जिला रसद अधिकारियों, विधिक माप विज्ञान अधिकारियों, प्रबंधक नागरिक आपूर्ति एवं सभी आला अधिकारियों के साथ बैठक की।

Food Minister Pratap Singh Khachariyawas ने जरूरतमंद को सही मात्रा  और सही समय पर राशन देने के दिए निर्देश

जयपुर।
प्रदेश के खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामले मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने आज सभी जिला रसद अधिकारियों, विधिक माप विज्ञान अधिकारियों, प्रबंधक नागरिक आपूर्ति एवं सभी आला अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति, विधिक माप विज्ञान प्रकोष्ठ एवं राजस्थान राज्य खाद्य नागरिक आपूर्ति निगम के विभिन्न कार्यों की कोरोना प्रोटोकॉल की पूर्ण पालना के साथ मैराथन बैठक की। 
इस दौरान जिला रसद अधिकारियों के साथ हुई बैठक में खाद्य मंत्री प्रताप सिंह ने कहा कि भूख से बड़ा कोई दर्द नहीं है। सभी अधिकारियों का कर्तव्य है कि जरूरतमंद को सही मात्रा व सही समय पर उसके हक का पूरा राशन मिले। 
खाचरियावास ने कहा कि प्रति माह वितरित किए जाने वाले गेहूं का आवंटन, उठाव और वितरण एक माह पहले ही सुनिश्चित किया जाना आवश्यक है। इससे राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के अंतर्गत सभी लाभार्थियों को सही समय पर गेहूं उपलब्ध हो सके।


उन्होंने पोस मशीन से संबंधित जुड़ी समस्याओं पर चर्चा करते हुए कहा कि जिन उचित मूल्य दुकानदारों की पोस मशीनें खराब है उन्हें तुरंत बदला जाए या नेटवर्क संबंधी दिक्कत है तो  इसे तुरन्त हल किया जाए। 
पोस मशीन की खराबी या नेटवर्क की दिक्कत की वजह से कोई भी जरूरतमंद खाद्यान्न लेने से वंचित नहीं रहना चाहिए। राशन डीलरों को मिलने वाले कमीशन पर विस्तार से चर्चा करते हुए उन्होंने ने कहा कि यदि किसी राशन डीलर का कमीशन लंबे समय से बकाया है तो अधिकारी सजगता से बकाया भुगतान पूरा करें। 
राशन डीलरों की आय बढ़ाने के नए सुझावों व प्रावधानों पर भी विचार किया जाना चाहिए। खाचरियावास ने इस संबंध में उच्च अधिकारियों को प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए।
10 राशन दुकान और 2 पंप का करें निरीक्षण
प्रताप सिंह खाचरियावास ने रसद अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे नियमानुसार प्रतिमाह कम से कम 10 उचित मूल्य दुकानों और 2 पेट्रोल पम्पों का निरीक्षण अवश्य करें। सभी अधिकारी सुनिश्चित करें कि पेट्रोल पंपों पर शौचालय, पीने का पानी, अग्निशमन यंत्र जैसी सभी आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध हों। 
गैस सिलेंडर के गोदामों पर चर्चा करते हुए खाचरियावास ने कहा कि जिन घरों में गैस के गोदाम बने हुए हैं अथवा शहरी क्षेत्रों में गैस के गोदाम चलाए जा रहे हैं वे खतरनाक हैं।
इन गैस के गोदामों को उपयुक्त स्थानों पर शिफ्ट किया जाना चाहिए। जब कोई उपभोक्ता गैस सिलेंडर का पूरा दाम चुकाता है तो उसका हक है कि उसे पूरी मात्रा में गैस सिलेंडर मिले।


अतः अधिकारी सुनिश्चित करें कि गैस सिलेंडर की डिलीवरी के समय उपभोक्ता को गैस सिलेंडर का वजन तौल कर ही डिलीवरी दी जाए। 
उन्होंने कहा कि निरीक्षण के दौरान अधिकारी पूर्ण संवेदनशीलता के साथ निरीक्षण कार्य संपन्न करें। 
खाद्य मंत्री प्रताप सिंह ने विधिक माप विज्ञान अधिकारियों से गहन चर्चा करते हुए कहा कि शुद्ध के लिए युद्ध अभियान 1 जनवरी से निरंतर चलाया जा रहा है।
ऐसे में सभी अधिकारी निरीक्षणों की संख्या बढ़ाएं और बाट, माप, तोल और पैकेज नियमों के उल्लंघन पर उचित कार्यवाही करें।
खाचरियावास ने कहा कि अधिकारियों का कर्तव्य है कि वे दुकानदारों को भी पैकेज नियमों, बाट व माप के सत्यापन संबंधी नियमों की पूर्ण व उचित जानकारी दें, ताकि व्यापारी व दुकानदारों को भी अनावश्यक जुर्माना न देना पडे़। 

Must Read: कांग्रेस सांसद शशि थरूर को दिल्ली कोर्ट से राहत, पत्नी सुनंदा पुष्कर मौत मामले में कोर्ट ने किया बरी

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :