Cyber Crime: क्रिफ्टो करेंसी के नाम पर की गई ऑनलाइन धोखाधड़ी के 8.63 लाख रुपए वापस पीड़ित के खाते में जमा

सिरोही साइबर पुलिस द्वारा क्रिफ्टो करेंसी के नाम पर की गई ऑनलाइन धोखाधड़ी के 8.63 लाख रुपए वापस पीड़ित के खाते में जमा करवाने का सराहनीय कार्य किया गया है। सिरोही साइबर पुलिस के अनुसार इस मामले में आरोपियों खातों से अनेकों लोगों से ऑनलाईन ठगी कर करोड़ों रुपए जमा करने का विवरण मिला है।

क्रिफ्टो करेंसी के नाम पर की गई ऑनलाइन धोखाधड़ी के 8.63 लाख रुपए वापस पीड़ित के खाते में जमा
सिरोही साइबर पुलिस द्वारा ऑनलाइन धोखाधड़ी के 8.63 लाख रुपए वापस पीड़ित के खाते में जमा करवाए गए। 

सिरोही। सिरोही साइबर पुलिस द्वारा क्रिफ्टो करेंसी के नाम पर की गई ऑनलाइन धोखाधड़ी के 8.63 लाख रुपए वापस पीड़ित के खाते में जमा करवाने का सराहनीय कार्य किया गया है।

सिरोही साइबर पुलिस द्वारा क्रिफ्टो करेंसी के नाम पर की गई ऑनलाइन धोखाधड़ी के 8.63 लाख रुपए वापस पीड़ित के खाते में जमा करवाने का सराहनीय कार्य किया गया है। सिरोही साइबर पुलिस के अनुसार इस मामले में आरोपियों खातों से अनेकों लोगों से ऑनलाईन ठगी कर करोड़ों रुपए जमा करने का विवरण मिला है।

साइबर पुलिस थाना सिरोही के थानाधिकारी किशनसिंह चौहान के अनुसार 16 मई 2023 को साइबर आरोपियों द्वारा पीड़ित कैलाश कुमार को किप्टो करेन्सी में इन्वेस्ट कर ज्यादा पैसे कमाने का लालच देकर ऑनलाईन ठगी की गई थी। साइबर पुलिस द्वारा आरोपियों  को गिरफ्तार कर प्रार्थी से धोखाधड़ी कर लिए गए 8,63,500/- रूपये की सम्पूर्ण राशि पुनः प्रार्थी पीड़ित के खाते में रिफण्ड जमा करवाने में सफलता प्राप्त हुई है। इस मामले में प्रार्थी द्वारा 6 जून 2023 को सिरोही साइबर थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई गई थी।

क्या है पूरा मामला --
पीड़ित प्रार्थी के अनुसार उसे पहले किसी अज्ञात फॉडस्टर द्वारा उसे घर बैठे काम करने के नाम पर अच्छा मुनाफा देने के बहाने उसे प्रलोभन दिया। जिसमे प्रारम्भ में यु-ट्यूब पर विडियों को सब्सक्राईब करना तथा अन्य अलग-अलग टास्क देकर उसको पूरा करने के बहाने शुरूआत में कुछ रूपये प्रार्थी के खाते में जमा करवाकर विश्वास में लिया गया। उसके बाद प्रार्थी को करेंसी में निवेश के नाम पर अच्छा लाभ देने के बहाने अलग अलग ट्रांजेक्शन करवाकर कुल 8, 63,600/- रूपये की धोखाधडी की गई थी। गेट वे ऑफिसर व बैंक अधिकारियों से सम्पर्क कर ऑनलाईन ठगी करके ली गई राशि कुल 8,63,600/ रुपए को होल्ड करवाया गया। इसके बाद साइबर थाने से एक विशेष टीम का गठन किया गया। जिस पर टीम द्वारा कड़ी से कड़ी जोड़कर घटना में शरीक दो आरोपी को पूर्व में गिरफ्तार कर जेल भिजवाया गया। अब तक बैंक से प्राप्त जानकारी अनुसार साईबर क्राईम वडोडरा में 15 लाख व लखनऊ के हिन्डेला में 11 लाख रुपए की धोखाधडी करने सहित 100 से अधिक शिकायतें और राज्यों से उक्त खाते में धोखाधड़ी कर राशि को फिज करवाने के लिए बैंकों को प्राप्त हुई है।

सिरोही साइबर पुलिस टीम का रहा सराहनीय प्रयास --
साइबर पुलिस थाना सिरोही के निरीक्षक हरचन्दराम, हेड कांस्टेबल पारस कुमार, कांस्टेबल रमेश कुमार, जगदीश,
अशोक कुमार, अमृत कुमार, चौखाराम एवं  राजेन्द्रपालसिंह आदि टीम में सम्मिलित रहें तथा रमेश कुमार की विशेष भूमिका रही।

Must Read: भाजपा नेता के घर पेट्रोल बम से हमला, बम फेंक कर मौके से फरार हो गए बदमाश

पढें क्राइम खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :