भारत: दिल्ली: मुख्यमंत्री और एलजी के बीच नहीं होगी शुक्रवार को होने वाली बैठक

मुख्यमंत्री कार्यालय के मुताबिक शुक्रवार दिल्ली विधानसभा के एक दिवसीय विशेष सत्र के कारण मुख्यमंत्री और एलजी के बीच होने वाली बैठक टाल दी गई है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शुक्रवार होने वाले दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र में भाग लेंगे। इसी करण से मुख्यमंत्री और उपराज्यपाल के बीच बैठक नहीं हो सकेगी।

दिल्ली: मुख्यमंत्री और एलजी के बीच नहीं होगी शुक्रवार को होने वाली बैठक
New Delhi : Delhi Chief Minister Arvind Kejriwal addressing the
नई दिल्ली, 25 अगस्त (आईएएनएस)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना के बीच हर सप्ताह शुक्रवार को बैठक होती है। हालांकि इस बार मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना के बीच होने वाली यह साप्ताहिक बैठक नहीं होगी।

मुख्यमंत्री कार्यालय के मुताबिक शुक्रवार दिल्ली विधानसभा के एक दिवसीय विशेष सत्र के कारण मुख्यमंत्री और एलजी के बीच होने वाली बैठक टाल दी गई है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल शुक्रवार होने वाले दिल्ली विधानसभा के विशेष सत्र में भाग लेंगे। इसी करण से मुख्यमंत्री और उपराज्यपाल के बीच बैठक नहीं हो सकेगी।

मुख्यमंत्री कार्यालय के मुताबिक दिल्ली विधानसभा के उपाध्यक्ष ने शुक्रवार, 26 अगस्त, सुबह 11 बजे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली की सातवीं विधानसभा के तीसरे सत्र के तीसरे भाग की बैठक बुलाई है। डिप्टी स्पीकर ने सभी विधायकों को सदन की बैठक में शामिल होने के लिए तलब किया है। उल्लेखनीय है कि तीसरे सत्र के दूसरे भाग की बैठक 5 जुलाई 2022 को विधानसभा अध्यक्ष द्वारा अनिश्चित काल के लिए स्थगित कर दी गई थी।

उपराज्यपाल विनय कुमार सक्सेना और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली के विकास से संबंधित मामलों पर चर्चा करने के लिए हर हफ्ते शुक्रवार को नियमित रूप से बैठक करते हैं।

इस बीच आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक व दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि देश में एक के बाद एक सरकार गिराने का एक माहौल चल रहा है। इन्होंने महाराष्ट्र, कर्नाटक, मध्य प्रदेश व गोवा की सरकार गिरा दी और अब झारखंड की सरकार गिराने जा रहे हैं। हम बिहार के अंदर भी देख रहे हैं कि इन्होंने क्या किया।

केजरीवाल ने कहा कि अब दिल्ली की सरकार गिराने की कोशिश कर रहे हैं, यह अच्छा थोड़ी है। ये हमसे लड़ रहे हैं। ये हमसे क्यों लड़ रहे हैं। सारा देश मिलकर आगे बढ़ेगा, तभी तो हम तरक्की कर पाएंगे। उन्होंने भाजपा द्वारा लगाए जा रहे शराब घोटाले के आरोप पर स्थिति स्पष्ट करते हुए कहा कि इन्होंने कहीं सभा की। उस सभा में उन्होंने स्टेज के पीछे जो बैनर लगाया था, उसमें लिखा हुआ था कि 1.5 लाख करोड़ रुपए का शराब घोटाला हुआ है। दिल्ली का तो 1.5 लाख करोड़ रुपए बजट ही नहीं है, दिल्ली का बजट तो 70 हजार करोड़ रुपए है। फिर मैंने देखा कि उस सभा में कोई व्यक्ति खड़ा हुआ और पूछा कि घोटाला क्या है। तब सारे एक-दूसरे को देख रहे थे कि घोटाला क्या है। फिर मैंने देखा कि इनका एक बड़ा नेता एक टीवी डिबेट में कह रहा था कि 8 हजार करोड़ रुपए का घोटाला हुआ है। उस डिबेट में हमारे प्रवक्ता ने पूछा कि घोटाला क्या है। फिर वो कागज देखने लगा कि घोटाला क्या है।

--आईएएनएस

जीसीबी/एएनएम

Must Read: कांग्रेस के नए अध्यक्ष के चुनाव की घोषणा के वक्त सोनिया के इलाज के लिए विदेश में होगा गांधी परिवार

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :