गिरफ्तारी: प्रोडक्शन वॉरन्ट पर गिरफ्तार किए 5 आरोपियों ने कबूली चोरी की दो दर्जन वारदातें, नशे की लत के कारण बने आला दर्जे के चोर

नशे की लत ने सिखाया चोरी करना, पांच दोस्तो ने मिलकर दिया की वारदातों को अंजाम, गांजा और शराब के साथ साथ अय्यासी का भी लगा शौक, अब हवालात में बंद, गिरफ्तार सभी आरोपी आहोर थाना क्षेत्र के निवासी।

प्रोडक्शन वॉरन्ट पर गिरफ्तार किए 5 आरोपियों ने कबूली चोरी की दो दर्जन वारदातें, नशे की लत के कारण बने आला दर्जे के चोर
आहोर पुलिस की गिरफ्त में शातिर चोर

जालोर। जालोर जिले के आहोर थाना पुलिस ने बाली उप जिला कारागृह से 5 नकबजनो को प्रोडक्शन वॉरन्ट पर गिरफ्तार कर क्षेत्र में हुई कई चोरी की वारदातों एक साथ खुलासा किया हैं। प्रोडक्शन वॉरन्ट ओर लाए सभी नकबजन आहोर थाना क्षेत्र के ही निवासी हैं जो जालोर सिरोही और पाली जिले के कई थाना क्षेत्रों में चोरी नकबजनी की वारदातों को अंजाम दे चुके हैं। इसी के तहत 28 मई को भी आहोर कस्बे के स्टेट बैंक के सामने स्थित एक सुने मकान में भी इन शातिर चोरों ने चोरी की वारदात की थी। जिसमें चांदी के आभूषणों सहित चांदी के बर्तन और नकद राशि लेकर फरार हो गए थे। जिसकी रिपोर्ट प्रवीणकुमार जैन ने आहोर थाने में दी थी। जिस पर आहोर पुलिस इन बदमाशो की लगातार तलाश कर रही थी। इन बदमाशों से पुलिस पूछताछ में क्षेत्र की करीब दो दर्जन चोरी की वारदातों को कबूल किया हैं। जिसमें आहोर कस्बे की पानी सेरी स्थित योगेश माली के घर में चोरी, हरजी कस्बे स्थित भरतसिंह राजपुरोहित के घर में चोरी, जोगवा गांव निवासी रामाराम घांची के घर पर चोरी, आहोर कस्बे के शिव कॉलोनी स्थित अखाराम के घर में, आहोर कस्बे के ही चौधरियों की सेरी स्थित कमलादेवी के घर में, सुभाष चौक स्थित जयंतिलाल जीवावत के घर में तथा आहोर कस्बे के ही चौधरियों की सेरी स्थित पारसमल जैन के घर में भी इन शातिर चोरों ने चोरी की वारदातों को अंजाम दिया था। 

ऐसे देते थे वारदात को अंजाम

चूंकि पुलिस गिरफ्त में आए सभी आरोपी आहोर थाना क्षेत्र के ही रहने वाले हैं। जो दिन में कस्बे में घूमते और सुनसान पड़े मकानों की रेकी करते थे। वहीं रात को करीब 3 बजे से 5 बजे के बीच उस मकान पर जाकर लोहे के लगिए व स्क्रूड्राइवर से मकान का ताला तोड़कर मकान में प्रवेश कर अंदर रखे सोने चांदी के आभूषण, चांदी के बर्तन और नकदी लेकर फरार हो जाते थे।

नशे की लत ने बनाया चोर

पुलिस गिरफ्त में आए सभी चोरों को नशे की लत लगी हुई हैं। और ये पांचों चोर गांजा और शराब का अत्यधिक सेवन करते हैं।  ऐसे में गांजा और शराब खरीदने के लिए पैसों की आवश्यकता के चलते इन्होंने मिलकर सुने मकानों में चोरी नकबजनी की वारदातों को अंजाम देना शुरू किया। चोरी किए आभूषणों बर्तनों को बेचकर ये लोग नशा और अय्यासी करते थे। आरोपियों की निशानदेही पर पुलिस ने घटना स्थल का मौका मुआयना करवाकर तस्दीक भी करवाई हैं। 

ये हैं आला दर्जे के शातिर चोर

जालोर जिले के एसपी श्यामसिंह के निर्देशन व एएसपी डॉ अनुकृति उज्जैननिया और जालोर डिप्टी हिम्मतसिंह चारण के सुपरविजन ने निर्देशन में आहोर थानाधिकारी निरंजन प्रतापसिंह के नेतृत्व में गठित टीम द्वारा प्रोडक्शन वॉरन्ट पर लाए इन शातिर चोरों में नरेश कुमार उर्फ नरेंद्र पुत्र प्रतापदास संत हाल निवासी बिछावाड़ी (आहोर), किरण कुमार पुत्र हिम्मताराम रावल निवासी केरावास आहोर, छगनाराम पुत्र खीमाराम प्रजापत निवासी चरली (आहोर), मनोहरदास पुत्र जयराम दास संत हाल-निवासी हनुमान कॉलोनी आहोर तथा निरंजन सुथार पुत्र नारायणलाल सुथार निवासी हनुमान कॉलोनी आहोर को गिरफ्तार किया गया हैं

Must Read: जालोर के सायला थाने में एसीबी की कार्रवाई, एएसआई 50 हजार की रिश्वत लेते गिफ्तार

पढें जालोर खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :