राजा सिंह पार्टी से निलंबित: हैदराबाद में बीजेपी विधायक राजा सिंह के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी

प्रदर्शनकारी काले झंडे लेकर और नारेबाजी करते हुए ऐतिहासिक चारमीनार, मदीना सर्कल, बरकास, चंद्रयानगुट्टा, चंचलगुडा, सिटी कॉलेज, अफजलगंज और अन्य इलाकों में जमा हो गए।

हैदराबाद में बीजेपी विधायक राजा सिंह के खिलाफ विरोध प्रदर्शन जारी
protests continue in Hyderabad.

हैदराबाद, 24 अगस्त | हैदराबाद में बुधवार को भी भाजपा विधायक राजा सिंह की पैगंबर मोहम्मद पर अपमानजनक टिप्पणी को लेकर विरोध प्रदर्शन जारी है।

राजा सिंह को जमानत मिलने के बाद सैकड़ों लोग सड़कों पर उतर आए। जिसके चलते पुराने शहर में मंगलवार की रात तनावपूर्ण स्थिति पैदा हो गई।

कुछ स्थानों पर विरोध हिंसक हो गया, सड़कों पर टायर जलाए, तोड़फोड़ की गई। जिसके बाद पुलिस को प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा।

प्रदर्शनकारी काले झंडे लेकर और नारेबाजी करते हुए ऐतिहासिक चारमीनार, मदीना सर्कल, बरकास, चंद्रयानगुट्टा, चंचलगुडा, सिटी कॉलेज, अफजलगंज और अन्य इलाकों में जमा हो गए।

मुसलमानों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने के लिए शहर में लगातार दूसरी रात राजा सिंह के खिलाफ विरोध प्रदर्शन हुए। प्रदर्शन बुधवार तड़के तक जारी रहा।

मंगलहाट पुलिस थाने में दर्ज एक मामले में न्यायिक हिरासत में भेजे जाने के कुछ घंटे बाद राजा सिंह को मंगलवार शाम शहर की एक अदालत ने जमानत दे दी। उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था।

राजा सिंह के खिलाफ पैगंबर के बारे में अपमानजनक टिप्पणियों और इससे जुड़े वीडियो को ऑनलाइन पोस्ट करने के खिलाफ सोमवार रात बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन किया गया, जिसके बाद उन्हें मंगलवार की सुबह गिरफ्तार किया गया था।

विधायक के खिलाफ हैदराबाद और अन्य जिलों के विभिन्न पुलिस थानों में भी मामले दर्ज किए गए हैं।

राजा सिंह के समर्थक और प्रदर्शनकारी नामपल्ली क्रिमिनल कोर्ट में जमा हो गए थे, जिससे तनाव की स्थिति पैदा हो गई थी। पुलिस ने दोनों गुटों को तितर-बितर करने के लिए लाठीचार्ज किया।

भाजपा ने मंगलवार को राजा सिंह को पार्टी से निलंबित कर दिया और उनसे 10 दिनों में जवाब मांगा कि उन्हें पार्टी से क्यों न निकाला जाए।

Must Read: भगवान शिव पिछड़ी जाति के हैं, क्योंकि ब्राह्मण होते तो श्मशान में नहीं बैठते : जेएनयू कुलपति

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :