Jodhpur @ रातानाड़ा फ्लैट में मिल 4 शव: जोधपुर के रातानाड़ा इलाके में फ्लैट में मिले एक ही परिवार के 4 शव, ​पति—पत्नी और दो बेटियां के शव

शहर के रातानाड़ा क्षेत्र में सूर्या ट्वीन टॉवर में आज शुक्रवार को एक प्लैट में 4 शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना पर पहुंची पुलिस को परिवार के मुखिया का शव फंदे से झूलता मिला, जबकि उसकी पत्नीऔर दो बेटी के शव नीचे फर्श पर मिले। पुलिस की प्रारंभिक जांच में हत्या और आत्महत्या का मामला सामने आ रहा है।

जोधपुर के रातानाड़ा इलाके में फ्लैट में मिले एक ही परिवार के 4 शव, ​पति—पत्नी और दो बेटियां के शव

जोधपुर।
शहर के रातानाड़ा क्षेत्र में सूर्या ट्वीन टॉवर में आज शुक्रवार को एक प्लैट में 4 शव मिलने से इलाके में सनसनी फैल गई। सूचना पर पहुंची पुलिस को परिवार के मुखिया का शव फंदे से झूलता मिला, जबकि उसकी पत्नीऔर दो बेटी के शव नीचे फर्श पर मिले। पुलिस की प्रारंभिक जांच में हत्या और आत्महत्या का मामला सामने आ रहा है। हालांकि पुलिस फॉरेंसिक साइंस लैब टीम की मदद से हर एंगल से मामले की जांच कर रही है।

वहीं घटना की सूचना के बाद पुलिस कमिश्नर जोस मोहन, एडीसीपी भागचंद मीणा, एसीपी दरजाराम बोस, रातानाडा थानाधिकारी लीलराम भी मौके पर पहुंचे। पुलिस के मुताबिक सूर्या अपार्टमेंट निवासी व्यापारी दीनदयाल अरोड़ा 45, उसकी पत्नी सरोज  42, बेटी हिरल 13 और सात साल की बेटी तन्वी के शव फ्लैट से मिले है। दीनदयाल अरोड़ा की घंटाघर सब्जी मंडी बाजार में कपड़े की दुकान है।


सुबह घर में नहीं हुई हलचल, पड़ोसियों ने दी पुलिस को सूचना
आज शुक्रवार को सुबह दीनदयाल के फ्लैट में कोई हलचल नहीं हुई। ना तो किसी ने गेट खोला और ना ही आवाजाही हुई। ऐसे में अनहोनी का अंदेशा होने पर पड़ोसियों ने करीबन 11.30 बजे दीनदयाल के परिवार को आवाज लगाई। फ्लैट से कोई जवाब नहीं आने पर एक पड़ोसी ने देखा तो दीनदयाल पंखे के हुक से लटका हुआ था। इस पर पड़ोसियों ने पुलिस के साथ दीनदयाल के परिजनों को सूचना दी।


थोड़ी देर में मौके पर लोगों की भीड़ एकत्र हो गई। पुलिस का मानना है कि पत्नी व बच्चों को पहले जहरीला पदार्थ खिलाया गया होगा, इसके बाद गलादबाकर हत्या की गई। फिर दीनदयाल ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस को फ्लैट से एक सुसाइड नोट भी मिला है, उसमें केवल इतना लिखा है कि मैं अपनी मर्जी से आत्महत्या कर रहा हूं। पुलिस के मुताबिक सुसाइड नोट भी जल्दबाजी में लिखा गया है। परिवार की आर्थिक स्थिति भी कुछ ठीक नहीं बताई जा रही है। कोरोना में व्यापार भी ठीक नहीं चल रहा था और फ्लैट के लोन की किश्ते भी जा रही थी। पुलिस को फ्लैट से एक दवाई का खाली पैकेट मिला है।

Must Read: राज्यपाल कलराज मिश्र ने खाटू नगरी में श्याम शरणम धर्मशाला का किया शिलान्यास, समारोह में लोगों से दूसरों के मदद की अपील की

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :