नोएडा में श्रीकांत त्यागी का मामला : राकेश टिकैत का त्यागी समाज की महापंचायत को समर्थन, बोले : पुलिस व सोसाइटी मिलकर करे समझौता

त्यागी समाज की महापंचायत में उपस्थित वक्ताओं ने कमिश्नरेट पुलिस पर भी जमकर भड़ास निकाली और श्रीकांत त्यागी की पत्नी अनु त्यागी के समर्थन में जबरन सोसायटी में घुसने पर जेल जाने वाले 6 युवकों को पंचायत के मंच पर बुलाकर सम्मानित किया गया।

राकेश टिकैत का त्यागी समाज की महापंचायत को समर्थन, बोले : पुलिस व सोसाइटी मिलकर करे समझौता
राकेश टिकैत

नोएडा | नोएडा में श्रीकांत त्यागी के समर्थन में हजारों की संख्या में त्यागी समाज के लोगों ने महापंचायत की और सांसद डॉ महेश शर्मा के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने महापंचायत को अपना समर्थन दिया है और इस बात की भी मांग की है कि इस मामले पर जल्द समझौता होना चाहिए।

त्यागी समाज की महापंचायत में उपस्थित वक्ताओं ने कमिश्नरेट पुलिस पर भी जमकर भड़ास निकाली और श्रीकांत त्यागी की पत्नी अनु त्यागी के समर्थन में जबरन सोसायटी में घुसने पर जेल जाने वाले 6 युवकों को पंचायत के मंच पर बुलाकर सम्मानित किया गया।

इस मसले पर बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने आईएएनएस से बात करते हुए कहा कि, जो वीडियो वायरल हुआ वह गलत है, लेकिन इस तरह के मामले में 25 हजार का ईनाम रखा देना यह पहली बार देखा है। इसलिए त्यागी समाज इखट्ठा हुआ और वह हमारे संगठन के साथ में हैं। हमारे पास आए सभी और समर्थन की चिट्ठी लिखवाकर लेकर गए हैं।

हम त्यागी समाज के समर्थन में हैं, लेकिन हम यह भी कहते हैं कि उसका फैसला हो जाना चाहिए, हम पुलिस प्रशासन से बात करेंगे। यह कोई इतना बड़ा मुद्दा नहीं है। इससे भी बड़े जघन्य अपराध होते हैं। सोसाइटी के लोगों को और सांसद महेश शर्मा को बिठाकर एक समझौता होना चाहिए।

राहुल गांधी के इनकार के बाद कई नाम सामने: कौन बनेगा कांग्रेस का अध्यक्ष, कई नामों पर विचार

दरअसल आज दिल्ली पुलिस नें राकेश टिकैत को दिल्ली जाने से रोक दिया और थाने में बिठाये रखा, हालांकी भारतीय किसान यूनियन द्वारा जब विरोध जताये जाने लगा तो दिल्ली पुलिस नें राकेश टिकैत को वापस भेज दिया।

महाकाल से जुड़े विज्ञापन पर बवाल: महाकाल से मंगवाई थाली ह्रितिक को भरी पड़ी!

इसके साथ ही टिकरी बॉर्डर पर एक बार फिर सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई है, दिल्ली पुलिस नें आज जंतर मंतर पर हो रहे प्रदर्शन में शामिल होने आ रहे किसानों को रोका और वापस बॉर्डर से भेज दिया।

इसपर राकेश टिकैत नें कहा, कल दिल्ली मे कोई प्रदर्शन है लेकिन हमारा उससे कोई मतलब नहीं है और ना ही हम जा रहे हैं। हमारी संयुक्त मोर्चा के साथ 6 सितंबर को दिल्ली में बैठक होगी जिसमें सरकार के वायदों पर चर्चा होगी और आगे की रणनीति बनेगी।

Must Read: केंद्र सरकार ने कैबिनेट मीटिंग में केंद्रीय कर्मचारियों के लिए 3 प्रतिशत महंगाई भत्ता बढ़ाने की दी मंजूरी

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :