भारत: छोटे निवेशकों के लिए सड़क बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में निवेश के लिए केंद्र लाया नया मॉडल

छोटे निवेशकों के लिए सड़क बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में निवेश के लिए केंद्र लाया नया मॉडल
नई दिल्ली, 23 अगस्त (आईएएनएस)। केंद्र छोटे निवेशकों के लिए देश में सड़क अवसंरचना परियोजनाओं में निवेश करने के लिए एक नया मॉडल लेकर आ रहा है।

केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने मंगलवार को कहा कि निवेश मॉडल छोटे निवेशकों, निम्न और मध्यम आय वर्ग के लोगों के लिए है और परियोजनाओं के लिए धन जुटाने के लिए पूंजी बाजार से अगले महीने संपर्क किया जाएगा।

मंत्री ने कहा, हम छोटे निवेशकों के लिए बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में निवेश करने के लिए एक नया मॉडल तैयार कर रहे हैं। हम जल्द ही इनविट्स को शेयर बाजार में सूचीबद्ध करेंगे ताकि खुदरा निवेशक निवेश कर सकें। हम गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों सहित आम लोगों को बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में निवेश करने का अवसर प्रदान कर रहे हैं, जिसमें 7 से 8 प्रतिशत मासिक रिटर्न का आश्वासन दिया गया है।

गडकरी ने कहा कि खुदरा निवेशकों के लिए निवेश की सीमा 10 लाख रुपये होगी, निवेश पर 7-8 फीसदी का सुनिश्चित रिटर्न होगा।

शुरुआत में चार सड़क परियोजनाओं के लिए निवेश का मौका होगा।

मंत्री ने जमा पर बैंक ब्याज की घटती दर के बारे में भी बात की।

उन्होंने कहा, यह महत्वपूर्ण है क्योंकि बैंकों ने जमा पर ब्याज कम किया है और यह सेवानिवृत्त लोगों के लिए एक समस्या है। उन्होंने कहा कि इस मॉडल से गरीब और मध्यम वर्ग के लोगों को फायदा होगा।

गडकरी ने देश में राष्ट्रीय राजमार्गों के नेटवर्क के विस्तार की बात की और कहा कि यह देश के लिए राष्ट्रीय राजमार्गो के नेटवर्क का विस्तार करने का समय है और 2024 के अंत से पहले इसे 2 लाख किमी तक ले जाया जाएगा।

मंत्री ने कहा कि देश में 90 प्रतिशत यात्री यातायात सड़कों पर है।

उन्होंने सड़क परियोजनाओं के निर्माण के विभिन्न मॉडलों के बारे में भी बात की जिसमें बिल्ट ऑपरेट ट्रांसफर, हाइब्रिड वार्षिकी मॉडल, इंजीनियरिंग खरीद और निर्माण और टोल ऑपरेट ट्रांसफर मॉडल शामिल हैं।

--आईएएनएस

एसकेके/एएनएम

Must Read: देश में नए संक्रमणों के बीच कोरोना से राहत, आज सामने आए 9 हजार 531 नए मामले

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :