विश्व: जेलेंस्की ने क्रीमिया पर फिर से कब्जा के लिए जुटाया समर्थन, बोले : हम निश्चित वापस आएंगे

समाचार एजेंसी डीपीए की रिपोर्ट के अनुसार, क्रीमिया प्लेटफॉर्म टाइटल से शिखर सम्मेलन का ऑनलाइन आयोजन किया गया। रूस से काला सागर प्रायद्वीप को वापस लेने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समर्थन जुटाने का यूक्रेन का दूसरा प्रयास है।

जेलेंस्की ने क्रीमिया पर फिर से कब्जा के लिए जुटाया समर्थन, बोले : हम निश्चित वापस आएंगे
Ukraine President Volodymyr Zelensky.(photo:instagram)

कीव, 24 अगस्त। यूक्रेन के राष्ट्रपति वलोदिमिर जेलेंस्की ने क्रीमिया प्रायद्वीप की वापसी के लिए समर्थन जुटाने के लिए एक ऑनलाइन शिखर सम्मेलन की मेजबानी की, जिसे रूस ने 2014 में अपने कब्जे में ले लिया था।

समाचार एजेंसी डीपीए की रिपोर्ट के अनुसार, क्रीमिया प्लेटफॉर्म टाइटल से शिखर सम्मेलन का ऑनलाइन आयोजन किया गया। रूस से काला सागर प्रायद्वीप को वापस लेने के लिए अंतर्राष्ट्रीय समर्थन जुटाने का यूक्रेन का दूसरा प्रयास है।

जेलेंस्की ने वीडियोकांफ्रेंसिंग में कहा, स्वर्ग की जगह एक अवसादग्रस्त और बाड़, कांटेदार तार और अराजकता के क्षेत्र में बदल गई है।

उन्होंने कहा, मुझे पता है कि क्रीमिया यूक्रेन के साथ है और हमारे वापस आने की प्रतीक्षा कर रहा है। मैं चाहता हूं कि आप यह जान लें, हम निश्चित रूप से वापस आएंगे।

उक्रेइंस्का प्रावदा की रिपोर्ट के अनुसार, राष्ट्रपति ने कहा कि जब यूक्रेन क्रीमिया पर नियंत्रण हासिल कर लेगा, तो वह विभिन्न क्षेत्रों में पहले जैसा कर देगा।

जेलेंस्की के अनुसार, क्रीमिया के तातार लोगों द्वारा अनुभव किए गए आतंक और मुस्लिम समुदाय के दमन के साथ क्रीमिया की जब्ती के साथ रूस का पतन शुरू हुआ।

जेलेंस्की ने कहा, आतंक पर काबू पाने के लिए हमारे क्षेत्र, यूरोप और पूरी दुनिया में सुरक्षा बहाल करने के लिए हमें रूसी आक्रमण के खिलाफ लड़ाई जीतनी होगी। क्रीमिया को कब्जे से मुक्त करना जरूरी है। यह वहीं समाप्त होगा, जहां यह सब शुरू हुआ था।

तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन, जिनके रूस के साथ अच्छे संबंध हैं, ने भी कहा कि क्रीमिया स्पष्ट रूप से यूक्रेन का है।

पीके/एसजीके

Must Read: सर्च इंजन गूगल ने कन्नड़ को बताया भारत की सबसे भद्दी भाषा,  विरोध के बाद मांगी मांफी

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :