भारत: मध्य प्रदेश में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात, 5 मरे

आधिकारिक रिपोटरें के अनुसार, 2,446 लोगों को बचाया गया और 4,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। राष्ट्रीय आपदा राहत बल और राज्य आपदा राहत बल ने नावों और वायुसेना के दो हेलीकॉप्टरों की मदद से बचाव कार्य किया।

मध्य प्रदेश में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात, 5 मरे
Shivraj in Badh Area of Madhya Pradesh

भोपाल | मध्य प्रदेश में अत्यधिक बारिश के कारण आई बाढ़ में फंसे 4,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। यहां नर्मदा, बेतवा, सोन, ताप्ती और अन्य उफान पर थे।

बाढ़ के कारण मकान क्षतिग्रस्त हो गए और फसलें नष्ट हो गईं, जबकि पिछले 24 घंटों में कम से कम पांच लोगों की मौत की खबर है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने केंद्र सरकार से बाढ़ प्रभावित लोगों तक पहुंचने के लिए विमान उपलब्ध कराने का अनुरोध किया है।

राज्य में पिछले दो दिनों में भारी बारिश हुई है, जिसके कारण सड़कें, खेत, मैदान जलमग्न हो गए और सड़कों को जोड़ने वाले कुछ पुल बह गए।

कई स्थानों पर बचाव अभियान अभी भी जारी है क्योंकि तीन जिलों विदिशा, गुना और राजगढ़ के करीब 25 गांवों में रविवार और सोमवार को हुई बारिश के कारण लोग फंसे हुए हैं।

मंगलवार दोपहर तक नागपुर से दो आईएएफ एमआई-17 वी5 हेलीकॉप्टर भोपाल पहुंचे।

मुख्यमंत्री चौहान ने हवाई सर्वेक्षण भी किया है और विदिशा, गुना, सागर, राजगढ़ और भोपाल में बाढ़ वाले कई क्षेत्रों का दौरा किया है।

आधिकारिक रिपोटरें के अनुसार, 2,446 लोगों को बचाया गया और 4,000 से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। राष्ट्रीय आपदा राहत बल और राज्य आपदा राहत बल ने नावों और वायुसेना के दो हेलीकॉप्टरों की मदद से बचाव कार्य किया।

Must Read: मप्र में 25 गांव बाढ़ से प्रभावित, सरकार और भाजपा संगठन मैदान में

पढें मध्य प्रदेश खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :