राजस्थान: मोबाइल बैटरी में धमाके के साथ ब्लास्ट, ऑपरेशन कर काटनी पड़ी 5वीं कक्षा के बच्चे की हथेली

पाली के रायपुर मारवाड़ क्षेत्र में रावणीया निवासी 5वीं कक्षा में पढ़ने वाले एक 10 साल के बच्चे के हाथ में मोबाइल की बैटरी तेज धमाके के साथ फटने से वह बुरी तरह घायल हो गया और उसके हाथ की हथेली को काटना पड़ा।

मोबाइल बैटरी में धमाके के साथ ब्लास्ट, ऑपरेशन कर काटनी पड़ी 5वीं कक्षा के बच्चे की हथेली

पाली | राजस्थान के पाली जिले के रायपुर मारवाड़ में रहने वाले माता-पिता का क्या मालूम था कि उनकी एक छोटी सी लापरवाही उनके बच्चे के लिए बेहद ही घातक साबित होगी और उनके मासूम की जिंदगी खराब हो जाएगी। पाली के रायपुर मारवाड़ क्षेत्र में रावणीया निवासी 5वीं कक्षा में पढ़ने वाले एक 10 साल के बच्चे के हाथ में मोबाइल की बैटरी तेज धमाके के साथ फटने से वह बुरी तरह घायल हो गया और उसके हाथ की हथेली को काटना पड़ा।

मोबाइल की बैटरी से खेल रहा था बालक
हादसे का शिकार हुए बालक का नाम साहिल है और वह मुकेश काठात का पुत्र है। जानकारी में सामने आया कि, रविवार को 5वीं में पढ़ने वाला साहिल अपने घर पर मोबाइल की एक पुरानी बैटरी से खेल रहा था। इस दौरान बैटरी अचानक धमाके के साथ फट गई। जिससे उसके दाएं हाथ की हथेली और अंगुलियां बुरी तरह जख्मी हो गई। 

ये भी पढ़ें:-  Rain Alert: राजस्थान पहुंचा मानसून! कभी भी शुरू हो सकती है झमाझम, यहां भारी बारिश का अलर्ट

ऑपरेशन कर काटनी पड़ी हथेली
बालक के हाथ में बैटरी फटने के बाद वह बुरी तरह से बिलख पड़ा। घबराए परिजन उसे घायल अवस्था में अस्पताल ले गए। जहां ऑपरेशन कर उसके हाथ की हथेली को काटना पड़ा। उसके बाद बालक को भीलवाड़ा रेफर किया गया।

ये भी पढ़ें:- Rajasthan Corona Updates: कोरोना ने राजस्थान में बढ़ाई चिंता, 24 घंटे में 161 नए संक्रमित दर्ज

इन कारणों से भी फट सकती है मोबाइल बैटरी! 
- फोन की बैटरी के फटने का सबसे आम कारणों में से एक क्षतिग्रस्त बैटरी है। ज्यादातर मामलों में देखा गया है कि, बैटरी फुल जाती है और ब्लास्ट की संभावनाएं बढ़ जाती है।

- मोबाइल बैटरी रातभर चार्ज करने से भी हीट हो जाती है और ब्लास्ट हो सकती है। इसी कारण बैटरी को भी 100 प्रतिशत चार्ज नहीं होने के लिए कहा जाता है। 

- मोबाइल बैटरी को सीधे धूप या पानी के संपर्क में लाने से बैटरी फटने के चांस बढ़ जाते हैं।

- मोबाइल फोन का ज्यादा इस्तेमाल किसी के लिए भी हानिकारक है। ज्यादातर मामलों में, मल्टी-टास्किंग और गेमिंग करने से प्रोसेसर फोन को गर्म कर देते हैं। जिससे बैटरी ब्लास्ट का खतरा बना रहता है।

Must Read: Rajasthan में बिजली के डिसऑनेस्ट उपभोक्ताओं पर सख्ती करने के निर्देश, फिर चाहे सरकारी कार्यालय ही क्यों ना हो, होगी वसूली

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :