Jalore @ भीनमाल को नर्मदा नीर की मांग: भीनमाल में नर्मदा नीर आंदोलन के तहत ढोल नगाड़ों के साथ निकाला मशाल जुलूस, एसडीएम के आवास पर किया प्रदर्शन

भीनमाल उपखंड मुख्यालय पर नर्मदा नीर आंदोलन के तहत सरकार प्रशासन को जगाने के लिए नर्मदा संघर्ष समिति की ओर से अनूठा प्रयास किया गया। समिति की ओर से शहर के मां चौक से ढोल नगाड़ा घंटी घड़ियाल शंख बजाते हुए शहरवासियों महिलाओं एवं संघर्ष समिति के लोगों द्वारा मशाल जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया।

भीनमाल में नर्मदा नीर आंदोलन के तहत ढोल नगाड़ों के साथ निकाला मशाल जुलूस, एसडीएम के आवास पर किया प्रदर्शन

भीनमाल जालोर।
भीनमाल उपखंड मुख्यालय पर नर्मदा नीर आंदोलन के तहत सरकार प्रशासन को जगाने के लिए नर्मदा संघर्ष समिति की ओर से अनूठा प्रयास किया गया। समिति की ओर से शहर के मां चौक से ढोल नगाड़ा घंटी घड़ियाल शंख बजाते हुए शहरवासियों महिलाओं एवं संघर्ष समिति के लोगों द्वारा मशाल जुलूस निकालकर प्रदर्शन किया। शहरवासी मशाल जुलूस निकालते हुए उपखंड अधिकारी के आवास पर पहुंचे। जहां प्रदर्शन कर नारेबाजी की गई। वहीं महिलाओं द्वारा भजन कीर्तन किया और सरकार व प्रशासन को जगाने का प्रयास भी किया गया।

शहरवासियों ने भीनमाल शहर सहित 306 गांव को नर्मदा का पानी उपलब्ध करवाने की मांग की गई। नर्मदा संघर्ष समिति के द्वारा प्रतिदिन विभिन्न तरीके से सरकार व प्रशासन को जगाने का प्रयास किया जा रहा है। इसके साथी प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के नाम विभिन्न धार्मिक संगठनों व सामाजिक संगठनों एवं ग्रामीणों की ओर से ज्ञापन सौंपा जा रहे हैं। 
संघर्ष समिति के शेखर व्यास ने बताया कि ईआर प्रोजेक्ट के तहत भीनमाल शहर व ग्रामीण क्षेत्र में नर्मदा का पानी वर्ष 2016 में मिलना था, लेकिन 5 साल से अधिक समय गुजर जाने के बाद भी शहर को नर्मदा का पानी नसीब नहीं हो पाया है। ऐसे में शहर सहित ग्रामीण क्षेत्र में के बाशिंदों को पेयजल के लिए दर-दर भटकना पड़ रहा है। वहीं भारी पेयजल का संकट क्षेत्र में बना हुआ है। इस संबंध में लगातार अनशन धरना प्रदर्शन जारी है, लेकिन अब तक सरकार व प्रशासन का भीनमाल शहर वासियों के प्रति उदासीन रवैया बना हुआ है। इस अवसर पर शेखर व्यास, मोहनसिंह सिसोदिया, श्याम खेतावत, ओमप्रकाश माहेश्वरी, दिनेश दवे नवीन, कपूरचंद माली, संजीव माथुर, श्रवणसिंह राव, जगदीश रामावत, शैतानसिंह भाटी, जबराराम भाटी, जबराराम भाटी व रामलाल पुरोहित सहित कई लोग मौजूद थे।

Must Read: विश्व जल दिवस पर बिना "मास्क" जल बचाने का संदेश दिया जलदाय मंत्री कल्ला ने, 13 लोगों के समूह में केवल 1 के मुंह पर मास्क

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :