Sirohi @ प्रशासन गांवों संग अभियान: Sirohi प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत प्रभारी मंत्री चौधरी और लोढ़ा ने सुनी ग्रामीणों की समस्याएं

सिरोही जिला प्रभारी मंत्री महेंद्र चौधरी ने कहा कि आमजन की समस्याओं को मौके पर ही निस्तारित कर उन्हें राहत देना ही अभियान का मुख्य उद्देश्य है। चौधरी  प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत पंचायत समिति शिवगंज की ग्राम पंचायत कलदरी शिविर का अवलोकन करने के बाद संबोधित कर रहे थे। 

Sirohi प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत प्रभारी मंत्री चौधरी और लोढ़ा  ने सुनी ग्रामीणों की समस्याएं

सिरोही। Sirohi Prashaasan Gaanvon ke sang Abhiyaan
सरकारी उप मुख्य सचेतक एवं सिरोही जिला प्रभारी मंत्री महेंद्र चौधरी  ने प्रशासन गांवों के संग अभियान शिविर का निरीक्षण किया। 
चौधरी ने कहा कि आमजन की समस्याओं को मौके पर ही निस्तारित कर उन्हें राहत देना ही अभियान का मुख्य उद्देश्य है। 
चौधरी  प्रशासन गांवों के संग अभियान के तहत पंचायत समिति शिवगंज की ग्राम पंचायत कलदरी शिविर का अवलोकन करने के बाद संबोधित कर रहे थे।


प्रभारी मंत्री ने कहा कि हम सब का उत्तरदायी है कि हम पूरे मनोयोग से जनता के कार्य करें।
 अभियान के दौरान लगने वाले शिविरों में पात्र, जरूरतमद व्यक्तियों को सामाजिक सुरक्षा योजना का लाभ पहुंचाना हमारा लक्ष्य होना चाहिए।
भूमिहीनों को भूमि आवंटन का काम सर्वोच्च प्राथमिकता से किया जाए। शिविरों में आने वाले बुजुर्गों, नि:शुक्तजनों की समस्याओं को प्राथमिकता के साथ सुना जाए और उन्हे तत्काल राहत दी जाए।


चौधरी ने कहा ​कि आमजन को लाभांवित करने के लिए प्रशासन गांवों एवं शहरों के संग अभियान के तहत शिविरों का आयोजन किया जा रहा है।
शिविर में 22 विभाग साथ बैठकर काम कर लोगों की समस्याओं को दूर कर रहे हैं। इस अभियान से जुड़े विभागीय अधिकारी एवं कार्मिक गंभीरता से लोगों के कामों को पूरा करें। 
इसमें किसी भी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाए। उन्होंने कहा कि इन गांवों में आधारभूत सुविधाएं मुहैया हो और संसाधनों की कमी नहीं रहें ऐसे प्रयास किए जाएंगे। 


जनसंख्या के मुताबिक आबादी भूमि आवंटन की मांग

शिविर में मुख्यमंत्री के सलाहकार विधायक संयम लोढ़ा ने कहा कि गहलोत सरकार ने 2 अक्टूबर को अभियान की शुरूआत की। राजस्व विभाग के पटवारी और आरआई अवकाश पर चले गए।
इसके चलते प्रारंभ में परेशानी हुई, लेकिन बाद में मुख्यमंत्री गहलोत की अपील पर काम पर लौट आने के बाद अभियान ने गति पकड़ ली।


लोढ़ा ने कहा कि प्रभारी मंत्री ने दो मांगें की गई। इनमें जिन-जिन गांवों में आबादी भूमि जनसंख्या की तुलना में कम है, उन सभी गावों में आबादी भूमि का आवंटन करने की मांग रखी। 
इसके अलावा राजपुरा बालदा- कलदरी रोड एवं बोकली भागली में विद्युतीकरण के लिए का निस्तारण की मांग की गई। 
अतिरिक्त जिला कलेक्टर कालूराम खौड ने कहा कि मुख्यमंत्री की सकंल्पना के साथ गांव के व्यक्ति की समस्या का समाधान गांव में ही किया जा रहा है।
इस उद्देश्य के साथ 22 विभागों के अधिकारीगण प्रत्येक कार्य दिवस पंचायत मुख्यालय पर जाकर पूरे जिले में शिविर आयोजित किए जा रहे है।
सरकार के सभी विभाग अच्छे से मेहनत कर रहें है।

शिविर में प्राप्त आवेदन का निस्तारण जल्द किया जा रहा है। उसका फ्लोअप शिविर में निस्तारण करेंगे तथा एक भी आवेदन शेष नहीं रखेेंगे।
इस दौरान मुख्य कार्यकारी अधिकारी भागीरथ विश्नोई ,विकास अधिकारी प्रमोद दवे, पुलिस उपाधीक्षक मदनसिंह, सरपंच कमोरी देवी, जन प्रतिनिधिगण, अचलाराम माली, हेमलता शर्मा,  प्रकाश मीणा उपस्थित थे।

Must Read: राजधानी में प्रताप नगर इलाके में रक्तदान शिविर, 402 यूनिट रक्त एकत्रित

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :