उपराष्ट्रपति राजस्थान के दौरे पर: देश के उपराष्ट्रपति जोधपुर के ऎतिहासिक मेहरानगढ़ किले की भव्यता देख कर हुए अभिभूत

उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर सोमवार को जोधपुर पहुंचे। उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू जोधपुर के ऎतिहासिक मेहरानगढ़ किले की भव्यता देख कर अभिभूत हुए । उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू का मेहरानगढ़ के जयपोल पर मेहरानगढ़ बैंड द्वारा पारम्परिक राजस्थानी अंदाज़ में स्वागत हुआ हुआ।

देश के उपराष्ट्रपति जोधपुर के ऎतिहासिक मेहरानगढ़ किले की भव्यता देख कर हुए अभिभूत

जयपुर । 
उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू विश्व पर्यटन दिवस के अवसर पर सोमवार को जोधपुर पहुंचे। उपराष्ट्रपति  वैंकेया नायडू जोधपुर के ऎतिहासिक मेहरानगढ़ किले की भव्यता  देख कर अभिभूत हुए । उपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू का मेहरानगढ़ के जयपोल पर मेहरानगढ़ बैंड द्वारा पारम्परिक राजस्थानी अंदाज़ में स्वागत हुआ हुआ। उनके स्वागत में शहनाई नोपत पर केसरिया बालम, पनिहारी जैसे लोक गीत तथा संतूर वादन की प्रस्तुति भी आयोजित की गई।

 इसके बाद उपराष्ट्रपति ने मेहरानगढ़ के दौलत चौक और संग्राहलय का भ्रमण किया। तत्पश्चात उन्होंने मेहरानगढ़ में बाड़मेर कलाकारों द्वारा घेर नृत्य, राजस्थान का पारम्परिक घूमर नृत्य तथा लंगा कलाकारों की सुरीली प्रस्तुति का आनन्द उठाया। अपनी फेसबुक पोस्ट में नायडू ने किले को राजस्थान की शान का स्वर्णिम प्रतीक बताया। किले को देखने के अपने अनुभव को साझा करते हुए उन्होंने लिखा है कि किले के अंदर स्थित शीश महल, फूल महल और जानकी महल, हमारे शिल्पकारों और कारीगरों की कलात्मक कारीगरी और उनके हुनर को दर्शाते हैं।

उन्होंने लिखा कि किले की दीवार पर खड़े हो कर देखने पर जोधपुर शहर उतना ही विहंगम लगता है जितनी मनोरम किले के अंदर की सुंदरता है। देश भर में स्थापत्य के अनेक अद्भुत नमूनों को देखने के बाद  अपने अनुभव के आधार पर नायडू लिखते हैं कि ये स्थान हमेशा ही आपको अचंभित करते हैं। गहरे ज्ञान से भरा ये अनुभव नितांत शिक्षाप्रद रहा है। अपने फेसबुक पोस्ट में उपराष्ट्रपति ने भारत की ऎतिहासिक और सांस्कृतिक विरासत में रुचि रखने वाले पर्यटकों और यात्रियों से देश के ऎसे स्थानों को देखने का आग्रह किया है।

उपराष्ट्रपति मेहरानगढ़ में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रम के पश्चात सर्किट हाउस जोधपुर पहुंचे। कार्यक्रम के दौरान उपराष्ट्रपति के साथ राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र तथा उर्जा व जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डा. बुलाकी दास कल्ला साथ रहे। आयोजन के दौरान जोधपुर संभागीय आयुक्त डॉ राजेश शर्मा, जिला कलक्टर इन्द्रजीत सिंह, पुलिस कमिश्नर जोस मोहन व अन्य प्रशासनिक अधिकारी भी साथ रहे।

Must Read: गुजरात-राजस्थान में हत्या का एक पैटर्न, दिन भी एक मंगलवार, अंजाम-सरेआम हत्या

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :