सिरोही से अवैध शराब तस्करी: सिरोही पुलिस अधीक्षक साहब, अब तो सिरोही के पिंडवाडा विधायक भी अवैध शराब तस्करी पर सवाल पूछ रहे है आप से, जवाब तो दीजिए

सिरोही जिले में अवैध शराब तस्करी और लॉकडाउन में गुजरातियों को बार में बैठाकर शराब पिलाने के मामले मीडिया में आने के बाद भी शायद पुलिस अधीक्षक महोदय कार्रवाई करना मुनासिब नहीं समझ रहे, लेकिन अब तो अवैध शराब तस्करी के मामले में पिंडवाड़ा विधायक ने भी पुलिस की कार्यशैली पर जवाब मांग लिया, अब तो जवाब दे दीजिए।

सिरोही पुलिस अधीक्षक साहब, अब तो सिरोही के पिंडवाडा विधायक भी अवैध शराब तस्करी पर सवाल पूछ रहे है आप से, जवाब तो दीजिए

सिरोही।
सिरोही जिले में अवैध शराब तस्करी और लॉकडाउन में गुजरातियों को बार में बैठाकर शराब पिलाने के मामले मीडिया में आने के बाद भी शायद पुलिस अधीक्षक महोदय कार्रवाई करना मुनासिब नहीं समझ रहे, लेकिन अब तो अवैध शराब तस्करी के मामले में सिरोही के पिंडवाड़ा विधायक ने भी सिरोही पुलिस की कार्यशैली पर जवाब मांग लिया, अब तो जवाब दे दीजिए। जी हां, मामला जिले में अवैध शराब तस्करी और पुलिस चौकी के सामने अवैध शराब कारोबार से जुड़ा हुआ है। पिछले दिनों जहां जिले से शराब तस्करी की कई खबरें प्रमुखता से प्रकाशित हुए, इसके बावजूद जिला पुलिस अधीक्षक महोदय शराब तस्करों के खिलाफ कार्रवाई तक नहीं कर रहे। इतना ही नहीं, अगर कुछ ईमानदार पुलिस कर्मी कार्रवाई कर रहे है तो उनको लाइन हाजिर करना जिला पुलिस अधीक्षक पर ही सवाल खड़ा कर रहा है। आखिर एसपी साहब शराब माफिया को क्यों बचाने में लगे हुए है। पिंडवाड़ा विधायक की सोशल मीडिया पर पोस्ट से तो कुछ ऐसा ही प्रतित हो रहा है।


विधायक समाराम गरासिया ने एसपी से पूछा सवाल
सोशल मीडिया पर सिरोही के पिंडवाड़ा विधायक समाराम गरासिया ने सिरोही एसपी की कार्यशैली पर सवाल खड़े करते हुए राजस्थान सरकार के सुशासन पर भी तंज कस दिया। गरासिया ने लिखा कि गुजरात सीमा से सटे सिरोही जिले में बॉर्डर हाइवे मार्ग पर 'लाइन' शब्द आखिर क्या है  एसपी साहब ? जिले से तस्करी कर गुजरात में जा रही है हरियाणा निर्मित शराब पर कार्रवाई करने वाले पुलिसकर्मियों को मिलता है लाइन हाजिर का इनाम ,क्या यही है अशोक गहलोत का सुशासन?

शराब तस्करी के मुददे को उठाया था https://firstbharat.in  ने
लॉक डाउन होने के बावजूद जिले में पुलिस की मिलीभगत से चल रहे अवैध शराब कारोबार से जुड़े समाचार https://firstbharat.in  पर प्रमुखता से प्रकाशित हुए। पिछले दिनों आबू रोड के दो होटलों में गुजरातियों को बार में बैठाकर शराब पिलाने का समाचार चलाने के बावजूद पुलिस अधीक्षक ने कार्रवाई नहीं की।

https://firstbharat.in/Sirohi-fine-is-being-collected-from-the-poor-and-hotel-bar-illegally-run-in-front-of-the-police

https://firstbharat.in/Under-the-Gehlot-government-the-Sirohi-Municipal-Council-seized-a-family-selling-vegetables-to-the-poor-while-the-Gujaratis-are-being-drunk-by-sitting-in-a-bar-in-Abu-Road

जबकि इन होटल के सामने ही पुलिस की चोकी होने के बावजूद यहां गाड़ियों में पर्यटक आ रहे है और शराब पार्टी करने के बाद जा रहे है और पुलिस आंख बंद कर बैठी है। जबकि आमजन सुबह 11 बजे बाद अगर बाजार में चला जाए तो उस पर ये ही पुलिस अधीक्षक और इनकी पुलिस जमकर लठ मारने को तैयार है। गाड़ी की सीज और व्यक्ति पर जुर्माना लगाने की कार्रवाई तक कीजा रही है।


इन होटलों पर बिकती मिली शराब, पुलिस को नहीं दिखी
1 आबू रोड रीको थाना क्षेत्र के मावल पुलिस चौकी के सामने स्थित तीन सितारा होटल सन रिसोर्ट 

2अम्बा जी रोड पर स्थित होटल द हिन्द 

3 आबू रोड मावल बॉर्डर पर होटल अतिथि एंड बार

Must Read: उदयपुर यात्रा के दौरान राहुल गांधी ने सुनी कुलियों की पीड़ा, वीडियो आया सामने

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :