सिरोही में पुलिस की मासिक बंधी का खेल: सिरोही में सड़कों पर गरीबों से वसूल रहे है जुर्माना तो पुलिस की नजरों के सामने अमीरों को होटल—बार में बैठाकर परोसी जा रही है शराब

आबू रोड आज भी लॉकडाउन में सख्ती के बावजूद गुजराती पर्यटकों से गुलजार है और यहां के होटल—बार में धड़ल्ले से गुजरातियों को शराब परोसी जा रही है। इतना ही नहीं साहब, यहां होटल के कमरों से लेकर स्पा और अन्य सुविधाएं होटल में आने वाले अतिथियों को दी जा ही है......

सिरोही में सड़कों पर गरीबों से वसूल रहे है जुर्माना तो पुलिस की नजरों के सामने अमीरों को होटल—बार में बैठाकर परोसी जा रही है शराब

सिरोही(Sirohi)।

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर खतरनाक साबित हो रही है। लोगों को संक्रमण से बचाने के लिए सरकार से लेकर प्रशासन तक दिन रात जुटा हुआ है, इसी दिशा में राजस्थान सरकार ने एक बार फिर लॉकडाउन लगाया और सख्ती करते हुए वीकंड कर्फ्यू का दायरा 2 दिन से बढ़ाते हुए तीन दिन कर दिया, लेकिन इस सब से बे फ्रिक सिरोही जिला प्रशासन। यहां ना तो राजस्थान सरकार के निर्देशों की पालना की जाती है, और ना ही कोरोना संक्रमण फैलने की ​किसी को चिंता हैं। जी हां, भले ही पढ़ने में यह अजीब सा लगे,लेकिन जिला प्रशासन की कार्यशैली को देखते हुए यह सही साबित हो रहा हैं। सिरोही जिले में सड़कों पर तो कानून पालना कराने वाले ​नजर आ जाएंगे, लेकिन धनकुबेरों के समक्ष यह कानून आंखों पर पट्टी बांधकर अंधा और लाचार सा नजर आता है। इसका एक उदाहरण सोमवार को सिरोही जिले के आबू रोड में देखने को मिला। हिल स्टेशन के नजदीक आबू रोड आज भी लॉकडाउन में सख्ती के बावजूद गुजराती पर्यटकों से गुलजार है और यहां के होटल—बार में धड़ल्ले से गुजरातियों को शराब परोसी जा रही है। इतना ही नहीं साहब, यहां होटल के कमरों से लेकर स्पा और अन्य सुविधाएं होटल में आने वाले अतिथियों को दी जा ही है, और चौंकाने वाली बात तो यह है कि यह बस सिरोही पुलिस की चौकी के सामने स्थित होटल में हो रहा है, पुलिस प्रशासन आंख बंद कर अनजान सा बैठा है। पेश है सिरोही के आबूरोड से गणपत सिंह मांडोली और गजेंद्र सिंह राठौड़ की एक खास रिपोर्ट:—

होटल सन रिसोर्ट : गुजरातियों से गुलजार
आबू रोड रीको थाना क्षेत्र के मावल पुलिस चौकी के सामने स्थित तीन सितारा होटल सन रिसोर्ट जहां firstbharat.in की टीम बोगस ग्राहक बनकर पहुंची।

यहां रिसोर्ट के प्रवेश द्वार पर बाकायदा रजिस्टर में एंट्री करके रिसोर्ट में प्रवेश दिया गया। रिसोर्ट के अंदर बने बार में जैसे ही हमारी टीम पहुंची, वहां का नज़ारा देखकर ही हम दंग रह गए। बार में गुजराती ग्राहकों से टेबल कुर्सियां भरी पड़ी थी।

शराब के शौकीन लोग यहां पूरी मस्ती में शराब का सेवन कर रहे थे। सिर्फ पुरुष ही नहीं महिलाऐं भी बड़ी संख्या में इस बार में मदिरा सेवन का लुफ्त उठा रही थी। हमारी टीम ने स्टिंग ऑपरेशन कर पूरे नज़ारे को कैमरे में कैद किया। इसके बाद टीम रिसोर्ट के मुख्य रिसेप्शन पर पहुंची, जहां पर होटल में मिलने वाली अन्य सुविधाओं के बारे में पूछताछ की तो हमें बताया गया कि यहां स्पा भी संचालित हो रहा हैं, इसमें अलग अलग थैरेपी का अलग—अलग चार्ज वसूला जा रहा है।  वहीं होटल में रूम और कॉटेज की भी सुविधा उपलब्ध हैं, और लॉक डाउन के बावजूद आप यहां अपना समर वेकेशन एन्जॉय कर सकते हैं।

होटल द हिंद: सब सेटिंग हैं...

सन रिसोर्ट का स्टिंग करने के बाद firstbharat.in की टीम अम्बा जी रोड पर स्थित होटल द हिन्द पहुंची। यहां पर भी बियर बार हमें खुला मिला। यहां पर भी आने वाले ग्राहकों को खुलेआम शराब परोसी जा रही थी। लोग बेझिझक यहां शराब का सेवन कर रहे थे। काउंटर पर खड़े सेल्समैन से पूछा तो बोले यहां ना तो कोई पुलिसकर्मी आएगा और ना ही कोई अधिकारी। यहां नीचे से लेकर ऊपर तक सब सेटिंग हैं। हमने होटल में रूम लेने की बात कही तो हमें होटल के मुख्य रिसेप्शन पर भेजा गया। हमने मुख्य रिसेप्शन पर जाकर बातचीत की तो हमें रूम उपलब्ध करवाने सहित रूम में शराब उपलब्ध करवाने की बात कही। फिर हमने रूम के रेट अधिक होने का हवाला देकर यहां से बाहर निकले।

ये क्या है कप्तान साहब?


व्यक्ति को किया खून से लथपथ:— सिरोही में पुलिस जहां अमीरों पर मेहरबान है, वहीं आम जनता के  प्रति पुलिस का रवैया कुछ सही नहीं है। घर से किसी आवश्यक काम से निकले एक व्यक्ति को सिरोही पुलिस ने खून से लथपथ कर दिया। मामला सिरोही के अनादरा चौराहे का बताया जा रहा है, जहां रविवार को एक बाइक सवार पर पुलिस ने डंडे से वार किया जो उसके चेहरे पर लग गया। इसके बाद मामला सिरोही कोतवाली पहुंच गया।

सवाल जो पुलिस से जनता को चाहिए

सवाल:—माननीय सिरोही पुलिस अधीक्षक महोदय पुलिस चौकी के सामने होटल में बार चल रहा है और पुलिस अनजान कैसे..?
जवाब:............................................

सवाल:—जिला कप्तान साहब जब पुलिस सड़कों पर गरीबों पर कार्रवाई कर सीज की कार्रवाई कर सकती है तो इन धन कुबेरों के होटलों पर सीज की कार्रवाई क्यों नहीं होती..?
जवाब:.............................................

सवाल: टाइगर साहब, क्या गरीब के घर से या ​आम जनता से ही कोरोना संक्रमण फैलता है, इन होटलों में नहीं फैलता...?
जवाब:.............................................

(इन सवालों के जवाब पुलिस कप्तान से आज सिरोही का हर नागरिक मांग रहा है। )

पुलिस का फिर वहीं जवाब: मुझे जानकारी नहीं, कार्रवाई करेंगे
जब हमने इस पूरे मामले में आबूरोड रीको थानाधिकारी राण सिंह सोढ़ा से बातचीत की तो उन्होंने पूरे मामले से अनभिज्ञता जताते हुए कहा कि अगर ऐसा हैं तो कार्रवाई की जाएगी।

Must Read: हिमाचल के राजकुमार राणा ने 17 राज्यों में बेच दी 36 हजार फर्जी डिग्रियां, पूरे देश में मचा हड़कंप, 11 साल में खड़ा किया 450 करोड़ का साम्राज्य

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :