पेंशनर्स से बोले संयम लोढ़ा: जो मानसिक रूप से रिटायर नहीं होता उसकी उम्र बढ़ जाती है, पेंशनर्स समाज का जिला अधिवेशन एवं सम्मान समारोह आयोजित

जो मानसिक रूप से रिटायर नहीं होता उसकी उम्र बढ़ जाती है, पेंशनर्स समाज का जिला अधिवेशन एवं सम्मान समारोह आयोजित

शिवगंज | मुख्यमंत्री के सलाहकार विधायक संयम लोढ़ा ने सरकारी सेवाओं से निवृत हुए सभी वरिष्ठ नागरिकों से अपील की है कि वे पेंशनर्स बने रिटायरमेन नहीं। क्योंकि जो व्यक्ति मानसिक रूप से रिटायर नहीं होता उसकी उम्र बढ़ जाती है। विधायक लोढ़ा बुधवार को राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय के बालिका विद्यालय भवन में आयोजित राजस्थान पेंशनर्स समाज के जिला अधिवेशन एवं सम्मान समारोह को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित कर रहे थे।

इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में पालिकाध्यक्ष वजींगराम घांची, उपखंड अधिकारी भागीरथराम चौधरी, तहसीलदार रणछोडराम, उपकोषाधिकारी रामलाल खंडेलवाल, डॉ देवराज परमार, जिला पेंशनर्स समाज अध्यक्ष करणसिंह राठौड अतिथि के रूप में उपस्थित थे।

Must Read : 'मैं ओमप्रकाश टाइगर, जहां रहता हूं राजपूतों का शिकार करता हूं, डीजी लाठर साहब का खास हूं'

समारोह को संबोधित करते हुए विधायक ने कहा कि एक राजनीतिक कार्यकर्ता कभी रिटायर नहीं होता। उन्होंने कहा कि जितने भी बड़े नेता है वे सभी 70 या उसके आसपास की उम्र के है लेकिन वे निरंतर कार्य करते रहते है। इसकी वजह यह है कि उनको लोगों से उर्जा मिलती है, जनता से ताकत मिलती है और जब ताकत मिलती है तो उम्र दिमाग में ही नहीं रहती।

Must Read : ओमप्रकाश टाइगर की हकीकत : यह चौथा मामला जिसमें मारपीट से मौत, फिर भी अफसर मेहरबान क्यों है

इस मौके पर चुटकी लेते हुए विधायक लोढ़ा ने कहा कि वर्ष 2008 में मैं भी पेंशनर हो गया था तथा 10 साल तक पेंशनर रहा, लेकिन आपने मेरी फिर से तनख्वाह चालू कर दी। विधायक ने कहा कि समाज में वे लोग जो कभी रिटायर नहीं हुए वे समाज की ताकत बने, वे हमारे भी प्रेरणा स्त्रोत बने। विधायक ने कहा कि आपके बीच भी ऐसे कई लोग बैठे है. जो अलग अलग संस्थाओं में कार्य करते है, समाज का काम करते है। जितना उनका सामथ्र्य है वे मार्गदर्शन करने की कोशिश करते है।

इस मौके पर विधायक ने कहा कि जब केन्द्र और राज्य में भाजपा की सरकार थी उस समय राज्य सरकार ने नई पेंशन स्कीम लागू कर दी थी। उन्होंने कहा कि वे वर्ष 2019 से लगातार पुरानी पेंशन स्कीम लागू करने की मांग करते रहे है। राज्य सरकार ने भी इस दिशा में पहल करते हुए फिर से पुरानी पेंशन स्कीम लागू कर दी है। जिससे सरकारी कर्मचारियों को लाभ मिलेगा।

इस अवसर पर विधायक संयम लोढ़ा ने सम्मेलन के भामाशाहों एवं सफल आयोजन के लिए स्थानीय कार्यकारिणी का सम्मान किया। इस अवसर पर जिले की सभी उपशाखाओं से 80 वर्ष उम्र के 20 तथा 75 वर्ष उम्र से अधिक के 48 पेंशनरों का शॉल ओढाकर एवं स्मृति चिन्ह प्रदान कर सम्मान किया गया। उप शाखा अध्यक्ष रघुनाथराम मीना ने सभी का आभार प्रकट किया। उपखंड अधिकारी भागीरथराम चौधरी ने सम्मेलन के सफल आयोजन पर पेंशनर्स समाज को साधुवाद दिया। अंत में कार्यक्रम संयोजक गुलाब खां  व बी आर माधव ने सभी का आभार प्रकट किया।

Must Read: खेजडिय़ा गांव में तेंदुए का हमला, 80 से अधिक भेड़ों को बनाया शिकार

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :