सांचौर प्रकाश विश्नोई अपहरण मामला: शराब तस्करी मामले में प्रकाश को गुजरात पुलिस उठा ले गई, लेकिन अपहरण मामले में पुलिस के अभी  तक खाली हाथ

प्रकाश विश्नोई मामले में मंगलवार को तब नया मोड़ आ गया जब प्रकाश विश्नोई को गुजरात की धानेरा पुलिस 2017 में शराब तस्करी के मामले में उठा ले गई। इधर, अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर ११वे दिन धरना जारी रहा, लेकिन जालोर पुलिस अभी खाली हाथ है।

शराब तस्करी मामले में प्रकाश को गुजरात पुलिस उठा ले गई, लेकिन अपहरण मामले में पुलिस के अभी  तक खाली हाथ

Fristbharat. जालोर

कुछ दिन पहले अपहरण को लेकर चर्चा में आए प्रकाश विश्नोई मामले में मंगलवार को तब नया मोड़ आ गया जब प्रकाश विश्नोई को गुजरात की धानेरा पुलिस 2017 में शराब तस्करी के मामले में उठा ले गई। इधर, अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार करने की मांग को लेकर ११वे दिन धरना जारी रहा, लेकिन जालोर पुलिस अभी खाली हाथ है। इस अपहरण प्रकरण में प्रकाश विश्नोई ने वन एवं पर्यावरण मंत्री सुखराम विश्नोई के पुत्र डॉ. भूपेन्द्र विश्नोई पर अपहरण और ५० लाख की फिरौती मांगने का आरोप लगाया था।

सांचौर पुलिस थाने के समक्ष प्रकाश अपहरण कांड मामले को लेकर पिछले से धरने पर बैठे ग्रामीणों व परिजनों का धरना 11वे दिन भी जारी रहा। वहीं भूख हड़ताल पर बैठे चार जनों की तबीयत बिगडऩे पर प्रशासन की ओर से अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। अस्पताल में भर्ती धरनार्थियों ने भर्ती रहते भूख हड़ताल जारी रखने की बात कही है। ऐसे में पुलिस व प्रशासन के समक्ष भी बड़ी चुनौती पैदा हो गई है।

वहीं ग्रामीणो ने आरोप लगाया कि घटना के 11 दिन गुजर जाने के बावजूद भी नामजद आरोपियो को भी पुलिस गिरफ्तार नहीं कर रही है, ऐंसे में पुलिस की भूमिका संदेह के घेरे में है। ग्रामीणों ने पुलिस व प्रशासन पर धरने को समाप्त करने दबाव बनाने का आरोप लगाते हुए कहा कि पुलिस आरोपियों की जानबूझकर गिरफ्तारी नहीं  कर रही है।

2017 के प्रकरण में प्रकाश को ले गई गुजरात पुलिस

अपहरण के मामले में बचकर निकल आए प्रकाश विश्नोई को मंगलवार को गुजरात पुलिस उठा ले गई। पुलिस के अनुसार धानेरा पुलिस के २०१७ में वांछित चल रहे प्रकाश विश्नोई को गिरफ्तार कर ले गई है। गुजरात पुलिस प्रकाश को लंबे समय से तलाश कर रही थी।

मंत्री पुत्र पर लगे आरोप... इसलिए बड़ा मामला

प्रकाश को गुजरात पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर ले जाने की घटना के बाद इस मामले में नया मोड़ आ गया है। जहां एक और परिजन प्रकाश के अपहरण मामले को लेकर धरने पर बैठै है। वहीं प्रकाश द्वारा अपहरण व फिरौती मामले में मंत्री पुत्र पर आरोप के बाद राजनीति भी गरमा गई थी। अब प्रकाश के  स्वयं के शराब तस्करी के मामले से जुड़े होने से मामले में नया मोड आ गया है। जिसको लेकर पुलिस अब प्रकाश के शराब तस्करी के नेटवर्क की पड़ताल करने में जुट गई है। ऐसे में प्रकाश की मुसीबतें कम होने की बजाय बढ़ भी सकती है।

Must Read: प्रदेश सरकार के खिलाफ भाजपा कार्यकर्ता उतरे सड़क पर, राज्यपाल के नाम सौंपा ज्ञापन

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :