Kota News: अस्पताल में इलाज की जगह मिला घाव! सोती महिला मरीज की पलक कुतर गए चूहे, कोटा में झकझोर देने वाली घटना

राजस्थान के कोटा शहर के एमबीएस अस्पताल में बड़ी लापरवाही का मामला सुर्खियों में छा गया है। यहां के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल में भर्ती की एक महिला मरीज की आंख को चूहों ने कुतर डाला है।

अस्पताल में इलाज की जगह मिला घाव! सोती महिला मरीज की पलक कुतर गए चूहे, कोटा में झकझोर देने वाली घटना

कोटा | इंसान तो क्या अब जानवर भी बीमार मरीजों के दुश्मन हो गए है। राजस्थान के कोटा शहर के एमबीएस अस्पताल में बड़ी लापरवाही का मामला सुर्खियों में छा गया है। यहां के सबसे बड़े सरकारी अस्पताल में भर्ती की एक महिला मरीज की आंख को चूहों ने कुतर डाला है। सोमवार को ये मामला सामने आने के बाद अस्पताल प्रशासन में हड़कंप मच गया।

लकवाग्रस्त महिला 45 दिनों से भर्ती है
जानकारी के अनुसार, 30 वर्षीय महिला लकवाग्रस्त है और करीब 45 दिनों से न्यूरो आईसीयू में भर्ती है। डॉक्टरों के अनुसार, महिला जीबीएस यानी गुलन बैरी सिंड्रोम से पीड़ित है। इस बीमारी से ग्रसित महिला का शरीर केवल गर्दन से ऊपर ही चेतना की स्थिति में है, जबकि पूरा शरीर लकवा की चपेट में है। 

ये भी पढ़ें:- Mathura Bus Accident: मथुरा: यमुना एक्सप्रेसवे पर ट्रक से टकराई श्रद्धालुओं से भरी बस, तीन की मौत, कई गंभीर

आंख से बहने लगा खून
अस्पताल में महिला का इलाज करा रहे उसके पति देवेंद्र सिंह का कहना है कि, उनकी पत्नी करीब 42 दिन से वेंटिलेटर पर थी और दो दिन पहले ही उसे आईसीयू में शिफ्ट किया गया है। सोमवार रात को इसके चेहरे पर कपड़ा लगा हुआ था। जब ये रोने लगी तो कपड़ा हटाकर देखा तो आंख पर खून ही खून दिखाई दिया। ऐसे में उसका पति घबरा गया।

पलक के दो हिस्से हुए, लगाने पड़े टांके
बाद में महिला मरीज की नेत्र रोग चिकित्सकों ने जांच की तो पता चला कि, आंख पर घाव था और आंख की पलक के दो हिस्से हो गए हैं। इसके बाद आंख की पलकों पर दो टांके लगाए गए। डॉक्टरों का कहना है कि आंख को चूहे द्वारा काटा गया है। इसी के साथ वहां भर्ती अन्य मरीजों के परिजनों का कहना है कि, यहां चूहों की भरमार है। हमेशा चूहे घूमते हुए नजर आते है।

ये भी पढ़ें:-  Amarnath Yatra 2022: अमरनाथ यात्रा अब और भी होगी सुगम, सभी यात्रियों का 5 लाख का होगा बीमा, मिलेगा RIFD कार्ड

लापरवाही पर बोले जिम्मेदार
मरीज के साथ अस्पताल में इतनी बड़ी लापरवाही सामने आने के बाद से अस्पताल में हड़कंप मचा हुआ है। अब अस्पताल के अधिकारी मामले की जांच कराने की बात कर रहे हैं। अस्पताल उपाधीक्षक डॉक्टर समीर टंडन का कहना है कि इस घटना की पूरी जांच करवाएंगे। पेस्ट कंट्रोल के बाद भी यह घटना हुई है, इसमें जिम्मेदारी हमारी है, स्टाफ की है। वहीं, दूसरी ओर, इस घटना पर राज्य मानवाधिकार आयोग ने भी प्रसंज्ञान लिया है और जवाब मांगा है।

Must Read: राजस्थान में फिर से होगी भारी बारिश, जानें मौसम विभाग का अलर्ट

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :