प्रधानमंत्री मोदी का शिवाजी को नमन: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्रपति शिवाजी को दी श्रद्धांजलि, शिवाजी का उत्कृष्ट नेतृत्व और समाज कल्याण को बताया प्रेरणादायक

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने छत्रपति शिवाजी महाराज को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि दी है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि उनका उत्कृष्ट नेतृत्व और समाज कल्याण पर जोर पीढ़ियों से लोगों को प्रेरणा देता रहा है। प्रधानमंत्री ने सोशल मीडिया पर एक ट्वीट में कहा कि मैं छत्रपति शिवाजी महाराज को उनकी जयंती पर नमन करता हूं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने छत्रपति शिवाजी को दी श्रद्धांजलि, शिवाजी का उत्कृष्ट नेतृत्व और समाज कल्याण को बताया प्रेरणादायक

नई दिल्ली, एजेंसी। 
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने छत्रपति शिवाजी महाराज को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि दी है। प्रधानमंत्री ने कहा है कि उनका उत्कृष्ट नेतृत्व और समाज कल्याण पर जोर पीढ़ियों से लोगों को प्रेरणा देता रहा है।
प्रधानमंत्री ने सोशल मीडिया पर एक ट्वीट में कहा कि मैं छत्रपति शिवाजी महाराज को उनकी जयंती पर नमन करता हूं।
उनका उत्कृष्ट नेतृत्व और समाज कल्याण पर जोर पीढ़ियों से लोगों को प्रेरणा देता रहा है। 
जब सच्चाई और न्याय के मूल्यों के लिए खड़े होने की बात आयी, तो वे हमेशा अडिग रहे। हम उनकी दृष्टि को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।"


यू वी स्वामीनाथ अय्यर की जयंती नमन 
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोशल मीडिया पर तमिल तात यूवी स्वामीनाथ अय्यर को भी उनकी जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है। एक ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा कि तमिल तात यू. वी. स्वामीनाथ अय्यर की जयंती पर उनका स्मरण करता हूं। तमिल संस्कृति और भाषा में उनका योगदान सराहनीय है।
उन्होंने संगम युग की कृतियों को लोकप्रिय बनाया और मूल्यवान विरासत को संजोने में मदद की। अधिक से अधिक युवाओं से उनके समृद्ध लेखन को पढ़ने का आग्रह करता हूं।

पीएम ने देश के प्रमुख सिख नेताओं से की मुलाकात 
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शुक्रवार को 7 लोक कल्याण मार्ग पर पूरे देश के प्रमुख सिख नेताओं से मुलाकात की। 
प्रतिनिधिमंडल ने सिख समुदाय के कल्याण के लिए लगातार कदम उठाने तथा विशेष रूप से 26 दिसंबर को वीर बाल दिवस घोषित करने के माध्यम से चार साहिबजादे को सम्मानित करने के लिए प्रधानमंत्री को धन्यवाद दिया। 
प्रतिनिधिमंडल के प्रत्येक सदस्य ने प्रधानमंत्री को 'सिरोपाओ' और 'सिरी साहिब' से सम्मानित किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि देश के कई क्षेत्रों में लोग चार साहिबजादे के योगदान और बलिदान के बारे में नहीं जानते हैं।


उन्होंने याद करते हुए कहा कि जब भी उन्हें स्कूलों में और बच्चों के सामने कुछ कहने का मौका मिलता था, वे हमेशा चार साहिबजादे के बारे में बोलते थे।
26 दिसंबर को वीर बाल दिवस के रूप में मनाने का निर्णय, देश के कोने-कोने में बच्चों को उनके बारे में जागरूक बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।
प्रधानमंत्री ने सिख समुदाय के नेताओं को धन्यवाद दिया और कहा कि उनके घर के दरवाजे उनके (सिख नेताओं) लिए हमेशा खुले हैं। उन्होंने पंजाब में अपने प्रवास के दौरान उनके साथ अपने संबंधों को तथा साथ बिताए समय को याद किया।

Must Read: दिल्ली के आजाद मार्केट में धमाके के साथ गिरी चार मंजिला इमारत, कई लोग दबे, बचाव-राहत कार्य जारी

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :