राजस्थान में कोरोना का नया रिकॉर्ड: राजस्थान में 24 घंटों में आए कोरोना के 11900 से अधिक केस, राजधानी गुलाबी नगरी में 2000 से अधिक केस एक दिन में

प्रदेश में नाइट कर्फ्यू, वीकेंड लॉकडाउन लगाने के बावजूद कोरोना केसों का हर दिन नया रिकॉर्ड बन रहा है। ​राजस्थान में पिछले 24 घंटों में  11,967 नए कोरोना संक्रमित केस आए है, जबकि रिकॉर्ड 53 लोगों की जान चली गई। प्रदेश में आज कोरोना की पॉजिटिविटी दर इस माह की सर्वाधिक 29.78% दर्ज की गई।

राजस्थान में 24 घंटों में आए कोरोना के 11900 से अधिक केस, राजधानी गुलाबी नगरी में 2000 से अधिक केस एक दिन में

जयपुर। 
प्रदेश में नाइट कर्फ्यू, वीकेंड लॉकडाउन लगाने के बावजूद कोरोना केसों का हर दिन नया रिकॉर्ड बन रहा है। ​राजस्थान में पिछले 24 घंटों में  11,967 नए कोरोना संक्रमित केस आए है, जबकि रिकॉर्ड 53 लोगों की जान चली गई। प्रदेश में आज कोरोना की पॉजिटिविटी दर इस माह की सर्वाधिक 29.78% दर्ज की गई। इधर राहत की बात ये है कि धीरे-धीरे रिकवरी की संख्या में भी इजाफा होने लगा है। राजस्थान में कोरोना केसों की जिलेवार स्थिति देखें तो राज्य के 33 में से केवल 3 ही जिले बांसवाड़ा, बूंदी और जैसलमेर ऐसे हैं, जहां संक्रमितों की संख्या 100 से कम रही है। इन तीनों जिलों में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या 50 से ऊपर है। सबसे ज्यादा आज राजधानी जयपुर में 2011 केस मिले हैं। यहां 11 लोगों की मौत भी हो गई। राज्य में कोरोना कितनी तेजी से फैल रहा है, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 4 अप्रेल तक जितने केस पूरे राजस्थान में आ रहे थे, उससे ज्यादा केस आज जयपुर में आ गए। राजस्थान में आज जो रिकॉर्ड केस मिले हैं, उसमें से आधे से ज्यादा संक्रमित तो जयपुर, जोधपुर, कोटा, उदयपुर और अलवर में आए हैं। इन सभी जिलों को मिलाकर कुल 6362 केस आए हैं। जोधपुर में 1641 संक्रमित मिलने के अलावा यहां 13 की मौत हो गई। कोटा में 1307, उदयपुर में 701 और अलवर में 702 नए मरीज मिले हैं। प्रदेश में कोरोना की संक्रमण दर का ग्राफ तो तेजी से बढ़ ही रहा है, लेकिन आज इसमें जबरदस्त इजाफा हुआ है। प्रदेश में आज पॉजिटिविटी रेट 29.78% हुई है। आज कुल 40,180 सैंपल लिए थे, जिसमें हर चौथा सैंपल कोरोना पॉजिटिव निकला है। पिछले पांच दिन का रिकॉर्ड देखे तो स्टेट में पॉजिटिविटी रेट 12 फीसदी से ऊपर है। पिछले 10 दिन की रिपोर्ट पर नजर डाले तो राज्य में 67,896 केस मिले हैं, जबकि 288 लोगों की जान चली गई।