विदेशों में कोरोना ने फिर पकड़ी रफ्तार: विश्व में कोरोना के सर्वाधिक नए मामले अमेरिका में, वैक्सीनेशन कराने वालों को मिल सकते है 100 डॉलर

कोरोना की तीसरी लहर का असर अब भी दुनियाभर में जारी है। बात पिछले 24 घंटों की करें तो 6.55 लाख नए कोरोना संक्रमित केस आए है।  9 जून के बाद लगातार दूसरे दिन कोरोना से मरने वालों की संख्या 10 हजार के पार गई है। बीते 24 घंटे में 10,290 संक्रमितों की मौत हुई है। जबकि गुरुवार को 4.09 लाख लोगों ने इस बीमारी को मात दी।

विश्व में कोरोना के सर्वाधिक नए मामले अमेरिका में, वैक्सीनेशन कराने वालों को मिल सकते है  100 डॉलर

नई दिल्ली।
कोरोना (corona) की तीसरी लहर का असर अब भी दुनियाभर में जारी है। बात पिछले 24 घंटों की करें तो 6.55 लाख नए कोरोना संक्रमित केस(corona infected case) आए है।  9 जून के बाद लगातार दूसरे दिन कोरोना से मरने वालों की संख्या 10 हजार के पार गई है। बीते 24 घंटे में 10,290 संक्रमितों की मौत हुई है। जबकि गुरुवार को 4.09 लाख लोगों ने इस बीमारी को मात दी। विश्व में सबसे ज्यादा मामले अमेरिका (America) में सामने आ रहे हैं। अमेरिका में पिछले 24 घंटे में 88,052 नए केस दर्ज हुए। यह तीसरी लहर में लगातार दूसरा दिन है जब अमेरिका में नए मामले 80 हजार के ज्यादा हुए हैं। इससे पहले अमेरिका में 13 फरवरी को 88,439 मामले सामने आए थे। गुरुवार को यहां 372 लोगों की कोरोना संक्रमण से जान गई है। कोरोना के मामले बढ़ने पर अमेरिकी सरकार वैक्सीनेशन(vaccination) को लेकर सख्त हो गई। अमेरिकी सरकार (US government) ने डेल्टा वैरिएंट के मामले में इजाफे के बीच ऐलान किया है कि मिलिट्री (military)को छोड़कर बाकी सभी केंद्रीय कर्मचारियों को वैक्सीनेशन लेना होगा। वैक्सीनेशन नहीं लेने वालों को हफ्ते में दो बार कोरोना टेस्ट करवाना होगा। इतना ही नहीं, मास्क पहने रहने और अन्य पाबंदियों को सख्ती से पालना करनी होगी। सरकार ने राज्य सरकारों और स्थानीय प्रशासन को यह भी सुझाव दिया है कि वैक्सीन लेने वाले व्यक्ति को 100 डॉलर दिए जाएं जिससे और भी लोग टीका लगावाने के लिए प्रेरित हों।

इटली में सार्वजनिक जगहों पर दिखाना होगा ग्रीन पास
अमेरिका के अलावा इटली ने भी वैक्सीनेशन को अनिवार्य कर दिया। बताया जा रहा है कि इटली (Italy)ने तय किया है कि उन सभी लोगों पर पाबंदियां लगाई जाएंगी जिनके पास 'ग्रीन पास'(Green Pass)नहीं होगा। यह ग्रीन पास उन लोगों को मिलेगा जिन्होंने वैक्सीन लगवाई है। इटली की नेशनल टूरिज्म एजेंसी (National Tourism Agency)के मुताबिक, 6 अगस्त से 12 साल से अधिक उम्र के लोगों को सार्वजनिक जगहों पर आने-जाने के लिए हेल्थ पास दिखाना जरूरी होगा। ब्रिटेन ने गरीब देशों को कोरोनावायरस वैक्सीन के डोज भेजने शुरू कर दिए हैं। इस हफ्ते 90 लाख डोज भेजी जाएंगी। इस इनिशिएटिव के तहत ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन(Oxford-AstraZeneca Vaccine) की सप्लाई की जा रही है। यहां पर करीब 71% आबादी को दोनों टीके लग चुके हैं। सरकार ने तय किया है कि फुली वैक्सीनेटिड लोगों को 16 अगस्त से क्वारैंटाइन नहीं होना पड़ेगा। ब्रिटेन में पिछले 24 घंटों में 31,117 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं, जबकि 85 लोगों की इससे मौत हुई है।

भारत में तीसरी लहर की चेतावनी, मिडिल ईस्ट में चौथी लहर 
WHO ने कहा है कि डेल्टा वैरिएंट (Delta variant) के चलते मिडिल ईस्ट देशों में  चौथी लहर शुरू हो गई है। इस क्षेत्र के 22 में से 15 देशों में डेल्टा वैरिएंट के मामले रिपोर्ट किए गए हैं। इन देशों में वैक्सीनेशन की दर कम होना भी कोरोना संक्रमण के फैलने की एक बड़ी वजह है। दो महीने पहले के मुकाबले पिछले महीने कोरोना के मामले 55% और संक्रमण से मौतें 15% अधिक दर्ज की गई हैं। यहां हर हफ्ते 3.10 लाख मामले और 3,500 मौतें दर्ज हुई हैं।

Must Read: World Health Organization के चीफ ने कोरोना के डेल्टा और ओमिक्रॉन वैरिएंट से सुनामी आने की जताई आशंका, वैक्सीनेशन पर दिया जोर

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :