विधायक लोढा ने जताया CM का आभार: सिरोही के मनोरा, कैलाशनगर एवं उथमण सीधे राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत

- तीनों विद्यालय राजकीय बालिका उच्च प्राथमिक विद्यालय से सीधे हुए क्रमोन्नत - विधायक लोढा ने जताया मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री का आभार

सिरोही के मनोरा, कैलाशनगर एवं उथमण सीधे राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत

सिरोही | राजस्थान सरकार ने सिरोही विधानसभा क्षेत्र के मनोरा, कैलाशनगर एवं उथमण राजकीय बालिका उच्च प्राथमिक विद्यालयों को सीधे ही राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालयों में क्रमोन्नत किया है। विधायक संयम लोढा ने विद्यालय क्रमोन्नत होने पर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत व शिक्षा मंत्री बी.डी. कल्ला के प्रति आभार जताते हुए कहां कि इससे बालिका शिक्षा को बढावा मिलेगा। ग्रामीण क्षेत्रो में बालिकाओं को अध्ययन के लिए अन्यत्र जाना पडता था लेकिन अब इन विद्यालयों के राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में क्रमोन्नत होने से बालिका उच्च शिक्षा आसानी से ग्रहण कर पाएगी।

माध्यमिक शिक्षा राजस्थान बीकानेर के निदेशक गौरव अग्रवाल ने आदेश जारी कर अवगत कराया कि क्षेत्र के मनोरा, कैलाशनगर एवं उथमण को राजकीय बालिका उच्च माध्यमिक विद्यालय में सीधे क्रमोन्नत किया है। अग्रवाल ने जारी आदेश में बताया कि विद्यालय क्रमोनयन सत्र 2022-23 से प्रारंभ होंगे। स्वीकृति के वर्ष सुविधानुसार कक्षा 09 व 10 एक साथ एवं आगामी सत्रों व कक्षा 11वीं एवं 12वीं प्रारम्भ की जा सकेगी।

सोनाली फोगाट की मौत को लेकर आया बड़ा अपडेट, गोवा में साथ था पीए, फॉर्म हाउस से कंप्यूटर-लैपटॉप भी गायब

मनोरा, कैलाशनगर एवं उथमण राउप्रावि से राउमावि में क्रमोन्नत होने पर विद्यालय में वर्तमान में कार्यरत प्रधानाध्यापक, राउप्रावि के पद पर कार्यरत वरिष्ठ अध्यापक को उसके विषय के वरिष्ठ अध्यापक के पद पर समायोजित किया जायेगा। इसी प्रकार से राउप्रावि में वर्तमान में कार्यरत शारीरिक शिक्षक ग्रेड को क्रमोन्नत राउमावि के शारीरिक शिक्षक के पद पर समायोजित किया जायेगा। क्रमोन्नत होने वाले राउप्रावि में कार्यरत शिक्षक ग्रेड सेकंड लेवल 1 व लेवल 2 के ऐसे अध्यापक जिनका डी में सैटअप परिवर्तन हो चुका है, उनका समायोजन क्रमोन्नत राउमावि में उनके विषय के स्वीकृत पद पर किया जायेगा। शेष शिक्षक ग्रेड प्रथम लेवल 1 व लेवल 2 के अध्यापकों को प्रविष्ठि शाला दर्पण में 3 बी में की जावेगी एवं ये अध्यापक 6 डी की कार्यवाही होने तक एवं अन्य शिक्षकों के पदस्थापन होने तक क्रमोन्नत विद्यालय में ही कार्य करते रहेंगे तथा इनका वेतन आहरण पूर्व की भांति प्रारंभिक शिक्षा विभाग से किया जावेगा। पदों को आदेश जारी होने की तिथि से प्रभावी माना जावेगा।

36 कौम की महासभा: सुराणा मामले की निष्पक्ष जांच को लेकर सौंपा ज्ञापन, कहा- मांगे नहीं मानने पर होगा उग्र प्रदर्शन

उक्त विद्यालयो में कला संकाय एवं संकाय के अन्तर्गत 3 ऐच्छिक विषयों का निर्धारण विद्यार्थियों की आवश्यकता के आधार पर विद्यालय से प्रस्ताव प्राप्त कर प्रारम्भ किया जायें तथा उक्त प्रस्ताव विषय आवंटन हेतु माध्यमिक शिक्षा बोर्ड बीकानेर को भेजे। नव क्रमोन्नत उच्च माध्यमिक विद्यालयों में प्रथम वर्ष में केवल ऐच्छिक विषय के व्याख्याता ही देय होंगे। अनिवार्य विषयों हिन्दी, अंग्रेजी के शिक्षण हेतु व्याख्याता के स्थान पर वरिष्ठ अध्यापक दिये जाये।

Must Read: कलेक्टर साहब पुनककलां पंचायत की झांक गांव निवासी इन 3 विधवा महिलाओं ने आप का क्या बिगाडा, जो आप ने छीन लिया "राशन"

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :