सिरोही में एसीबी की ट्रेप कार्रवाई: सिरोही सीएमएचओ में कार्यरत फूड इंस्पेक्टर विनोद शर्मा और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी विशाल 17 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार

सिरोही सीएमएचओ कार्यालय में कार्यरत फूड इंस्पेक्टर और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किए गए। जालोर एसीबी टीम ने सिरोही में ट्रेप की कार्रवाई को अंजाम देते हुए रिश्वतखोर फूड इंस्पेक्टर तथा चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को गिरफ्तार किया है।

सिरोही सीएमएचओ में कार्यरत फूड इंस्पेक्टर विनोद शर्मा और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी विशाल 17 हजार रुपए की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार

सिरोही। 
सिरोही सीएमएचओ कार्यालय में कार्यरत फूड इंस्पेक्टर और चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किए गए।
जालोर एसीबी टीम ने सिरोही में ट्रेप की कार्रवाई को अंजाम देते हुए रिश्वतखोर फूड इंस्पेक्टर तथा चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को गिरफ्तार किया है।


आरोपित फूड इंस्पेक्टर परिवादी की डेयरी से सेंपल नहीं  लेने के एवज में लगातार 22 हजार रुपए मासिक बंधी की मांग कर रहा था। 
इसके बाद परिवादी ने एसीबी को शिकायत दी। ​एसीबी जालोर टीम ने शिकायत के सत्यापन के बाद आज रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया।

सूत्रों के मुताबिक एसीबी में ट्रेप रिश्वतखोर फूड इंस्पेक्टर आलाधिकारियों की मासिक बंधी का लेनदेन भी करता है। ऐसे में एसीबी इस बात की भी जांच कर रही है कि आरोपित यह रिश्वत स्वयं के लिए ले रहा था या फिर अधिकारियों के लिए।


एसीबी जालोर के एएसपी महावीर सिंह ने बताया कि एसीबी टीम ने पुलिस निरीक्षक राजेंद्र सिंह चारण के नेतृत्व में  रिश्वत लेते मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य कार्यालय सिरोही में कार्यरत फूड इंस्पेक्टर विनोद शर्मा को गिरफ्तार किया है। विनोद शर्मा और विशाल को परिवादी से 17 हजार रुपए की रिश्वत लेते एसीबी टीम ने रंगेहाथ गिरफ्तार किया है।

एसीबी के मुताबिक आरोपित विशाल सिंह ने परिवादी से 22 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। इसके बाद रिश्वत ली और 5 हजार रुपए कम करते हुए वापस लौटा दिए।

Must Read: जिसने बदली विधानसभा क्षेत्र की तस्वीर, उसी निर्वाचित जनप्रतिनिधि को कह बैठे 'चवन्ना'

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :