जालोर से सेंसर बोर्ड सदस्य: जालोर के भीनमाल की बेटी और रियल स्टेट में सबसे अमीर घराने की बहू मंजू मंगलप्रभात लोढ़ा बनी सेंसर बोर्ड सदस्य

प्रदेष में भामाशाहों के साथ समाज सेवा में अग्रणी नाम मंजू लोढ़ा को केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड यानी सेंसर बोर्ड की सदस्य बनाया गया है।

जालोर के भीनमाल की बेटी और रियल स्टेट में सबसे अमीर घराने की बहू मंजू मंगलप्रभात लोढ़ा बनी सेंसर बोर्ड सदस्य

जालोर। 

प्रदेष में भामाशाहों के साथ समाज सेवा में अग्रणी नाम मंजू लोढ़ा (Manju Lodha ) को केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड यानी सेंसर बोर्ड की सदस्य बनाया गया है। जालोर के भीनमाल में लुंकड परिवार (Lunked family) की बेटी जोधपुर के लोढ़ा डवलपर्स की बहू मंजू मंगल प्रभात लोढ़ा यू तो किसी पहचान की मोहताज नहीं है, लेकिन अब मंजू लोढ़ा केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (Central Board of Film Certification) में बतौर सदस्य काम करेगी। आप को बता दें कि भारत सरकार के केन्द्रीय सूचना प्रसारण मंत्रालय के अधीन सेंसर बोर्ड कार्य करता है। केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड से फिल्मों को प्रमाणित करने के बाद ही भारत में उसका सार्वजनिक प्रदर्शन किया जा सकता है। केन्द्र सरकार द्वारा दो साल के लिए बोर्ड के सदस्यों का चयन किया जाता है। बोर्ड सिनेमेटोग्राफ एक्ट 1952 के तहत फिल्मों को अलग-अलग श्रेणी में सर्टिफिकेट जारी करता है। केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड, फिल्मों को चार वर्गों में विभाजित करता है। शुरुआत में केवल यू और ए दो ही वर्ग थे। इसके बाद यूए और एस नाम से दो और वर्ग बनाए गए। सुप्रसिद्ध समाजसेविका, लेखिका व कवयित्री मंजु मंगलप्रभात लोढ़ा का केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड यानी सेंसर बोर्ड के सदस्य बनने से फिल्मों की गुणवत्ता में काफी सुधार के आसार है।
कुशल कारोबारी के साथ धार्मिक प्रवृति की महिला हैं मंजू
मंजू लोढ़ा धार्मिक प्रवृति की महिला हैं। भक्त के ईश्वर तक पहुंचने की सरल विद्या वे भक्ति को मानती हैं। अपने बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन व्यवसाय के तहत जहां कहीं भी भवन बनाती हैं, वहां के लोगों की राय लेकर मंदिर अवश्य बनाती हैं। मुंबई के डोंबिवली में जैन मंदिर, थाणा तथा अपोलो में गणेश मंदिर, साईं मंदिर बनवाया है। जुहू चंद्रा वसई में निर्मित लोढ़ा धाम साधु-संतों के रहने, खाने, व्याख्यान देने का भव्य स्थान है। यहां पांच लाख से अधिक पुस्तकों का अदभुत वाचनालय भी है, जो जैन धर्म से संबंधित है। देश-विदेश के शोधार्थियों के लिए अनुपम स्थान है। यहां एक सुंदर गौशाला भी है, जिसमें पचास से अधिक गायें है। लोढ़ा फैमिली ने ही राजस्थान में नागौर के मूंडवा में कुल देवी का भव्य मंदिर बनवाया है। जहां पर धर्मशाला और गौशाला निर्माणाधीन है।
भीनमाल के लुंकड़ परिवार की बेटी हैं मंजू
देश के सबसे अमीर रियल एस्टेट डेवलपर्स का खिताब पाने वाले मंगल प्रभात लोढ़ा की शादी जालोर जिले के भीनमाल के लुंकड़ परिवार में मंजू लुंकड़ के साथ हुई थी। मंजू के पिता किशोरमल लुंकड़ भीनमाल में 72 जिनालय निर्माण कराने वाले शख्स है। शादी के बाद मंजू का सरनेम में लोढ़ा जुड़ गया। मंजू लोढ़ा अपने पति की कंपनी में बराबर की हिस्सेदार बनी।

Must Read: गहलोत सरकार में भूमाफियाओं का आतंक, अबला नारी की नहीं हो रही सुनवाई...,भू—माफिया पीड़िता की जमीन पर कर रहे है शराब पार्टी

पढें जालोर खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :