Pali @ बाली में अखबार का विरोध: जवाई बांध: पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों ने जलाई दैनिक समाचार पत्र की प्रतियां, अखबार के खिलाफ एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

विश्वभर में लेपर्ड हिल्स के नाम से मशहूर जवाई लेपर्ड कंजर्वेशन रिज़र्व में पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों ने शुक्रवार को SDM कार्यालय बाली जाकर एक दैनिक समाचार पत्र द्वारा चलाई जा रही खबरों के विरोध में धरना प्रदर्शन किया।

जवाई बांध: पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों ने जलाई दैनिक समाचार पत्र की प्रतियां,   अखबार के खिलाफ एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

पाली। 
विश्वभर में लेपर्ड हिल्स के नाम से मशहूर जवाई लेपर्ड कंजर्वेशन रिजर्व में पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों ने एक दैनिक समाचार पत्र खिलाफ प्रदर्शन किया। लोगों ने अखबार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए एसडीएम बाली को ज्ञापन भी दिया। इस दौरान प्रदर्शन कर रहे लोगों ने अखबार की प्रतियां तक जलाई और अखबार पर भ्रामक खबर चलाने का हवाला दिया। प्रदर्शनकारियों ने एसडीएम को दिए ज्ञापन में मांग की है कि अखबार ने यहां के लोगों की छवी खराब करने का प्रयास किया है। इस लिए इस भ्रामक खबर का खंडन करें और पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों से माफी मांगे।

यह है पूरा मामला :

उपखण्ड अधिकारी बाली को ज्ञापन देने आये जवाई क्षेत्र में पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों का आरोप है कि दैनिक भास्कर समाचार पत्र में दिनांक 22 सितम्बर 2021 को  ‘‘3 से 5 हजार में पैंथर दिखाने की गारंटी : दिन में ड्रोन, रात में ड्रैगन - सर्च लाइट में पैंथरों को निकाल रहे गुफा से बाहर शीर्षक एवं 23 सितम्बर 2021 ‘‘कंडम जीप्सीयो में सफारी, लग्जरी तम्बुओं में परोस रहे शराब, रात 2 बजे तक पार्टी का पैकेज 35 हजार रूपये‘‘ शिर्षक से खबरे चलाई गई थी जो पूर्ण रूप से भ्रामक एवं क्षेत्र की तथा इस व्यवसाय से जुड़े दर्जनों लोगो की छवि बिगाड़ने की एक साजिश है। 


2 साल पुरानी फोटो आखिर क्यों!
एसडीएम को ज्ञापन देने आए लोगों ने बताया कि दैनिक भास्कर ने जो ड्रोन और पेंथर वाली तस्वीर 22 सितंबर के अंक में प्र​काशित की, वो 2 साल पुरानी है। यह फोटो एक व्यक्ति ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर की थी। यह तस्वीर भी वायरल हो रही है। वहीं दूसरी ओर अखबार ने पुरानी गाड़ियों में सफारी की खबर प्रकाशित की है, जबकि नेशनल पार्क तक में ऐसा नियम नहीं है।

वहीं ज्ञापन देने आये लोगों का आरोप है कि इस पत्रकार ने जानबूझकर भ्रामक खबर चलाकर यहाँ के दर्जनों युवाओं को बेरोजगार करने की साजिश की है। जिससे नाराज होकर पर्यटन व्यवसाय से जुड़े लोगों ने एकजुट होकर उपखण्ड अधिकारी को ज्ञापन दिया एवं उन्होंने ऐसे पत्रकार के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग भी की।

Must Read: डीआईजी शेखावत ने फलोदी जेल से कैदी भागने के मामले में पुलिस जवानों को माना दोषी, 4 को किया निलंबित

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :