टोक्यो ओलिंपिक में एक ओर मेडल पक्का: भारत का टोक्यो ओलिंपिक में एक ओर मेडल पक्का, पहलवान रवि दहिया ने सेमीफाइनल में कजाकिस्तान को दी 'पटखनी'

भारत को बुधवार के दिन एक ओर खुशी मिल ही गई। आखिरकार भारत का टोक्यो ओलिंपिक में एक ओर मेडल पक्का हो गया। बुधवार को कुश्ती में भारतीय पहलवान रवि दहिया ने 57 किलोग्राम वेट कैटेगरी के सेमीफाइनल में कजाकिस्तान के नूरीस्लाम सनायेव को पटखनी दी।

भारत का टोक्यो ओलिंपिक में एक ओर मेडल पक्का, पहलवान रवि दहिया ने सेमीफाइनल में कजाकिस्तान को दी 'पटखनी'

नई दिल्ली।
भारत को बुधवार के दिन एक ओर खुशी मिल ही गई। आखिरकार भारत का टोक्यो ओलिंपिक(Tokyo Olympics) में एक ओर मेडल पक्का हो गया। बुधवार को कुश्ती में भारतीय पहलवान रवि दहिया (wrestler Ravi Dahiya) ने 57 किलोग्राम वेट कैटेगरी के सेमीफाइनल में कजाकिस्तान(Kazakhstan) के नूरीस्लाम सनायेव(Nurislam Sanayev) को पटखनी दी। अब फाइनल गुरुवार को होगा, जहां रवि गोल्ड या सिल्वर के लिए दांव लगाएंगे। सेमीफाइनल में रवि एक समय 8 पॉइंट से पीछे चल रहे थे।

लगा कि वे हार जाएंगे, लेकिन 1 मिनट बाकी रहते रवि ने कजाक पहलवान को चित करते हुए मुकाबले से ही बाहर कर दिया। उन्हें विक्ट्री बाय फॉल (Victory by Fall)रूल से विजेता करार दिया गया। वहीं दूसरी ओर दीपक पूनिया(Deepak Poonia) 86 किलोग्राम वेट कैटेगरी के सेमीफाइनल(Semifinals) में हार गए। दीपक को अमेरिकी पहलवान डेविड मॉरिस टेलर(David Morris Taylor) ने एकतरफा अंदाज में 10-0 से हरा दिया। हालांकि, अभी दीपक के लिए ब्रॉन्ज मेडल की उम्मीद बरकरार है।


कुश्ती में पटखनी को कहते है विक्ट्री बाय फॉल
रवि ने कजाकिस्तान (Kazakhstan)के पहलवान को चित करके मुकाबला जीता है। अंतरराष्ट्रीय कुश्ती(International wrestling) में इसे विक्ट्री बाय फॉल कहते हैं। जब कोई पहलवान प्रतिद्वंद्वी को चित कर उसके दोनों कंधे मैट से लगा देता है तो उसे विक्ट्री बाय फॉल कहते हैं। ओलिंपिक स्तर पर खासकर सेमीफाइनल में ऐसी जीत दुर्लभ होती है। जब रवि ने नूर इस्लाम को चित किया उस समय में वे 7-9 से पीछे थे। ऑधिकारिक स्कोर 7-9 ही रहा लेकिन प्रतिद्वंद्वी को चित करने से उन्हें तत्काल जीत मिल गई। आप को बता दें कि रवि दहिया ने प्री क्वार्टर फाइनल और क्वार्टर फाइनल में अपनी बाउट टेक्निकल सुपीरियारिटी के आधार पर जीती। कुश्ती में अगर कोई पहलवान प्रतिद्वंद्वी पर 10 पॉइंट की बढ़त हासिल कर लेता है तो उसे टेक्निकल सुपीरियारिटी के आधार पर तत्काल जीत मिल जाती है। रवि ने प्री क्वार्टर फाइनल में कोलंबिया के ऑस्कर एडुआर्डो टिग्रेरोस को 13-2 से हराया। वहीं, क्वार्टर फाइनल में उन्होंने बुल्गारिया के जियोर्जी वेलेंटिनोव वांगेलोव को 14-4 से मात दी। 

Must Read: 40 की उम्र में कैसे करे बालों की देखभाल

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :