America में कोरोना का कहर: अमेरिका के टेक्सास राज्य में कोरोना संक्रमण से हालात खराब, अस्पताल में बेड तक नहीं है खाली

विदेशों में एक बार फिर कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। अमेरिका के हालात इतने खराब हो रहे है कई प्रांतों के अस्पतालों में आईसीयू बेड तक कम पड़ गए। अमेरिका सरकार की ओर से जारी बयान के मुताबिक इस बार कोरोना वैक्सीनेशन नहीं करवाने वालों में संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है।

अमेरिका के टेक्सास राज्य में कोरोना संक्रमण से हालात खराब, अस्पताल में बेड तक नहीं है खाली

नई दिल्ली। 
विदेशों में एक बार फिर कोरोना संक्रमण(Corona Infection) तेजी से बढ़ रहा है। अमेरिका(America) के हालात इतने खराब हो रहे है कई प्रांतों के अस्पतालों में बेड तक कम पड़ गए। अमेरिका सरकार की ओर से जारी बयान के मुताबिक इस बार कोरोना वैक्सीनेशन (Vaccination) नहीं करवाने वालों में संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। अमेरिका के टेक्सास(Texas) राज्य की राजधानी ऑस्टिन(Austin) में स्थिति बेहद गंभीर बताई जा रही है। ऑस्टिन के अस्पतालों में महज ICU वार्ड में केलव छह बेड खाली हैं। जबकि इस शहर की आबादी 24 लाख है। ऑस्टिन  के स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक अस्पतालों में 313 वेंटिलेटर हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से शहर के नागरिकों को ‘तबाही की चेतावनी’ देने वाले ईमेल और फोन कॉल किए गए हैं। चिकित्सा अधिकारियों के मुताबिक ‘हमने लोगों को महामारी के कारण उपजे हालात की सूचना भेजी है। हमारे अस्पताल गंभीर रूप से तनावग्रस्त हैं। हम उनका बोझ कम करने के लिए लोगों के साथ मिलकर उसे कम कर सकते हैं।’ डेल्टा संस्करण (Delta version) के कारण शहर में पिछले एक माह में नए मरीजों की अस्पताल में भर्ती होने की दर औसत 600 प्रतिशत  से अधिक बढ़ी है। जबकि ICU में मरीज 570 प्रतिशत बढ़े।
ऑस्टिन में 10 गुणा तक हुई संक्रमितों में बढ़ोतरी
स्वास्थ्य विभाग(Health Department) के अनुसार 4 जुलाई को वेंटिलेटर पर सिर्फ आठ मरीज थे, जो एक ही दिन में बढ़कर 102 तक पहुंच गई। आने वाले दिनों में ऑस्टिन में आने वाले मामलों में 10 गुना तक वृद्धि और हो सकती है। पूरे टेक्सास राज्य में कुल 439 ICU बेड और 6,991 वेंटिलेटर बताए जा रहे हैं। अमेरिका के डॉ. एंथनी फाउची के अनुसार देश के 40 प्रतिशत केस टेक्सास और फ्लोरिडा(Texas and Florida) से आ रहे हैं। अरकंसास राज्य में लोगों ने कोरोना टीकाकरण का व्यापक प्रतिरोध किया। इस वजह से यहां के गांवों में स्थिति अत्यंत गंभीर हो गई है। यहां के गांवों में बड़ी संख्या में रिपब्लिकन पार्टी (Republican Party) के समर्थक रहते हैं। अरकंसास में अधिकांश घर ऐसे हैं जिनमें लोगों ने किसी अपने को खोया है। लेकिन यहां की ब्रेडली काउंटी देशभर में टीकाकरण के लिए मिसाल बन गई है। दस हजार की आबादी वाली इस काउंटी में आधे लोगों का टीकाकरण हो चुका है। जबकि , पिछले साल अप्रैल 2020 में यहां एक रिटायर्ड स्कूली शिक्षक की वायरस से मौत हो गई थी। 

Must Read: हमास और इस्लामिक जिहाद गाजा में इजरायल के कब्जे का करेगा प्रतिरोध

पढें विश्व खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :