राजस्थान सहकारिता मंत्री की बैठक: राजस्थान में सहकारिता मंत्री आंजना ने ग्राम सेवा सहकारी समितियों के चुनाव प्रक्रिया जून में करवाने के दिए निर्देश

सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने कहा कि ग्राम सेवा सहकारी समितियों में समयबद्ध रूप से चुनाव कराये जाएंगे। प्रदेश में माह जून, 2022 से ग्राम सेवा सहकारी समितियों में चुनाव की प्रक्रिया को प्रारंभ कर दिया जाएगा। 

राजस्थान में सहकारिता मंत्री आंजना ने ग्राम सेवा सहकारी समितियों के चुनाव प्रक्रिया जून में करवाने के दिए निर्देश

जयपुर।
सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने कहा कि ग्राम सेवा सहकारी समितियों में समयबद्ध रूप से चुनाव कराये जाएंगे। प्रदेश में माह जून, 2022 से ग्राम सेवा सहकारी समितियों में चुनाव की प्रक्रिया को प्रारंभ कर दिया जाएगा। 
उन्होंने समयबद्ध रूप से चुनाव कराने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रति पांच वर्ष उपरांत सहकारी समितियों में चुनाव किए जा सके।
आंजना बुधवार को अपेक्स बैंक में आयोजित बैठक में विभागीय अधिकारियों एवं केन्द्रीय सहकारी बैंकों के प्रबंध निदेशकों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि पैक्स एवं लेम्पस में काफी समय से व्यवस्थापकों के पद रिक्त चल रहे है। 
इन पदों को भरने के लिए करीब 3 हजार पैक्स एवं लेम्पस में व्यवस्थापकों के पदों पर भर्ती की जाएगी। उन्होंने निर्देश दिए कि रिक्त पदों को भरने के लिए शीघ्र ही स्क्रीनिंग एवं भर्ती संबंधी नियमों को जारी किया जाए। 
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की बजट घोषणा के अनुरूप सभी ग्राम पंचायतों पर ग्राम सेवा सहकारी समितियों का गठन किया जा रहा है। सहकारिता मंत्री ने कहा कि वर्ष 2021-22 में 28.53 लाख किसानों को 18072 करोड़ रूपए का फसली ऋण वितरित किया गया है।


राजस्थान में 1 वर्ष में सर्वाधिक फसली ऋण
प्रदेश के इतिहास में 1 वर्ष में सर्वाधिक फसली ऋण वितरण का रिकॉर्ड है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष किसानों को 20 हजार करोड़ रूपए का फसली ऋण का वितरण किया जा रहा है और 5 लाख नए किसानों को भी इससे जोड़ा जा रहा है।
उन्होंने निर्देश दिए कि किसानों को समय पर फसली ऋण का वितरण किया जाए एवं किसान को किसी प्रकार की समस्या नही आने दी जाए।
आंजना ने सचिवालय नगर योजना में पीड़ितों को भूखण्ड आंवटन के संदर्भ में निर्देश दिए कि जयपुर विकास प्राधिकरण एवं विभाग के अधिकारी आपस में समन्वय बनाकर इसका समाधान करें ताकि वर्षों से पीड़ित वास्तविक परिवारों को उनका हक मिल सके।
प्रमुख शासन सचिव, सहकारिता श्रेया गुहा ने कहा कि पैक्स एवं लेम्पस में चुनाव के लिए शीघ्र ही वार्डो का निर्धारण करे एवं टाइम बाउन्ड़ में चुनाव को संम्पन कराए। 
उन्होंने कहा कि सचिवालय नगर योजना के संदर्भ में शीघ्र ही समस्त पहलुओं का अध्ययन कर समाधान का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय सहकारी बैंकों में रिक्त पदों पर भर्ती प्रक्रिया को शीघ्र संम्पन्न किया जाए। उन्होंने निर्देश दिए कि पैक्स एवं लेम्पस की आय को बढ़ाने के लिए कार्यों में विविधिता लाई जाए।
रजिस्ट्रार, सहकारिता मुक्तानंद अग्रवाल ने कहा कि बैंकों में गबन नहीं हो इसके लिए जारी दिशा-निर्देशों की पालना सुनिश्चित कराए।
उन्होंने कस्टम हायरिंग सेन्टर की स्थापना एवं गोदाम निर्माण को शीघ्र पूरा करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बैंक ग्राम सेवा सहकारी समितियों को मार्जन राशि एवं हिस्सा राशि शीघ्र जारी करें।
बैंक व्यवस्थापकों की समस्या अपने स्तर समाधान करें। उन्होंने व्यवस्थापकों की विभिन्न समस्याओं पर विस्तार से चर्चा की।
बैठक में अतिरिक्त रजिस्ट्रार प्रथम राजीव लोचन शर्मा, प्रबंध निदेशक राजफैड उर्मिला राजोरिया, प्रबंध निदेशक अपेक्स बैंक बिजेन्द्र राजोरिया सहित विभागीय अधिकारी एवं केन्द्रीय सहकारी बैंकों के प्रबंध निदेशक गण एवं अन्य बैंकिग अधिकारी उपस्थित थे। 

Must Read: सिरोही विधायक संयम लोढ़ा ने जिला अस्पताल में कोविड व्यवस्थाओं का लिया जायजा, मौजूदा हालातों को देखते हुए दिए आवश्यक निर्देश

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :