Gyanvapi Masjid Controversy: ज्ञानव्यापी मस्जिद का सर्वे पूरा, शिवलिंग मिलने के बाद कोर्ट का आदेश, केवल 20 लोग ही कर सकेंगे नमाज अदा 

उत्तर प्रदेश के वाराणसी में विश्वनाथ मंदिर से सटी ज्ञानव्यापी मस्जिद का सर्वे का कार्य आज सोमवार को पूरा हो गया है। सर्वे दल को ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में नंदी की प्रतिमा के सामने वजू खाने के पास शिवलिंग मिलने का दावा किया गया है।

ज्ञानव्यापी मस्जिद का सर्वे पूरा, शिवलिंग मिलने के बाद कोर्ट का आदेश, केवल 20 लोग ही कर सकेंगे नमाज अदा 
Gyanvapi Masjid

नई दिल्ली । उत्तर प्रदेश के वाराणसी में विश्वनाथ मंदिर से सटी ज्ञानव्यापी मस्जिद का सर्वे का कार्य आज सोमवार को पूरा हो गया है। सर्वे दल को ज्ञानवापी मस्जिद परिसर में नंदी की प्रतिमा के सामने वजू खाने के पास शिवलिंग मिलने का दावा किया गया है। उसके बाद वाराणसी की एक अदालत ने सोमवार को जिला प्रशासन को उस हिस्से को सील करने का निर्देश दिया है।

ये भी पढ़ें:- आदिवासियों के गढ़ में बोले राहुल गांधी- अंग्रेजी स्कूल खोल रही गहलोत सरकार, आदिवासियों को होगा ज़बरदस्त फायदा

मस्जिद में केवल 20 लोगों को नमाज अदा करने की इजाजत 
वाराणसी की अदालत ने इसी के साथ पुलिस कमिश्नरेट वाराणसी और सीआरपीएफ कमांडेंट को सील किए जाने वाले स्थान को संरक्षित और सुरक्षित करने की जिम्मेदारी क निर्देश दिए हैं। अदालत ने जिलाधिकारी को निर्देशित किया है कि जहां शिवलिंग मिलने का दावा किया गया है उस स्थान पर लोगों का प्रवेश वर्जित किया जाए और मस्जिद में केवल 20 लोगों को ही नमाज अदा करने की इजाजत दी जाएं।

ये भी पढ़ें:- कुल्लू में भीषण हादसा, दिल्ली के पर्यटकों की कार खाई में गिरी, 4 लोगों की मौत, 3 को बचाया गया

सर्वे के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में कल होगी सुनवाई
वहीं दूसरी ओर, वाराणसी की अंजुमन इंतजामिया मस्जिद की मैनेजमेंट कमिटी की ओर से ज्ञानवापी परिसर के सर्वे के खिलाफ दायर याचिका पर सुप्रीम कोर्ट कल यानि मंगलवार को सुनवाई करेगा। इस याचिका में कमेटी ने इलाहाबाद हाई कोर्ट के 21 अप्रैल के आदेश को चुनौती दी गई है। जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ और पी एस नरसिम्हा की बेंच इस मामले की सुनवाई करेगी।

ये भी पढ़ें:-  PM Modi के खिलाफ विपक्ष को एकजुट करने से पहले ही ये क्या बोल गए Rahul Gandhi, भड़की SP-JDU और RJD

Must Read: अमरनाथ यात्रा पर अस्थायी रोक! प्रशासन अलर्ट

पढें अध्यात्म खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :