सियासत से सियासत के खिलाफ चाहिए न्याय: सरकार मना चुकी महिला समानता दिवस, पर एक महिला भटक रही न्याय के लिए

गहलोत सरकार ने शुक्रवार को राजधानी में बड़ा आयोजन कर महिला समानता दिवस तो मना लिया, महिलाओं के लिए बड़े-बड़े वादे भी कर दिए, लेकिन माउंट आबू में पूर्व विधायक रतन देवासी के राजनीतिक रसूखातों से परेशान होकर महिला की आपबीती नहीं सुनी।

सरकार मना चुकी महिला समानता दिवस, पर एक महिला भटक रही न्याय के लिए

सिरोही। रानीवाड़ा से पूर्व विधायक और पिछली बार की कांग्रेस सरकार में उप मुख्य सचेतक रहे कांग्रेसी नेता रतन देवासी पर माउंट आबू में अपना पारिवारिक होटल चलाने वाली एक महिला ने पिंकसिटी प्रेस क्लब में प्रेस कॉन्फ्रेंस करके गंभीर आरोप लगाए हैं। बावजूद इसके सरकार के कान पर जूं तक नहीं रेंग रही है। महिला ने देवासी के खिलाफ पुलिस शिकायत भी दी हैं, लेकिन अब तक इस मामले में एक कदम भी आगे नहीं बढ़ पाया है।

महिला का कहना है कि माउंट आबू में अपनी राजनीतिक पहुंच का रौब दिखाकर रतन देवासी से उसका जीना मुहाल कर दिया। गहलोत सरकार ने शुक्रवार को राजधानी में बड़ा आयोजन कर महिला समानता दिवस तो मना लिया, महिलाओं के लिए बड़े-बड़े वादे भी कर दिए, लेकिन माउंट आबू में पूर्व विधायक रतन देवासी के राजनीतिक रसूखातों से परेशान होकर महिला की आपबीती नहीं सुनी।

यह महिलामुंबई से अपने पारिवारिक होटल का संचालन करने 15 वर्ष पहले माउंट आबू आई थी। उसकी पारिवारिक होटल के पास ही रतन देवासी ने भी रेस्टोरेंट खोला था। तब रतन देवासी रानीवाड़ा से विधायक थे। महिला का आरोप है कि पहली मुलाकात में वह काफी शालीनता से पेश आया। इसके बाद महिला को उसने अपने जाल में फंसाने के लिए कई हथकंडे़ अपनाए, महिला ने उसकी 'डिमांड' पूरी नहीं की तो परेशान करने लगा। माउंट आबू में होटल चलाने वाली 45 वर्षीय महिला ने एसपी सिरोही ममता गुप्ता को हाल ही में पूर्व विधायक व उप मुख्य सचेतक रहे रतन देवासी के खिलाफ गंभीर आरोपों की शिकायत दी है।

शिकायत में महिला ने आरोप लगाए हैं कि रतन देवासी अपनी राजनीतिक पहुंच के आधार पर उसकी सम्पत्ति को खुर्द-बुर्द करने व उसे हथियाने के लिए भय दिखा रहा हैं। नाजायज संबंध बनाने का दबाव डाल रहा है। महिला होटेलियर मूलत: मुंबई में पढ़ी लिखी सभ्रांत महिला है, उसकी शादी माउंट आबू में हुई थी। वह परिवार सहित शांति सदन माउण्ट आबू में रहती है और पति के साथ शांति होटल का कारोबार संभालती है।

पीड़िता दिल्ली व मुंबई में बैंकर रही है। वर्ष 2008 में उनकी सास का निधन होने के बाद वह माउण्ट आबू आई व अपने पति के साथ पारिवारिक होटल शांति को संभालने लगी थी। माउंट आबू में शांति होटल के पास ही वंदे मातरम होटल और कनक डायनिंग रेस्टोरेंट चलाने वाले रतन देवासी से उसकी मुलाकात 2010-11 में हुई, तब वह विधायक थे। विधायक के प्रभाव में आकर महिला ने उनसे बातचीत करना और संपर्क रखना तो शुरू कर दिया लेकिन धीरे-धीरे वह परेशान करने लगा।

माउंट आबू में पीड़ित महिला का शांति होटल जहां स्थित है उसके पड़ोस में ही रतन देवासी भी होटल वंदे मातरम और कनक रेस्टोरेंट चलाते हैं। दोनों प्रॉपर्टी अगल-बगल में है, ऐसे में बिजनेस बंद कराकर उसे डरा- धमकाकर दबाव बनाने की साजिश की जा रही है। महिला का आरोप है कि रतन देवासी की उसकी देह पर बुरी नजर है। वह इसके लिए उसे मुम्बई की कई होटलों में भी बुला चुका है।

माउंट आबू में होटल शांति के मालिक हर्ष गेहानी और मंजू गुरबानी ने होटल वंदे मातरम के कनक डाइनिंग हॉल पर अवैध निर्माण और अवैध अतिक्रमण का आरोप लगाया है। मंजू ने बताया कि अवैध निर्माण को लेकर रानीवाडा से पूर्व विधायक रतन देवासी, इनके भाई भारत देवासी और अन्य लोगों द्वारा जबरन उनके सेटबैक एरिया में कब्जा कर लिया गया और उन्हें परेशान किया जाता रहा।

इस सेटबैक एरिया में कनक डाइनिंग हॉल के नाम से अवैध निर्माण कर लिया। इस संबंध में पुलिस में शिकायत दी गई, लेकिन उसकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। देवासी बन्धुओं के स्वामित्व की होटल कनक डायनिंग हॉल व होटल वंदेमातरम के पास होटल शांति स्थित हैं। इन दोनों होटलों के बीच नगरपालिका से स्वीकृत नक्शे के मुताबिक सेटबैक एरिया मौजूद था, लेकिन देवासी बन्धुओं ने अवैध तरीके से निर्माण कर उस सेटबैक एरिया को ही अपने कब्जे में ले लिया।

इस सेटबैक एरिया में होटल शांति की सीवरेज पाइपलाइन लगी हुई हैं। अवैध छत बनाकर और दोनों द्वार पर दीवार निर्माण कर देवासी बंधुओ ने इस जगह पर अतिक्रमण करके पड़ोसी होटल शांति के संचालक को एक प्रकार से मानसिक प्रताड़ना देने का कार्य किया।

मंजू गुरबानी ने बताया कि शांति होटल के सेटबैक एरिया के नाम से 10 फीट जगह छोड़ी गई थी। कनक डाइनिंग हॉल ने होटल शांति के सेटबैक एरिया में सीमेंट के पतरे लगाते हुए कब्जा कर लिया। इतना ही नहीं, होटल शांति के कमरों की खिड़कियों तक को कच्चा निर्माण कर बंद कर दिया। कनक डाइनिंग हॉल ने इस क्षेत्र में बाथरूम का निर्माण करवा दिया, इससे होटल शांति के ग्राहकों को परेशानी हो रही है।

होटल शांति की ओर से जनवरी 2021 में उपखण्ड अधिकारी माउंट आबू से सीवरेज लाइन मरम्मत के कार्य की अनुमति मांगी गई। एसडीएम माउंट आबू ने अनुमति तक दे दी। लेकिन मौके पर रतन देवासी के द्वारा किए गए अवैध कब्जे के चलते ​मरम्मत कार्य नहीं हो पा रहा। ऐसे में परिवादी ने कोर्ट में अपील की।

Must Read: डीजीपी ने जन संवाद के दौरान की अपील,आपराधिक घटनाओं की सूचना तत्काल दें पुलिस को

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :