पंचायती राज विभाग की समीक्षा बैठक: सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं के बेहतर ​क्रियान्वयन के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों को प्रो एक्टिव होकर करना होगा कार्य: जैन

पंचायती राज विभाग के शासन सचिव नवीन जैन ने कहा कि राज्य सरकार की मंशा है कि सरकार की योजनाओं का लाभ अंतिम छोर पर रहने वाले व्यक्ति को मिले इसके लिए योजनाओं का बेहतर ढंग से क्रियान्वयन करने के लिए अधिकारी एवं कर्मचारी प्रो-एक्टिव होकर राज कार्य संपादन किया जाना सुनिश्चित करें।      

सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं के बेहतर ​क्रियान्वयन के लिए अधिकारियों और कर्मचारियों को प्रो एक्टिव होकर करना होगा कार्य: जैन

जयपुर।
पंचायती राज विभाग के शासन सचिव नवीन जैन ने कहा कि राज्य सरकार की मंशा है कि सरकार की योजनाओं का लाभ अंतिम छोर पर रहने वाले व्यक्ति को मिले इसके लिए योजनाओं का बेहतर ढंग से क्रियान्वयन करने के लिए अधिकारी एवं कर्मचारी प्रो-एक्टिव होकर राज कार्य संपादन किया जाना सुनिश्चित करें।          
जैन मंगलवार को यहां पंचायती राज भवन में आयोजित बैठक के दौरान विभागीय अधिकारियों को निर्देश प्रदान कर रहे थे। 
उन्होंने पंचायती राज विभाग द्वारा किए जा रहे कार्यों के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी संबंधित शाखा प्रभारी अधिकारियों से ली। 
उन्होंने संस्थापन शाखा से संबंधित लंबित प्रकरणों के बारे में जानकारी लेकर आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

उन्होंने 15 वित्त आयोग एवं छठवां वित्त आयोग के तहत करवाए जाने वाले विकास कार्यों के बारे में भी विस्तार पूर्वक चर्चा की।            
शासन सचिव ने ई- ग्राम स्वराज पोर्टल ई-पंचायत एप्लीकेशन सहित आईटी से संबंधित अन्य बिंदुओं पर गहनता से चर्चा की।
उन्होंने वर्ष 2019 में नवसृजित पंचायत समितियों के लिए अंबेडकर भवन की निर्माण एवं विलेज मास्टर प्लान की प्रगति के बारे में संबंधित अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिए।        
बैठक में पंचायती राज निदेशक ओम कसेरा, स्वच्छ भारत मिशन निदेशक विश्व मोहन शर्मा एवं जल ग्रहण विकास एवं भू संरक्षण विभाग के निदेशक आशीष गुप्ता सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Must Read: राजस्थान में माहौल बिगाड़ने वालों पर अब होगी सख्त कार्रवाई, सीएम गहलोत के निर्देश

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :