Jalore कार्मिकों का नवीन पेंशन का विरोध: Jalore के जसवंतपुरा ब्लॉक के सरकारी कर्मचारियों ने नवीन पेंशन योजना का किया विरोध, सभा में एकजुटता की अपील, निकाला कैंडल मार्च

नेशनल मूवमेंट फ़ॉर ओल्ड पेंशन स्कीम (NMOPS) के बैनर तले नए साल पर जसवंतपुरा ब्लॉक के सभी विभागों के कर्मचारियों ने कैंडल मार्च निकाला। कर्मचारियों को पुरानी पेंशन योजना का लाभ दिए जाने की मांग पर कैंडल मार्च से पहले रेवदर रोड ​स्थित माताजी मंदिर में सभा आयोजित की गई। 

Jalore के जसवंतपुरा ब्लॉक के सरकारी कर्मचारियों ने नवीन पेंशन योजना का किया विरोध, सभा में एकजुटता की अपील, निकाला कैंडल मार्च

जसवंतपुरा जालोर।
नेशनल मूवमेंट फ़ॉर ओल्ड पेंशन स्कीम (NMOPS) के बैनर तले नए साल पर जसवंतपुरा ब्लॉक के सभी विभागों के कर्मचारियों ने कैंडल मार्च निकाला। 
कर्मचारियों को पुरानी पेंशन योजना का लाभ दिए जाने की मांग पर कैंडल मार्च से पहले रेवदर रोड ​स्थित माताजी मंदिर में सभा आयोजित की गई। 
इस सभा में सभी कर्मचारियों ने नवीन पेंशन योजना का विरोध करते हुए आक्रोश व्यक्त किया। 
सभा में राजस्थान शिक्षक संघ प्रगतिशील के प्रदेश मुख्य महामंत्री पूनमचंद विश्नोई ने सभी कर्मचारियों के संगठनों को एकजुट होकर नवीन पेंशन योजना के खिलाफ अभियान चलाने की अपील की। 
इस दौरान दिनेश विश्नोई ने पुरानी व नई पेंशन स्कीम के अंतर को समझाते हुए कर्मचारियों के साथ होने वाले छलावे के विरुद्ध लड़ाई को तेज करने का आह्वान किया।


वहीं डूंगर सिंह काबावत ने कर्मचारियों को साझा संघर्ष करने और सुनियोजित रणनीति के तहत संघर्ष में सहभागिता सुनिश्चित करने का आह्वान किया। 
रामकरण चारण ने जन प्रतिनिधियों की स्वयं के लिए पुरानी और कर्मचारियों के लिए नवीन पेंशन योजना व्यवस्था करने के खिलाफ नाराजगी प्रकट की। 
उन्होंने कहा कि सत्ताधारी सरकार दोहरे मापदंड अपना रही है। इससे प्रदेश एवं देश के समस्त कर्मचारियों में जबरदस्त आक्रोश व्याप्त है। 
इस दौरान विक्रमसिंह चारण ने कहा कि इस योजना के लागू होने से कर्मचारियों की आर्थिक सुरक्षा की कोई गारंटी नहीं है। इसमें होने वाले निवेश शेयर मार्केट पर आधारित होने के कारण इसका प्रतिफल अनियमित असुरक्षित है। 
सभा में पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष मेहबूब खान सोमता ने नवीन पेंशन योजना से होने वाले आर्थिक नुकसान से अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि  यदि समय रहते संघर्ष को तेज नहीं किया गया तो आने वाले समय मे इसका खामियाजा समस्त नवीन पेंशन धारी कार्मिकों को भुगतना पड़ेगा।


प्रगतिशील के ब्लॉक अध्यक्ष जसाराम विरास ने पुरानी पेंशन योजना की बहाली के लिए सभी को एकजुट होकर संघर्ष में जुटने की बात कही। भगवत सिंह ने चरणबद्ध तरीके से आंदोलन को आगे बढ़ाने और व्यापक धरने प्रदर्शन की रणनीति बनाने की बात कही।
भोमाराम सिंघल ने आंदोलन को गति प्रदान करने और एकजुटता के साथ लड़ाई को तेज करने की बात कही। 
सभा में मोहम्मद असलम ने बताया कि भविष्य में बढ़ने वाली महंगाई के अनुपात में इस योजना का प्रतिफल अत्यंत न्यून होगा। इससे कर्मचारी अपनी मूलभूत आवश्यकताओं की पूर्ति तक नहीं कर पाएगा। 
मंत्रालयिक कर्मचारी भरत प्रजापत ने नवीन पेंशन को हर हाल में निरस्त कर पुरानी पेंशन की बहाली तक आंदोलन को जन आंदोलन बनाने की अपील की।
अंत में ब्लॉक संयोजक राजेन्द सिंह मांडोली ने समस्त कर्मचारियों को सहभागिता हेतु आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का संचालन काला राम पहाड़ियां ने किया।


इस मौके पर कुलदीप सिंह चारण, गणपत सिंह, बुधाराम, शांतिलाल मेघवाल,फतेह कुमार, नारायण लाल, बाबूलाल बोसिर, भीमाराम, कमलेश कुमार, प्रवीण गर्ग, ओमप्रकाश पुरोहित, प्रवीण कुमार पुरोहित, शैतान सिंह, वचनाराम, रामसिंह ,नेमाराम,अशोक भंडारी,नरेंद्रपाल सिंह,कृष्णकांत, भगवत सिंह देवल,
बगाराम प्रजापत, परमेश्वर कुमार, जयंतीलाल सेन, जेपाराम परमार, हेमंत घांची, नरेंद्र सिंह, किशन लाल देवासी, रतनाराम, देवीदान, रावताराम,प्रेमसुखशिव दयाल मीणा , दशरथ कुमार, अभिमन्यु सिंह,जयंतीलाल सेन, हीरालाल, भंवरलाल पुरोहित, देवीसिंह चेकला, फूलवन्ती, पृथ्वीराज, नैना भारती समेत सैंकड़ो कमर्चारी मौजूद रहे।

Must Read: विश्व पर्यावरण दिवस के दिन ही काटे जा रहे हरे वृक्ष

पढें जालोर खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :