रानीवाड़ा का मामला:  3 महीने पहले युवती की संदिग्ध आत्महत्या के मामले में पुलिस की ढिलाई, पिता ने एसपी से मिल लगाए गंभीर आरोप

पीडि़त का कहना है कि उसकी पुत्री रानीवाड़ा कला स्थित सरूप हॉस्पिटल में काम करती थी। इस अस्पताल से घटना स्थल तक पहुंचने की दूरी एक किमी है और मुख्य बाजार से होकर गुजरना पड़ता है।

 3 महीने पहले युवती की संदिग्ध आत्महत्या के मामले में पुलिस की ढिलाई, पिता ने एसपी से मिल लगाए गंभीर आरोप

जालोर. रानीवाड़ा थाना क्षेत्र के अंतर्गत 8 मई को रेलवे ट्रेक पर युवती द्वारा आत्महत्या के मामले में पिता ने एसपी को लिखित में शिकायत पेश कर प्रकरण में संदिग्ध पहलू बताते हुए हत्या की आशंका जताई है। इससे पूर्व युवती द्वारा आत्महत्या पर पुलिस ने मर्ग दर्ज किया था। 

प्रकरण में पिता वागाराम का कहना है कि उसकी पुत्री उर्मिला के पास एक मोबाइल फोन था। यह मोबाइल फोन पुलिस ने घटना के बाद अपने कब्जे में ले लिया था। पिता ने संभावना जताई है कि इस फोन में अहम सबूत हो सकते हैं। पीडि़त का कहना है कि उसकी पुत्री रानीवाड़ा कला स्थित सरूप हॉस्पिटल में काम करती थी। इस अस्पताल से घटना स्थल तक पहुंचने की दूरी एक किमी है और मुख्य बाजार से होकर गुजरना पड़ता है। पिता ने शिकायत में बताया है कि बाजार में विभिन्न स्थानों पर लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज को खंगालने पर भी इस घटनाक्रम के वास्तविक पहलू सामने आ सकते हैं।

ज्ञापन में जयंतीलाल नामक व्यक्ति द्वारा मृतका के मोबाइल की संदिग्ध वीडियो कॉलिंग की जांच की मांग भी की गई है। जयंतीलाल मेघवाल पुत्र हंजारीराम मेघवाल मेढककला का रहने वाला है और रानीवाड़ा में नवजीवन लेबोरेटरी चलाता है। उसने उसकी पुत्री के मोबाइल पर 10 वीडियो कॉल व 7 मैसेज किए थे, वो डिलीट किए गए है। इन संदिग्ध गतिविधियों को चलते उस पर भी शक है, लेकिन पुलिस ने इनकी किसी भी तरह की जांच नहीं की है। साथ ही यह भी जानकारी सामने आ सकती है कि घटनाक्रम से पूर्व उर्मिला के साथ कौन कौन था।

पैर कट गए थे युवती के

8 मई को घटित घटनाक्रम में उर्मिला का शव रेलवे ट्रेक पर मिला था। उसके दोनों पैर कट गए थे और उसकी मौके पर ही मौत हो गई थी।

इनका कहना है...

पूरा प्रकरण संदेह के घेरे में है। मैंने पहले दिन से ही पुलिस  को प्रकरण में संदिग्ध पहलू से अवगत करवाया था। लेकिन पुलिस ने मामले में शिकायत पर गौर नहीं किया, मेरी पुत्री ने आत्हत्या नहीं की, प्रकरण में हत्या की आशंका है।

-वागाराम, मृतका का पिता

युवती ने ट्रेन से कटकर आत्महत्या की थी। पिता ने प्रकरण में शक जाहिर किया था। जिसको आधार में रखकर भी जांच की जा रही है।

-पदमाराम, थाना प्रभारी, रानीवाड़ा

Must Read: डूंगरपुर में भाजपा सरकार ने हटाया तो सिरोही में कांग्रेस सरकार ने घर बिठाया

पढें जालोर खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :