रानीवाड़ा: पिता की विरासत से बेटी को बेदखल करने के लिए चचेरा भाई ले रहा गुंडों का सहारा, एसपी से लेकर गृहमंत्री तक पीड़िता ने लगाई न्याय की गुहार

पीड़िता ने पुलिस थाना, जिला पुलिस अधीक्षक के साथ साथ प्रदेश के गृहमंत्री तक से लगाई फरियाद पर नही मिल रहा न्याय। जिम्मेदारों द्वारा कार्रवाई नही करने के आरोपी का बढ़ रहा हौसला, अब आपराधिक प्रवृत्ति के लोगो से फोन करवाकर पीड़िता को डराने धमकाने पर उतारू हुआ आरोपी।

पिता की विरासत से बेटी को बेदखल करने के लिए चचेरा भाई ले रहा गुंडों का सहारा, एसपी से लेकर गृहमंत्री तक पीड़िता ने लगाई न्याय की गुहार

जालोर। देश का संविधान कहता हैं कि पिता की विरासत में बेटा बेटी का हक समान रूप से हैं। नियमानुसार कोई भी व्यक्ति पैतृक संपत्तियों से अपनी बहन को जोर जबरदस्ती बेदखल नही कर सकता। लेकिन जालोर जिले की रानीवाड़ा तहसील क्षेत्र के बड़गांव में एक ऐसा मामला सामने आया हैं जिसमें एक पिता की संपत्ति में पुत्र नही होने से सिर्फ बेटियां ही हकदार हैं, बावजूद उस बेटी का चचेरा भाई अपने चाचा की संपत्ति को हड़पने की नीयत से चचेरी बहन को लंबे समय से प्रताड़ित कर हैं। लेकिन जिम्मेदार उसे न्याय दिलाने की जगह सिर्फ तमाशबीन बने बैठे हैं। आरोपी कुतुबद्दीन ने संपत्ति हड़पने के उद्देश्य से 17 फरवरी को पीड़िता मारिया के घर में जोर जबरदस्ती के घर में घुसकर मारिया को जान से मारने की कोशिश भी की। जिसकी रिपोर्ट पीड़िता ने रानीवाड़ा पुलिस थाने में दी पर रानीवाड़ा पुलिस ने उस पर कोई कार्रवाई नही की। उसके बाद पीड़िता ने पूरे मामले की लिखित रिपोर्ट जालोर एसपी को भी भेजी, पर ढाक के वही तीन पात वाली बात बनकर रह गई। ऐसे में आरोपी के हौसले बुलंद होते गए और अब आरोपी कुतुबद्दीन अपनी चचेरी बहन मारिया को गुंडों का डर दिखाकर इस सम्पत्ति को हड़पने की कोशिश में जुट गया हैं। पीड़िता मारिया के पास कई अनजान नम्बरो से फोन कॉल्स आ रहे हैं, जिसमें उसे उसके पिता की संपत्ति को कुतुबद्दीन के नाम ट्रांसफर करने धमकी दी जा रही हैं, साथ ही ऐसा नही करने पर उसके साथ बुरा होने की भी धमकी दी जा रही हैं। जिसको लेकर पीड़िता ने प्रदेश सरकार के गृहमंत्री के नाम ज्ञापन भेजकर न्याय की गुहार लगाई हैं। लेकिन दो महीने से ज्यादा वक्त गुजरने के बाद भी पीड़िता को कोई राहत नही मिल रही हैं। 

◆ ये हैं पूरा मामला

दरअसल बड़गांव के स्वर्गीय मोहम्मद बोहरा मुसलमान के कोई पुत्र रूपी संतान नही हैं, उनके पीछे उनकी बेटियां ही उनकी वारिसदार हैं। स्व.मोहम्मद बोहरा की मौजा बड़गांव की सरहद में खसरा नम्बर 1781 रकबा 0.36 हेक्टेयर भूमि में आधा हिस्सा हैं, वहीं शेष आधा हिस्सा स्व.मोहम्मद के भाई अबास बोहरा का हैं। अबास बोहरा के एक पुत्र हैं जिसका नाम कुतुबद्दीन हैं और ये आपराधिक प्रवृत्ति का व्यक्ति हैं। मोहम्मद बोहरा व अबास बोहरा दोनो भाईयों की मृत्यु के बाद अब कुतुबद्दीन उसके पिता और चाचा दोनो की संपत्ति हड़पना चाहता हैं। जिसके लिए वो अपनी चचेरी बहन मारिया पर  अनेक तरीकों से दबाव बना रहा हैं। इसके अलावा मारिया के पिता की बड़गांव कस्बे में दुकानें भी हैं, जो किराए पर दे रखी हैं। पर कुतुबद्दीन उन किराएदारों पर भी दबाव बनाकर हर महीने किराया वसूल कर लेता हैं।

Must Read: संस्कृत शिक्षा मंत्री डॉ कल्ला ने जालोर के गोपाल बाड़ी संस्कृत विद्यालय में रिक्त पदों पर शिक्षक लगाने का दिया आश्वासन

पढें जालोर खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :