इस जज्बे से जीतेगा हिंदुस्तान: बाढ़ प्रभावित 14 पंचायतों में "टीका वाली नाव" में 2 एएनएम  लगाएगी कोरोना वैक्सीन

मुजफ्फरपुर से कोरोना वैक्सीनेशन को लेकर की गई पहल देश के लिए उदाहरण साबित हो रही है। मुजफ्फरपुर के 14 पंचायतों में बाढ़ का असर देखने को मिल रहा है, ऐसे में वहां के लोगों को कोरोना से बचाने के लिए जिला प्रशासन की ओर से टीका वाली नाव शुरू कर दी।

बाढ़ प्रभावित 14 पंचायतों में "टीका वाली नाव" में 2 एएनएम  लगाएगी कोरोना वैक्सीन

नई दिल्ली। 
कहते है जहां चाह वहां राह होती है। आज देश में जहां कोरोना  से हालात बद से बदतर हुए, वहीं इस महामारी में भी कुछ लोग जी जान से जुटे हुए है। बिहार के  मुजफ्फरपुर ( Muzaffarpur) से एक ओर प्रकृति कहर बरपा रही है, तो दूसरी ओर कोरोना से भी हालात खराब से है। इस बीच मुजफ्फरपुर से कोरोना वैक्सीनेशन (Corona Vaccination) को लेकर की गई पहल देश के लिए उदाहरण साबित हो रही है। मुजफ्फरपुर के 14 पंचायतों में बाढ़ का असर देखने को मिल रहा है, ऐसे में वहां के लोगों को कोरोना से बचाने के लिए जिला प्रशासन की ओर से टीका वाली नाव ( Vaccine boat) शुरू कर दी।


जानकारी के मुताबिक कोरोना से जंग को बागमती (Bagmati area) में टीका वाली नाव उतरी। पहले चरण में शुक्रवार को कटरा प्रखंड में दो नावों का परिचालन शुरू हुआ है। सिविल सर्जन डा.विनय कुमार शर्मा (Civil surgeon Dr. Vinay Kumar Sharma) ने पानी में उतरकर नाव को रवाना किया। प्रत्येक नाव पर दो एएनएम, दो गोताखोर और नाविक रहेंगे। नाव की उपलब्धता जिला प्रशासन ने और एएनएम व गोताखोर की व्यवस्था स्वास्थ्य विभाग ने की है। दोनों नावों से कटरा में बाढ़ प्रभावित (Vaccine boat will go to flood affected area) 14 पंचायतों में जाकर टीकाकरण का कार्य किया जाएगा। टीकाकरण के लिए राज्य में इस तरह का पहला प्रयास किया गया है। सीएस ने बताया कि टीकाकरण से कोई वंचित न रह जाए इसलिए प्रथम चरण में कटरा में इस तरह से नाव का परिचालन शुरू किया गया है। आवश्यकता पडऩे पर गायघाट, औराई जैसे बाढ़ प्रभावित इलाकों में भी इसे चलाया जाएगा। नाव पर स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा के सभी इंतजाम किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि इस तरह की नाव की परिकल्पना जिलाधिकारी ने की थी, जिसे बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में मूर्तरूप दिया जा रहा है। टीकाकरण को सफल बनाने में केयर संस्था सहयोग कर रही है। संस्था के जिला समन्वयक सौरभ तिवारी ने कहा कि उनके दो कर्मी अगले छह महीने तक प्रत्येक प्रखंड में टीकाकरण कार्यों में सहायता करेंगे। वे मुख्य रूप से टीकाकरण के लिए लोगों को प्रेरित करेंगे। टीका वाली नाव के उद्घाटन के साथ ही लोगों का टीकाकरण भी किया गया। मौके पर डीपीएम बीपी वर्मा, बीएम कमलेश आदि थे।  

Must Read: अब प्रदेश में दुपहिया वाहन खरीदारों को वाहन क्रय करने के साथ मिलेगा निःशुल्क हेलमेट

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :