कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष का भाजपा पर निशान: कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने कहा राजस्थान में धमकाने की परम्परा नहीं, पोस्टर पर फोटो विवाद पर भाजपा प्रभारी महा मंत्री धमकाने का कर रहे है कार्य

राजस्थान में कोरोना की दूसरी लहर कमजोर पड़ने के बाद राजस्थान की राजनीति में बयानबाजी शुरू हो गई। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने मंगलवार को भाजपा पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा के प्रभारी महामंत्री अरूण सिंह राजस्थान आकर चुने हुए प्रतिनिधियों को धमकाने का कार्य कर रहे हैं।

कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने कहा राजस्थान में धमकाने की परम्परा नहीं, पोस्टर पर फोटो विवाद पर भाजपा प्रभारी महा मंत्री धमकाने का कर रहे है कार्य

जयपुर।
राजस्थान में कोरोना की दूसरी लहर कमजोर पड़ने के बाद राजस्थान की राजनीति में बयानबाजी शुरू हो गई। कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा(PCC Chief Govind Singh Dotasra) ने मंगलवार को भाजपा पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि भाजपा के प्रभारी महामंत्री अरूण सिंह (BJP in-charge General Secretary Arun Singh) राजस्थान आकर चुने हुए प्रतिनिधियों को धमकाने का कार्य कर रहे हैं। राजस्थान में धमकाने की परम्परा नहीं है। पोस्टर पर किसकी फोटो लगेगी या नहीं लगेगी यह बात किसी को समझ नहीं आती है तो समझा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि इस तरह की भाषा का प्रयोग करना राजस्थान की परम्परा के विपरीत है तथा उचित नहीं है।


डोटासरा प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि भाजपा के नेता आज कह रहे हैं कि भाजपा की ओर से मुख्यमंत्री का कोई चेहरा नहीं होता जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के चेहरे पर ही चुनाव लड़े जाते हैं। इससे पूर्व 2013 के विधानसभा चुनावों में भाजपा अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने प्रदेशाध्यक्ष वसुंधरा राजे को मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित किया था। 2018 में तत्कालीन भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने वसुंधरा राजे को मुख्यमंत्री का चेहरा घोषित किया था लेकिन जब आब भाजपा में आपसी टकराव चरम पर है तथा भाजपा बिखराव की ओर है तो भाजपा नेता ऐसे बयान दे रहे है। 
भाजपा के प्रभारी महामंत्री तक कर रहे है तारीफ 
प्रदेशाध्यक्ष डोटासरा ने कहा कि कांग्रेस सरकार की कोरोना महामारी के दौरान बेहतरीन प्रबंधन की तारीफ भाजपा के प्रभारी महामंत्री अरूण सिंह भी कर रहे हैं। राजस्थान विधानसभा की तीन सीटों के लिए हुए उप चुनावों के परिणाम पर उन्होंने कहा है कि भाजपा का प्रबंधन सही नहीं था तथा राज्य में कांग्रेस सरकार के विरूद्ध कोई एंटी इनकमबैंसी नहीं था। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता प्रदेश में चलाए जा रहे वैक्सीनेशन कार्यक्रम का हिसाब मांग रहे हैं एवं उंगली उठा रहे हैं। 

Must Read: इस बार दिल्ली में भी नहीं जलेंगे पटाखे, गहलोत के बाद केजरीवाल ने भी किया यह ऐलान

पढें दिल्ली खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :