India में गणेशोत्सव का आगाज: गणेश चतुर्थी पर देशभर में सजा बप्पा का दरबार, मुंबई में लाल बाग के राजा की सामने आई तस्वीरें

आज से महाराष्ट्र सहित देशभर में गणेशोत्सव का शुभारंभ हो गया। देश के सबसे खास लाल बाग का राजा की तस्वीरें भी सामने आई है। वहीं कोरोना की तीसरी लहर से बचने के लिए पुलिस प्रशासन की और हिदायत दी गई, वहीं मुंबई में गणेश स्थापना से लेकर विसर्जन तक के लिए गाइड लाइन जारी की गई है।

गणेश चतुर्थी पर देशभर में सजा बप्पा का दरबार, मुंबई में लाल बाग के राजा की सामने आई तस्वीरें

जयपुर। 
आज से महाराष्ट्र(Maharashtra) सहित देशभर में गणेशोत्सव(Ganeshotsav) का शुभारंभ हो गया। देश के सबसे खास लाल बाग का राजा की तस्वीरें भी सामने आई है। वहीं कोरोना की तीसरी लहर से बचने के लिए पुलिस प्रशासन की और हिदायत दी गई, वहीं मुंबई में गणेश स्थापना से लेकर विसर्जन तक के लिए गाइड लाइन जारी की गई है।

कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के खतरे को देखते हुए पांडालों में आम लोगों की एंट्री को पूरी तरह से प्रतिबंधित किया गया है। हालांकि भक्तों के लिए गणेश पांडालों से लाइव दर्शन की व्यवस्था की गई है। प्रमुख सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर इसे देखा जा सकता है। गणेश चतुर्थी (Ganesh Chaturthi) से अगले ​दस दिन तक गणेशोत्सव की धूम रहेगी। प्रशासन ने मुंबई, पुणे सहित बड़े स्थानों पर लोगों के एकत्रित होने पर पाबंदी लगा दी है। वहीं स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे(Health Minister Rajesh Tope) ने लोगों से कोरोना महामारी से संबंधित दिशा—निर्देशों का पालन करने की अपील की है।

टोपे ने कहा कि हाल ही में केरल में ओणम पर्व के दौरान उमड़ी भीड़ के कारण वहां मरीजों की संख्या में इजाफा हुआ है। इसीलिए त्योहारी सीजन होने के कारण महाराष्ट्र सरकार भी एहतियातन कई कदम उठा रही है। हालांकि इस बीच महाराष्ट्र के घर—घर में गणेश स्थापना की गई। सीएम उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray)ने आवास पर गणेश स्थापना के बाद पूजा अर्चना की और प्रदेश में सुख शांति की कामना की। वहीं केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने भी गणेश स्थापना की।

मुंबई पुलिस ने जारी किया वीडियो संदेश
कोरोना के बीच गणेशोत्सव मनाने पर मुंबई के पुलिस आयुक्त हेमंत नगराले(Police Commissioner Hemant Nagrale) ने जनता के लिए एक वीडियो संदेश जारी किया है। वीडियो संदेश में नगराले ने गणेशोत्सव सादगी से मनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि 'गणपति पांडालों में कोविड के दोनों डोज लगाए हुए 5 लोगों को पूजा-अर्चना के लिए और गणपति विसर्जन के दौरान 10 लोगों को जाने की छूट दी गई है। पूजा पांडालों, भीड़भाड़ वाले सार्वजनिक स्थानों और अन्य जगहों पर सादी वर्दी और वर्दी में पुलिस मुस्तैद रहेगी।' उन्होंने चेतावनी दी कि कानून-व्यवस्था भंग करने या कोविड दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने पर दोषियों के खिलाफ धारा 188 (महामारी ऐक्ट) के तहत कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने बताया कि नियम पालन करवाने के लिए CCTV कैमरे एवं ड्रोन से गणेश पांडालों पर नजर रखी जा रही है। इसके साथ ही श्वान दस्ता, BDDS, QRT इत्यादि को अलर्ट मोड पर तैनात रखा गया है। 35 हजार से अधिक पुलिसकर्मियों को सुरक्षा व्यवस्था में तैनात किया गया है, जबकि 3 से 4 हजार अतिरिक्त पुलिस का इंतजाम किया गया है। पुलिस आयुक्तालय(Police Commissionerate) की ओर से सभी रीजन, जोन, पुलिस स्टेशन एवं सुरक्षा व्यवस्था से जुड़ी सभी एजेंसियों से बातचीत कर सुरक्षा व्यवस्था पुख्ता करने का आदेश दिया है। पुलिस प्रशासन(police administration) ने समुद्री तटों पर सागरी पुलिस और कोस्टल पुलिस की मदद से नजर रखने के निर्देश जारी किए है। वॉच टावर और टेलिस्कोप के जरिए समुद्र पर नजर रखी जा रही है। शहर में ड्रोन कैमरे (Drone Cameras) को उड़ाने पर पाबंदी लगा दी गई है। हालांकि, पुलिस के लिए राहत की बात यह है कि कोरोना दिशानिर्देश एवं धारा 144 लागू होने के कारण सड़कों पर पहले के गणेशोत्सव की तरह इस बार कम लोग दिखाई देंगे। इसके बावजूद मुंबई पुलिस अतिरिक्त सतर्कता बरत रही है। DCP एस चैतन्य ने बताया कि इस आदेश का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ IPC की धारा 188 के तहत कार्रवाई की जाएगी।

Must Read: झारखंड में संघर्षों की पथरीली जमीन पर उग रहीं स्टार फुटबॉलर बेटियां

पढें लाइफ स्टाइल खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :