Sirohi@ XEN पर आय से अधिक संपत्ति मामला: एसीबी ने आय से अधिक 334 प्रतिशत संपत्ति के मामले में पीडब्ल्यूडी एक्सईएन के 5 ठिकानों पर मारे छापे, शिक्षण संस्थाओं के साथ क्रेशर मशीन में किया निवेश

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो एसीबी की इंटेलिजेंस शाखा की सूचना के बाद गुरुवार को आय से अधिक संपत्ति मामले में आबूरोड में छापेमारी की गई। एसीबी की टीम ने आबू रोड के पांच ठिकानों पर छापे मारते हुए करोड़ों रुपए की चल व अचल संपत्ति के दस्तावेज सीज किए।

एसीबी ने आय से अधिक 334 प्रतिशत संपत्ति के मामले में पीडब्ल्यूडी एक्सईएन के 5 ठिकानों पर मारे छापे,  शिक्षण संस्थाओं के साथ क्रेशर मशीन में किया निवेश

जयपुर। 
भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो एसीबी की इंटेलिजेंस शाखा की सूचना के बाद गुरुवार को आय से अधिक संपत्ति मामले में आबूरोड में छापेमारी की गई। एसीबी की टीम ने आबू रोड के पांच ठिकानों पर छापे मारते हुए करोड़ों रुपए की चल व अचल संपत्ति के दस्तावेज सीज किए।  एसीबी अधिकारी नारायण सिंह राजपुरोहित के नेतृत्व में गठित टीमों ने पीडब्ल्यूडी के एक्सईएन रमेश बराड़ा के ठिकानों पर छापेमारी करते हुए दस्तावेज सीज किए।

एसीबी के डीजी बीएल सोनी ने बताया कि राजस्थान सरकार की भ्रष्टाचार विरोधी जीरो टोलरेंस नीति के चलते एसीबी लगातार कार्रवाई को अंजाम दे रही है। एसीबी की टीम ने इंटेलिजेंस शाखा की सूचना पर पीडब्ल्यूडी एक्सईएन रमेश चंद बराड़ जिनका हाल ही में डूंगरपुर स्थो ख्नांतरण किया गया। इन पर आय से अधिक संपत्तियां अर्जित करने के मामले में एसीबी ने केस दर्ज किया। जांच अधिकारी नारायण पुरोहित के नेतृत्व में पांच टीमों ने एक साथ पांच ठिकानों पर तलाशी शुरू की। एसीबी की प्राथमिक सूचना के मुताबिक रमेश चंद बराड़ा के पास करीबन 10.42 करोड़ रुपए की संपत्ति सामने आई है। यह संपत्ति उसकी आय से 334 प्रतिशत अधिक है।


माइनिंग और शिक्षण संस्थान में निवेश
एसीबी के मुताबिक बराड़ा ने आय से अधिक अवैध संपत्ति को क्रेशर माइनिंग के साथ शिक्षण संस्थान खोलने में लगा दी। इस कार्रवाई का सुपरविजन जोधपुर एसीबी के डीआईजी कैलाश विश्नोई के द्वारा किया गया। सोनी ने बताया कि एसीबी के अतिरिक्त महानिदेशक दिनेश एमएन के निर्देशन में आरोपी के आवास और अन्य ठिकानों की एसीबी के टीमों के द्वारा लगाता तलाश जारी है।

Must Read: सिलदर में 4.40 करोड से बन रहे सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का संयम लोढा ने किया शिलान्यास

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :