सिरोही विधायक का ऑक्सिजन प्लांट दौरा: कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच सिरोही विधायक ने सुमेरपुर के ऑक्सिजन प्लांट का किया दौरा, सीएम ने प्राथमिकता के आधार पर ऑक्सिजन उपलब्ध कराने के निर्देश

भारतीय रेलवे द्वारा चलाई जा रही दूसरी ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन आज झारखंड के बोकारो से उत्तर प्रदेश के लिए रवाना हो गई है। इस ट्रेन के शनिवार सुबह 10 बजे तक लखनऊ पहुंचने की उम्मीद है। कुछ ही दिनों में ऐसी और ट्रेनों का संचालन शुरू किए जाने की योजना है।

कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच सिरोही विधायक ने सुमेरपुर के ऑक्सिजन प्लांट का किया दौरा, सीएम ने प्राथमिकता के आधार पर ऑक्सिजन उपलब्ध कराने के निर्देश

जयपुर। 
राजस्थान सहित देशभर में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। ऐसे में मरीजों को फेफड़ों में संक्रमण बढ़ने के कारण ऑक्सिजन कमी देश में हो गई। वहीं केंद्र सरकार ने राज्यों में ऑक्सिजन की कमी को दूर करने के उद्देश्य से ऑक्सिजन एक्सप्रेस चलाई है, वहीं जनता के जनप्रति​निधि भी अस्पतालों में डिमांड को देखते हुए ऑक्सिजन की सप्लाई के लिए सरकार से निवेदन कर रहे है। जानकारी के अनुसार सिरोही विधायक संयम लोढ़ा ने शुक्रवार को पाली जिले के सुमेरपुर ऑक्सिजन प्लांट में दौरा किया। लोढ़ा ने बताया कि सिरोही को प्राथमिकता के आधार पर ऑक्सिजन उपलब्ध कराने के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दिशा निर्देश दिए है। इसी के चलते मैंने ऑक्सिजन प्लांट पर जाकर व्यवस्थाओ की जानकारी ली।

बोकारो से रवाना हुई ऑक्सिजन एक्सप्रेस


लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन (LMO) टैंकरों से भरी भारतीय रेलवे द्वारा चलाई जा रही दूसरी ऑक्सीजन एक्सप्रेस ट्रेन आज झारखंड के बोकारो से उत्तर प्रदेश के लिए रवाना हो गई है। इस ट्रेन के शनिवार सुबह 10 बजे तक लखनऊ पहुंचने की उम्मीद है। कुछ ही दिनों में ऐसी और ट्रेनों का संचालन शुरू किए जाने की योजना है। बोकारो स्टील प्लांट में करीब 4 घंटे के अंदर ऑक्सीजन एक्सप्रेस पर खड़े तीन टैंकरों में 50 टन ऑक्सीजन लोड किया गया। रेलवे ने फैसला किया है कि जल्द ही मध्यप्रदेश में भी ऑक्सीजन एक्सप्रेस चलाई जाएगी। यहां स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (SAIL) बोकारो और ओडिशा के राउरकेला प्लांट से ऑक्सीजन लाया जाएगा। बोकारो स्टील प्लांट में प्रतिदिन 100 टन से ज्यादा मेडिकल ऑक्सीजन का उत्पादन होता है। यहां से झारखंड के अलावा उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और मध्य प्रदेश के लिए ऑक्सीजन की सप्लाई होती है।
रेल मंत्री ने सोशल मीडिया पर किया ट्वीट


रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अपने सोशल मीडिया एकाउंट पर बताया कि उत्तर प्रदेश में ऑक्सीजन की सप्लाई के लिए बोकारो स्टील प्लांट से ऑक्सीजन एक्सप्रेस लखनऊ के लिए चल चुकी है। इसके जल्दी पहुंचने के लिए ग्रीन कॉरिडोर बनाया जा चुका है। राज्यों में ऑक्सीजन की तेजी से एवं समुचित सप्लाई के लिए रेलवे प्रतिबद्ध है और निरंतर कार्य कर रही है।” इससे पहले गुरुवार देर रात ऑक्सीजन टैंकरों से भरी पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस विशाखापट्टनम से महाराष्ट्र के लिए रवाना हुई थी। महाराष्ट्र में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं, यहां ऑक्सीजन की सबसे ज्यादा प्रोडक्शन के बाद भी कमी बनी हुई है। रेल मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि बोकारो से ऑक्सीजन से भरे टैंकरों को लेकर ऑक्सीजन स्पेशल ट्रेन आज दोपहर 1.50 बजे रवाना हुई। इसके शनिवार सुबह तक लखनऊ पहुंचने की संभावना है। ट्रेनों के माध्यम से ऑक्सीजन की ढुलाई लंबी दूरी के लिए सड़क मार्ग की तुलना में तेज है। ट्रेनें एक दिन में 24 घंटे तक चल सकती हैं लेकिन ट्रक के चालकों को आराम आदि की जरूरत होती है।​​​​​