Barmer @ पुलिस थाने में भी चोरों की सेंध: बाड़मेर के पचपदरा पुलिस थाने से अप्रैल में चोरी हुआ अवैध डोडा पोस्त, पुलिस ने 5 माह तक की खानापूर्ति, अब अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज

पचपदरा पुलिस ने चार जून और 23 अगस्त 2019 को कार्रवाई करते हुए 1058 किलो अवैध डोडा पोस्त जब्त किया था। इसके बाद डोडा पोस्त को पचपदरा पुलिस थाने के मालखाने में जमा कर दिया गया। चार्ज लिस्ट बनाने के दौरान डोडा पोस्त गायब होने की जानकारी मिली।

बाड़मेर के पचपदरा पुलिस थाने से अप्रैल में चोरी हुआ अवैध डोडा पोस्त, पुलिस ने 5 माह तक की खानापूर्ति, अब अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज

बाड़मेर।
राजस्थान पुलिस कभी अवैध शराब चोरी के मामले में तो कभी पुलिस थाने में बलात्कार जैसे कारनामों से आए दिन चर्चा में बनी रहती है। इस बार प्रदेश के बाड़मेर पुलिस के थाने में ही चोरी हो गई। इतना ही नहीं, चौंकाने वाली बात तो यह है कि पुलिस थाने के मालखाने की खिड़की तोड़कर चोर 1000 किलोग्राम से अधिक डोडा पोस्त चोरी कर के ले जाते है और पुलिस को इस बात का पता तक नहीं की चोरी कब हुई। इससे भी अधिक आश्चर्य की बात यह है कि बाड़मेर पुलिस 5 माह तक इस मामले को लेकर विभागीय जांच के नाम पर खानापूर्ति करती रही और करीब पांच माह बाद चोरी की रिपोर्ट दर्ज की गई। ऐसे में पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल खड़े हो गए। पुलिस के मुताबिक पचपदरा पुलिस ने चार जून और 23 अगस्त 2019 को कार्रवाई करते हुए 1058 किलो अवैध डोडा पोस्त जब्त किया था। इसके बाद डोडा पोस्त को पचपदरा पुलिस थाने के मालखाने में जमा कर दिया गया। इसके बाद में मालखाना इंचार्ज बदलते गए। इस साल अप्रैल 2021 में पचपदरा पुलिस हेड कांस्टेबल पदपपुरी को मालाखाना चार्ज दिया जाना था। इस दौरान चार्ज लिस्ट बनाने के दौरान डोडा पोस्त गायब होने की जानकारी मिली।


पुलिस जांच में टूटी मिली खिड़की
पुलिस थाने डोडा पोस्त चोरी की सूचना पर बालोतरा पुलिस ​एएसपी नितेश आर्य से विभागीय जांच करवाई गई। एएसपी ने जांचकर रिपोर्ट एसपी को सौंप दी। जांच में खिड़की तोड़ कर चोरी करने और मालखाना इंचार्ज की लापरवाही की बात सामने आई थी। इसके बाद भी पुलिस लगातार मामले का दबाती रही। अब पिछले कुछ दिनों से इस मामले की एफआईआर कॉपी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। इस मामले में डीएसपी धनफूल मीणा ने बताया कि अवैध डोडा पोस्त चोरी होने का मामला दर्ज किया गया है। इसकी जांच की जा रही है। इस संबंध में राज्य के और भी जिलों से डोडा पोस्त चोरी करने वाली गैंग की जानकारी जुटाई जा रही है। पचपदरा थानाधिकारी प्रदीप डागा ने 11 सितंबर को अज्ञात चोरों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है।
पुलिस का थाना और मालखाना, बावजूद पता नहीं कब ही चोरी
पचपदरा पुलिस की लापरवाही की हद तो देखो उन्हे पता ही नहीं की कब उनके पुलिस थाने से 1058 किलोग्राम अवैध डोडा पोस्त चोरी हो गया। मालखाने में चोरी हो गई पुलिस को भनक तक नहीं लगी। इस बात की सूचना लोगों में फैलने के बाद जिला पुलिस का मजाक बनाया जा रहा हैं। वहीं इस चोरी की रिपोर्ट 5 माह बाद क्यों दर्ज करवाई गई। बताया जा रहा है कि मालखाने में डोडा पोस्त जमा करने से लेकर अब तक चार इंचार्ज को बदल दिया गया।

Must Read: रानीवाड़ा क्षेत्र में ठेकेदार ने सड़कों की नहीं की मरम्मत, सार्वजनिक निर्माण विभाग ने जारी किया नोटिस, गारंटी अवधि में करनी थी सड़कों की मरम्मत

पढें राजस्थान खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :