केंद्र सरकार पर दीदी का पंच: केंद्र सरकार ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव बंधोपाध्याय को बुलाया था दिल्ली, दीदी ने बंधोपाध्याय को रिटायर कर बना ​लिया प्रमुख सलाहकार

केंद्र सरकार और पश्चिम बंगाल सरकार के बीच चल रहे टकराव अब सार्वजनिक रूप से सामने आ गया। बंगाल के मुख्य सचिव अलापन बंधोपाध्याय को केंद्र ने सोमवार सुबह ही दिल्ली बुलाया था, पर वो नहीं पहुंचे। इसके बाद केंद्र सरकार ने शाम करीब सवा पांच बजे अलापन को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया।

केंद्र सरकार ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव बंधोपाध्याय को बुलाया था दिल्ली, दीदी ने बंधोपाध्याय को रिटायर कर बना ​लिया प्रमुख  सलाहकार

नई दिल्ली।
केंद्र सरकार और पश्चिम बंगाल सरकार के बीच चल रहे टकराव अब सार्वजनिक रूप से सामने आ गया। बंगाल के मुख्य सचिव अलापन बंधोपाध्याय को केंद्र ने सोमवार सुबह ही दिल्ली बुलाया था, पर वो नहीं पहुंचे। इसके बाद केंद्र सरकार ने शाम करीब सवा पांच बजे अलापन को कारण बताओ नोटिस जारी कर दिया। इस पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने अलापन को मुख्य सचिव पद से रिटायर कर प्रमुख सलाहकार बना दिया। इसके साथ ही ममता ने एचके द्विवेदी को नया मुख्य सचिव और बीपी गोपालिका को नया गृह सचिव नियुक्त कर दिया। ममता ने कहा कि अलापन 31 मई को रिटायर हो रहे हैं और वे दिल्ली में जॉइन करने नहीं जा रहे हैं। उन्हें 3 साल के लिए मुख्य सलाहकार बनाया गया है। ममता के इस फैसले के बाद केंद्र भी कार्रवाई पर अड़ गया। सवा छह बजे केंद्र ने कहा- भले ही अलापन रिटायर हो रहे हों, लेकिन हम चार्जशीट भेजकर उन पर कार्रवाई करेंगे। इधर, सोमवार को अलापन हावड़ा की नाबन्ना बिल्डिंग पहुंचे। यहां उन्हें कोविड रिलीफ से जुड़ी एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में शामिल होना था। सुबह करीब 10.30 बजे हुई वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के बाद भी अलापन दिल्ली रवाना नहीं हुए। शाम होते-होते केंद्र का एक्शन भी साफ हो गया और उस पर ममता ने भी मास्टर स्ट्रोक चल दिया।
पीएम मीटिंग में देरी से पहुंचे थे सीएस
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 28 मई को बंगाल पहुंचे थे। वे यास तूफान से राज्य में हुए नुकसान का रिव्यू करने के लिए पहुंचे थे। इस मीटिंग में भी मुख्य सचिव अलापन बंधोपाध्याय देर से पहुंचे थे। जबकि ममता और बंधोपाध्याय उसी इमारत में मौजूद थे, जिसमें मोदी की मीटिंग चल रही थी। उनके देर से पहुंचने के बाद ही केंद्र ने उन्हें दिल्ली बुलाने का आदेश जारी कर दिया था।

Must Read: सहाड़ा से निर्दलीय चुनाव नामांकन भरने के बाद वापस लेने वाले पितलिया को स्वास्थ्य विभाग से मिला नोटिस्, अब नहीं कर पाएंगे चुनाव प्रचार

पढें राजनीति खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :