इकोनॉमी: आने वाले महीनों में लगभग 80 प्रतिशत एसएमई को अच्छे ऑर्डर की उम्मीद

आने वाले महीनों में लगभग 80 प्रतिशत एसएमई को अच्छे ऑर्डर की उम्मीद
Micro, Small and Medium Enterprises (MSMEs). (Photo: Facebook/@minmsme)
नई दिल्ली, 24 अगस्त। लगभग 80 प्रतिशत शॉर्ट और मध्यम उद्यम (एसएमई) इकाईयों को वर्ष की तीसरी तिमाही में अच्छे ऑर्डर मिलने की उम्मीद है।

एसोचैम-डन एंड ब्रैडस्ट्रीट के लेटेस्ट उद्योग सर्वेक्षण के अनुसार, सर्वेक्षण में भाग लेने वाले छोटे व्यवसाय 2022 के कैलेंडर वर्ष की तीसरी तिमाही में अपनी क्षमता उपयोग को 60 प्रतिशत तक बढ़ाने का इरादा रखते हैं, जो कि 2022 की दूसरी तिमाही में 55 प्रतिशत से अधिक है।

नए निवेश के संबंध में आशावाद कमोबेश बरकरार रहा, जिसमें 75 प्रतिशत एसएमई ने अपने निश्चित पूंजी निवेश में वृद्धि की आशंका जताई। सर्वेक्षण रिपोर्ट में कहा गया है कि यह दूसरी तिमाही में दर्ज 77 प्रतिशत से थोड़ा कम था, लेकिन मजबूत बना रहा।

आरबीआई मुद्रास्फीति पर लगाम कसने के लिए जहां मौद्रिक नीति को सख्त कर रहा है, वहीं एसएमई को ऋण की उपलब्धता के संबंध में कोई चिंता नहीं है। एसोचैम के महासचिव दीपक सूद ने कहा, अच्छी बात यह है कि लेटेस्ट आरबीआई क्रेडिट पॉलिसी स्टेटमेंट ने आश्वासन दिया है कि सिस्टम में पर्याप्त तरलता बनी रहेगी। उन्होंने उम्मीद जताई कि आगामी त्योहारी सीजन से पहले बैंक एसएमई की कार्यशील पूंजी की जरूरतों को पूरा करना जारी रखेंगे।

सूद ने कहा कि यह सुनिश्चित करना निजी और सार्वजनिक दोनों क्षेत्रों की बड़ी कंपनियों पर निर्भर है कि उनके एसएमई विक्रेताओं को समय पर भुगतान किया जाता है ताकि भुगतान और प्राप्ति चक्र सुचारू और निर्बाध बना रहे।

सूद ने कहा, यह एसएमई की कार्यशील पूंजी की आवश्यकताओं को समय पर पूरा करने के लिए महत्वपूर्ण है, खासकर जब विनिर्माण और सेवाओं दोनों में और विशेष रूप से एसएमई के लिए त्योहारी सीजन में तेजी से रिकवरी का वादा किया जाता है।

सर्वेक्षण के अनुसार, 79 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने अनुमान लगाया कि तीसरी तिमाही में ऋण की पहुंच सामान्य होगी, जो पिछली तिमाही से एक प्रतिशत अधिक है। यह हाल के महीनों में ब्याज दरों में वृद्धि और निकट भविष्य में इसे जारी रखने के बावजूद है।

एसकेके/एसकेपी

Must Read: पीसी के लिए गूगल प्ले गेम्स के फीचर्स का 5 देशों में विस्तार

पढें इकोनॉमी खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :