ट्विन टावर: सीबीआरआई उपकरण लगाकर 28 अगस्त तक नजारे को हर पल करेगा कैमरे में कैद

दरअसल, देश में कई ऐसे पुरानी शहर है जहां पर पुरानी बसावट को हटाकर नए तरीके से उसे विकसित करने का मंथन चल रहा है। इसके लिए काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। यही वजह है कि ट्विन टावर जैसी ऊंची इमारत को गिराने की प्रक्रिया का अध्ययन भविष्य के विकास के लिए काफी अहम साबित होगा।

सीबीआरआई उपकरण लगाकर 28 अगस्त तक नजारे को हर पल करेगा कैमरे में कैद
Supertech Twin Tower.

नोएडा, 24 अगस्त। सुपरटेक ट्विन टावर शुक्रवार तक अंतिम ब्लास्ट के लिए तैयार हो जाएगा। 3700 किलो विस्फोटक लगाने का काम पूरा हो चुका है। अब विस्फोट को को तार से जोड़ने का काम चल रहा है, अंतिम ब्लास्ट रविवार दोपहर 2:30 बजे होगा। सेंट्रल बिल्डिंग रिसर्च इंस्टिट्यूट (सीबीआरआई) 25 अगस्त से ट्विन टावर का अध्ययन करेगा। इस दौरान सीबीआरआई तैयारियों के अलावा अंतिम ब्लास्ट की पल पल की हलचल पर नजर रखेगा।

दरअसल, देश में कई ऐसे पुरानी शहर है जहां पर पुरानी बसावट को हटाकर नए तरीके से उसे विकसित करने का मंथन चल रहा है। इसके लिए काफी चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा। यही वजह है कि ट्विन टावर जैसी ऊंची इमारत को गिराने की प्रक्रिया का अध्ययन भविष्य के विकास के लिए काफी अहम साबित होगा।

सीबीआरआई की ओर से ड्रोन कैमरे, थर्मल सेंसर, आरजीवी कैमरे सहित कई उपकरण मौके पर लगाए जाएंगे। 25 अगस्त को सीबीआरआई काम शुरू कर देगा और 28 अगस्त तक पल पल को कैमरे में कैद कर हर प्वाइंट पर अध्यन किया जाएगा।

एडिफिस इंजीनियरिंग कंपनी की ओर से ट्विन टावर का मॉडल बनाकर कंप्यूटर पर ट्रायल किया गया है और हर पहलू का अध्ययन किया जा रहा है। 25 अगस्त को भी एक मॉक ड्रिल होगी, ताकि हर तरीके से सिक्योरिटी और अन्य साधनों को चेक कर लिया जाए।

Must Read: पोर्ट ब्‍लेयर हवाई अड्डे पर बनेगी नई टर्मिनल बिल्डिंग

पढें भारत खबरें, ताजा हिंदी समाचार (Latest Hindi News) के लिए डाउनलोड करें First Bharat App.

  • Follow us on :